Homeहरियाणापानीपतइंडिया न्यूज के मंच पर जुटी नारी शक्ति, महिला सुरक्षा की स्थिति...

इंडिया न्यूज के मंच पर जुटी नारी शक्ति, महिला सुरक्षा की स्थिति के बारे सांसद Sunita Duggal से अहम बातचीत

आज समाज डिजिटल, पानीपत (समालखा) | Sunita Duggal : पानीपत के समालखा में आज इंडिया न्यूज पर ‘हम महिलाएं’ कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें कई महिलाएं मंच पर पहुंचीं। इस दौरान महिला सुरक्षा की स्थिति के बारे में भाजपा सांसद सुनीता दुग्गल से कई अहम मुद्दों पर चर्चा की गई। इंडिया न्यूज एंकर द्वारा सुनीता दुग्गल से पूछा गया कि आप एक अभियान महिलाओं के लिए चलाना चाहती थी तो उस बारे में सुनीता ने बताया कि वैसे तो कई कॉलेजों, स्कूलों, एडमिनिस्ट्रेशन मुझे गर्ल्स स्टूडेंट को इन्सपायर करने के लिए बुलाते हैं। इस दौरान मुझे भी उनके साथ मिलकर काफी अच्छा लगता है। वहीं उनका यह प्रयास है कि बच्चे नशे से बचें, नशे से हमेशा दूर रहें।

विद्यार्थियों पर पीयर प्रेशर भी : Sunita Duggal

दुग्गल ने कहा कि स्कूल कॉलेज में पढ़ने वाले बच्चों की वह उम्र होती है जब पीयर प्रेशर भी बहुत रहता है। पीयर प्रेशर के कारण भी कई बच्चे न चाहते हुए भी गलत रास्ते पर चल पड़ते हैं। इसलिए मुझे ऐसा लगता है कि उन्हें थोड़ा समझाने और बताने की जरूरत है। उन्होंने प्रेरित करते हुए कहा कि किसी में ऐसी ताकत नहीं होनी चाहिए जो आपको बदल सके या आपको हिला सके। इस तरह की मोटिवेशनल बातें स्कूल-कॉलेजों में शुरू से ही बतानी चाहिए कि हमेशा नशें से दूर रहें और हमारी बेटियां भी आगे बढ़ें।

टेक्नोलॉजी के प्रभाव के बारे में क्या कहेंगी

फोन, सोशल मीडिया, टेक्नोलॉजी के प्रभाव के बारे में बताते हुए सुनीता दुग्गल कहती हैं कि मुझे लगता है कि इसका प्रभाव बहुत ज्यादा पड़ता नजर आ रहा है लेकिन इस सबके बीच ही यह हम पर निर्भर करता है कि हमें जो टेक्नोलॉजी मिली है, उसका इस्तेमाल हम कैसे करते हैं। इसका प्रयोग हम नेगेटिव वे में प्रयोग करते हैं या पॉजिटिव वे में।

सुनीता दुग्गल ने कॉलेज के दिनों को याद किया

सांसद दुग्गल ने टीचर सागर मैडम के बारे में बातचीत करते हुए कहा कि उनकी कैंसर के कारण मृत्यु हो गई थी। उनके साथ कॉलेज में माहौल ऐसा रहता था कि हमें ऐसा बिल्कुल भी नहीं लगता था कि हम कॉलेज में आए हैं। हमें एक परिवार जैसा माहौल मिलता था। मैं उन्हें हमेशा काफी शिद्दत के साथ याद करती हूं।

वहीं एक अन्य मैडम की चर्चा भी की जिनका नाम दुग्गल था। कॉलेज के बाद मेरी शादी दुग्गल परिवार में ही हो गई तो कई फ्रेंड्स कहने लगीं कि ऐसा क्या मैडम का प्रभाव पड़ा कि आपने दुग्गल परिवार में ही शादी कर ली। मुझे अपने ही कॉलेज में सांसद सदस्य के रूप में चीफ गेस्ट के रूप में आने का भी मौका मिला, जिसका अनुभव अलग ही रहा। इस दौरान कुछ टीचर्स भी मिले जोकि काफी बुजुर्ग भी हो चुके हैं, उनके साथ मिलकर काफी अच्छा लगा।

सोशल मीडिया पर लड़कियों पर फब्तियां कसी जाती हैं तो क्या करें

वहीं इस दौरान कुछ छात्राओं ने सांसद सुनीता दुग्गल से सवाल-जवाब भी किए जिनका उन्होंने बड़े ही अच्छे तरीके से जवाब दिए। एक छात्रा ने कहा कि सोशल मीडिया जैसे इंस्टाग्राम-फेसबुक पर कई बार लड़कियों के बारे में गलत पोस्ट और कमेंट किए जाते हैं तो क्या करें। इस बारे में सुनीता दुग्गल ने कहा कि इस तरह के जो गलत पोस्ट और कमेंट करते हैं तो इसमें तुम्हारी कोई गलती नहीं है, बल्कि ये उनकी मानसिकता दर्शाती है।

उनके संस्कार दिखते हैं कि उनके माता-पिता ने उन्हें अच्छे संस्कार नहीं दिए। इस तरह की पोस्ट से लड़कियों को किसी भी तरह की घबराने की जरूरत नहीं है, क्योंकि तुम अगर अपने स्तर पर ठीक हो तो कोई कितना भी तुम्हारे लिए लिखता रहे, बकवास करता रहे, तुम्हे बिल्कुल भी चिंता करने की जरूरत नहीं है। वहीं उन्होंने यह भी कहा कि कुछ प्रतिशत महिलाएं भी स्वयं कसूरवार रहती हैं जो स्वयं ही सोशल मीडिया पर लाइक और शेयर पाने के लिए उल-जलूल बात करती हैं। मुझे लगता है कि इस तरह की उल-जलूल बातें करने पर अंकुश लगना चाहिए।

किसी छात्रा को राजनीति में आना हो तो क्या करे

कार्यक्रम में एक छात्रा ने यह प्रश्न भी रखा कि अगर किसी छात्रा को राजनीति में आना हो तो क्या करे तो इस पर सुनीता दुग्गल ने कहा कि अगर आपके मन में किसी के लिए सच्ची सेवा का भाव है और आपका एजेंडा सही है तो आप कई तरह से समाज सेवा कर सकती हैं। अब जैसे भारतीय जनता पार्टी को ही ले लीजिए। यहां भी सेवा के लिए कई विंग हैं जैसे डॉक्टर विंग, एडवोकेट विंग, स्टूडेंट्स विंग।

ये भी पढ़ें : इंडिया न्यूज हरियाणा के मंच से बोलीं Babita Tyagi, आज युवा पीढ़ी को दिशा दिखाने वालों की कमी

ये भी पढ़ें : CM Manohar Lal 36 बिरादरी को साथ लेकर सरकार चला रहे : कार्तिक शर्मा

ये भी पढ़ें : अंतर्राष्ट्रीय गीता महोत्सव से कुरुक्षेत्र को मिल रही है अब शिल्प और लोक कला केंद्र के रूप में पहचान

Connect With Us: Twitter Facebook
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular