Homeहरियाणाकरनालकरनाल में विवाहिता की मौत, ससुराल पक्ष पर जहर देकर मारने का...

करनाल में विवाहिता की मौत, ससुराल पक्ष पर जहर देकर मारने का आरोप

इशिका ठाकुर, करनाल:

करनाल के पाढ़ा गांव की एक विवाहिता की जहरीला पदार्थ खाने से संदिग्ध हालत में करनाल के एक प्राइवेट अस्पताल में वीरवार की सुबह लगभग 10:00 बजे मौत हो गई। परिजनों ने ससुराल पक्ष पर दहेज प्रताड़ना के चलते विवाहिता को जहर देने का आरोप लगाया है। विवाहिता की मौत की सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंच गई और शव को अपने कब्जे में ले लिया।

परिजनों ने पुलिस पर भी रिश्वतखोरी का आरोप लगाया

 

मौके पर पहुंची डायल 112 की टीम तथा सदर पुलिस चौकी इंचार्ज ने मामला शांत करवाने की कोशिश की तो गुस्साए परिजनों ने मौके पर पहुंची पुलिस पर भी मृतक महिला के परिजनों की अनदेखी करने तथा पक्षपात करने के आरोप लगाते हुए हंगामा किया। मृतक महिला नेहा के परिजनों ने मामले की जांच कर रही मूनक पुलिस पर भी रिश्वतखोरी का आरोप लगाया है। मुनक पुलिस ने विवाहिता को जहर देने के मामले में पहले ही आईपीसी की कई धाराओं के तहत ससुराल पक्ष पर मुकदमा दर्ज किया हुआ है।

जानकारी के अनुसार नीलोखेड़ी निवासी नेहा की शादी वर्ष 2017 में पाढ़ा निवासी रवि के साथ हुई थी। मृतक नेहा के परिजनों के आरोप है कि शादी के बाद ससुराल पक्ष उनकी बेटी को दहेज के लिए तंग व परेशान करते थे और विवाहिता से और अधिक दहेज लाने की मांग करते थे। इसके लिए विवाहिता को मानसिक व शारीरिक रूप से प्रताड़ित किया जाता था और उसके साथ नौकरानियों जैसा व्यवहार किया जाता था और विवाहिता को कई बार मारपीट कर घर से निकाल देते थे। परिजनों ने नेहा के ससुर पर भी गलत नियत रहने का आरोप लगाया है।

कई बार हो चुकी थी पंचायतें

परिजनों ने बताया कि इस बात पर चार-पांच बार पंचायतें भी हुई थी। पंचायतियों के समझाने बुझाने पर आरोपी विवाहिता को ससुराल में लेकर जाते थे और कुछ दिन तक सही रखने के बाद विवाहिता को दहेज के लिए फिर से तंग करना शुरू कर देते थे।

ननद ने डाल दिया मुह में जहर-परिजनों का आरोप है कि बीती 21 नवम्बर को आरोपियों ने सलाह बनाकर विवाहिता को पकड़ लिया विवाहिता की ननद ज्योति ने विवाहिता के मुंह में जहर डाल दिया। जिससे विवाहिता की हालत बिगड़ गई। उन्हें इसका तब पता चला जब उन्होंने अपनी लडकी का हाल चाल पूछने के लिए अपनी लडकी की ससुराल में फोन किया तो रवि ने फोन उठाया और उसने कहा कि हमने तुम्हारी लड़की को जहर दे दिया। तुमसे जो बनता हो कर लो तुम हमारा कुछ भी नहीं बिगाड़ सकते।

प्राइवेट अस्पताल में चल रहा था इलाज

सूचना के बाद नेहा के परिजन गांव पाढ़ा पहुंचे और अपनी लड़कीं को इलाज के लिए करनाल के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया। जिसने आज वीरवार को ईलाज के दौरान दम तोड़ दिया। जिसके बाद परिजनों का गुस्सा भड़क गया। उन्होंने पुलिस पर भी रिश्वत का आरोप लगा है।

पुलिस ने किया है ससुराल पक्ष पर मामला दर्ज

पुलिस ने मृतक विवाहिता की माँ सरोज की शिकायत के आधार पर पति रवि, ससुर कृष्ण लाल, सास कलावती, ननद ज्योति व देवर रोहित के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

ये भी पढ़े: जैव विविधता और वन्यजीवन भारतीय पर्यावरण को सशक्त बनाने में अहम: डॉक्टर दीपक राय

Connect With Us: Twitter Facebook
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular