Homeहरियाणाकरनालकरनाल के डाचर गांव में गुरुद्वारा राज करेगा खालसा में पंथक इक्ठ...

करनाल के डाचर गांव में गुरुद्वारा राज करेगा खालसा में पंथक इक्ठ मैं भारी संख्या में पहुंचे लोग

इशिका ठाकुर, करनाल:

करनाल के डाचर गांव में गुरुद्वारा राज करेगा खालसा में पंथक इक्ठ मैं भारी संख्या में पहुंचे लोग। एसकेएम के भी कई नेताओं ने की शिरकत। नेताओं का कहना था कि पिछले 32 सालों से जेलों में बंद लोगों की रिहाई के लिए यह इक्ठ बुलाया गया है और उसमें काफी संख्या में लोग पहुंचे किसान नेता बलदेव सिंह सिरसा ने कहा कि आज गांव डाचर में भारी संख्या में लोग पहुंचे हैं और इन लोगों का एक ही मकसद है। जो लोग अपनी सजा पूरी कर के भी जेलों में बंद है। उनको रिहा करने के लिए आंदोलन चलाया जाएगा। चाहे वह किसी भी जात बिरादरी से हो सभी कि हम इस आंदोलन में मांग करेंगे।

जेलों में बंद लोगो की रिहाई के लिए आंदोलन

हरियाणा में जाट आंदोलन के दौरान जो लोग जेलों में बंद हैं या किसी और मोमेंट के दौरान जेलों में बंद है। सभी की रिहाई के लिए हम यह आंदोलन चलाएंगे और आने वाले 17 सितंबर को एक रोष मार्च डाचर से शुरू होगा और कई गांव से होता हुआ असंध से करनाल पहुंचेगा। इस रोष मार्च में भारी संख्या में लोग शामिल होंगे और उसको लेकर हम लोगों को जागृत कर रहे हैं ।

वही किसान नेता बलदेव सिंह सिरसा ने कहा कि संयुक्त मोर्चा के नॉन पॉलिटिकल जितने भी संगठन है सभी ने इसका समर्थन किया है और सभी आगे आ रहे हैं। वही सरकार ने किसानों की जो मांगे मानी थी। वह भी पूरी नहीं की उस को लेकर भी आगे आंदोलन चलाना पड़ेगा और हमारा आंदोलन लगातार जारी है।

बाबा गुरमीत सिंह ने कहा कि आने वाली 17 सितंबर को डाचर गांव से एक रोष मार्च निकाला जाएगा । जो लोगों को जागृत करेगा और जो लोग अपनी सजा पूरी कर चुके हैं । उनकी रिहाई के लिए यह रोष मार्च निकाला जाएगा।

सजा पूरी कर चुके कैदियों की रिहाई की मांग.. सिख समाज ने की पंथक इकठा
केंद्र सरकार पर लगाया आरोप..32-32 सालों से जेलों में क्यों रखा जा रहा।

करनाल के गांव डाचर में पंथक इक्ठ का आयोजन किया गया। जिसमें लोगों ने मांग कि जो कैदी सजा पूरी कर चुके है, उन्हें रिहा किया जाए। 30-32 सालों से जेलों में रखा हुआ है। ऐसा नहीं होना चाहिए। सरकार से मांग है कि जो कैदी सजा पूरी कर चूके है, उन्हें तुरंत रिहा किया जाए।

गुरु नानक देव के 550 वे गुरु उत्सव पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सजा पूरी कर चुके कैदियों को रिहा करने का ऐलान किया था, लेकिन ऐलान सिर्फ ऐलान बनकर रह गया। SKM के नेता बलदेव सिंह सिरसा ने प्रधानमंत्री मोदी पर बरसते हुए कहा कि सरकार के दिमाग में फितूर है, इनकी हमेशा से नीति रही है कि फूट डालो और राज करो।

मानवता की बात करने वाले हो रहे एकत्रित

उन्होंने कहा कि जो लोग देश में मानवता की बात करने वाले है, सभी एकत्रित हो रहे है। क्योंकि सजा पूरी करने वाले कैदी केवल सिख धर्म के नहीं है बल्कि पूरे देश के सभी धर्मों से है। इसलिए मानवता की बात करने वाले एकत्रित हो रहे है। केंद्रीय मंत्री पर भड़कते हुए सिख नेता ने कहा कि जिस मंत्री के पास 30-32 साल की सजा पूरी कर चुके कैदियों की लिस्ट नहीं तो उसे केंद्रीय मंत्री जैसे समानित पद पर रहने का कोई अधिकार नहीं।

ये भी पढ़ें : मदरसों को भी जोड़ा जाए मुख्यधारा की शिक्षा व्यवस्था से : मौलाना रहमान

ये भी पढ़ें : आर्ट ऑफ लिविंग संस्था कैथल द्वारा धूमधाम से किया गया भगवान श्री गणेश प्रतिमा का विसर्जन

Connect With Us: Twitter Facebook
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular