Solid Waste Management Plant : निगमायुक्त अभिषेक मीणा ने ठोस अपशिष्ट प्रबंधन संयंत्र का किया औचक निरीक्षण

0
134
नगर निगम आयुक्त अभिषेक मीणा
नगर निगम आयुक्त अभिषेक मीणा
  • सैग्रीगेटिड वेस्ट को प्लांट में अलग से प्रोसेस करने के दिए निर्देश

Aaj Samaj (आज समाज), Solid Waste Management Plant, प्रवीण वालिया, करनाल 22 सितंबर :
नगर निगम आयुक्त अभिषेक मीणा ने गुरूवार को शेखपुरा स्थित सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट यानि ठोस अपशिष्टï प्रबंधन संयंत्र का औचक निरीक्षण किया और वहां मौजूद सुगम स्वच्छता एजेंसी के प्रतिनिधि से वेस्ट प्रोसेसिंग की जानकारी ली। उन्होंने एम.आर.एफ. सेंटर, 100 एम.एम., 35, 16 व 4 एम.एम. ट्रोमल मशीनो व कम्पोस्टिंग सैक्शन के साथ-साथ लिचेट ट्रीटमेंट टैंक व सैंटीफिक लैंड फिल साईट का निरीक्षण किया। वेस्ट की प्रोसेसिंग के लिए लगी ट्रोमल मशीनों की कारगुजारी देखी।

उन्होंने एजेंसी प्रतिनिधि को निर्देश दिए कि जिन वार्डों से गीला व सूखा कचरा अलग-अलग आता है, उसके गीले कचरे को प्लांट में अलग से प्रोसेस करें, मिक्सड कचरे में नहीं मिलना चाहिए। प्लांट की व्यवस्था को देखकर निगमायुक्त थोड़े असंतुष्टï हुए और एजेंसी प्रतिनिधि को इसमें सुधार लाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि प्लांट की बेहतर कार्यप्रणाली को लेकर जो भी निर्देश दिए जाते हैं, उस पर तुरंत संज्ञान लेकर कार्रवाई करें। उन्होंने प्लांट चलाने के घंटे बढ़ाकर कचरा निस्तारण में तेजी लाने के लिए भी कहा। इसके पश्चात निगमायुक्त ने ताऊ देवी लाल चौक पर स्थापित ट्रांसफर स्टेशन का निरीक्षण किया।

उन्होंने निर्देश दिए कि स्टेशन पर कूड़ा बिल्कुल भी पड़ा दिखाई नहीं देना चाहिए। टिप्पर से सीधा रिफ्यूज कम्पैक्टर या ट्रालियों में लिफ्ट कर उसे प्लांट तक पहुंचाया जाए। उन्होंने कहा कि यह आवासीय क्षेत्र है, कूड़े-कर्कट की बदबू बाहर बिल्कुल नहीं जानी चाहिए। इसके लिए पेड़-पौधे लगाएं और इसे चारों ओर से कवर करें। उन्होंने ट्रांसफर स्टेशन की हालत दुरूस्त करने के एजेंसी को निर्देश दिए, कहा कि यहां जो-जो कार्य करवाए जाने हैं, जल्द उसका प्लान तैयार करें।

वार्ड 10 की साफ-सफाई- दौरे में निगमायुक्त ने स्वच्छता ही सेवा कार्यक्रम के तहत वार्डों में चल रही विशेष साफ-सफाई अभियान का भी निरीक्षण किया। इस दौरान वार्ड पार्षद वीर विक्रम कुमार भी मौजूद रहे। निगमायुक्त ने सैक्टर-13 मार्किट, कालड़ा मार्किट, आंतरिक व मुख्य मार्गों का निरीक्षण कर वहां की साफ-सफाई चैक की। उन्होंने सफाई निरीक्षक मनदीप सिंह को निर्देश दिए कि अपने जोन में हर वार्ड में सघन सफाई अभियान चलाएं। जो भी वार्ड पकड़े उसके चकाचक करके ही बाहर निकलें, सफाई से वंचित कोई गली-मौहल्ला नहीं छूटना चाहिए। उन्होंने सफाई के दौरान हर तरह का वेस्ट उठाया जाए। सी. एंड डी. व ग्रीन वेस्ट को जरूर उठाया जाए। उन्होंने मार्किट परिसर में घूमकर वहां की सफाई देखी व शौचालय को भी देखा। उन्होंने कहा कि दुकानदारों को अपने आगे सफाई रखने को कहें, जो न माने तो उसका चालान करें और जो दुकानदार अपनी हद से आगे सामान रखते मिले, तो उसका सामान भी जब्त कर लिया जाए।

निगमायुक्त ने सफाई कर्मियों से भी बातचीत की और उनका हाल-चाल जाना। उन्होंने कहा कि सडक़ों की सफाई के अतिरिक्त फुटपाथ पर उगी घास को भी काटा जाए, ताकि वह साफ-सुथरे दिखाई दें। फुटपाथ पर खड़े रेहड़ी वालों को डस्टबिन रखने को कहें, जो न माने तो उसका चालान करें। उन्होंने कहा कि छोटे-छाटे प्रयासों से ही शहर की सफाई व्यवस्था में इजाफा किया जा सकता है। इस दौरान उन्होंने सैक्टर-6 स्थित पार्क नम्बर-8 का औचक निरीक्षण किया और वहां सफाई में लगे एजेंसी के कर्मियों की हाजिरी ली। पार्क में मौजूद ओपन एयर जिम को भी देखा। उन्होंने एस.आई. को निर्देश दिए कि उनके जोन में पडऩे वाले पार्कों की भी विजिट कर उनकी साफ-सफाई जांचे, कहीं खामी मिले तो कार्यकारी अभियंता को उसकी रिपोर्ट करें। उन्होंने सफाई निरीक्षकों, सुपरवाईजर, दरौगा व सफाई कर्मियों को सम्पूर्ण स्वच्छता पर फोकस रखने को कहा।

वेस्ट टू एनर्जी प्लांट का किया निरीक्षण-

दौरे में निगमायुक्त ने स्लाटर हाऊस स्थित वेस्ट टू एनर्जी प्लांट का भी निरीक्षण किया और इसे चला रही एजेंसी प्रतिनिधि से बातकर इसकी जानकारी ली। उन्होंने निर्देश दिए कि प्लांट को अच्छे से चलाकर ज्यादा ऊर्जा उत्पादन करें। प्लांट में गोबर व गीले वेस्ट की मात्रा बढ़ाने के भी सफाई निरीक्षकों को उन्होंने निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि प्लांट की आउटपुट दिखनी चाहिए।

जोन 3 के पार्कों का लिया जायजा-

दौरे में निगमायुक्त ने जोन के वार्ड नम्बर 18 व 19 में मौजूद स्वामी विवेकानंद पार्क, आदर्श पार्क व कश्मीरा सिंह पार्क का भी निरीक्षण किया और इनकी साफ-सफाई को देखकर उन्होंने नाराजगी जताई। उन्होंने बागवानी के कार्यकारी अभियंता नरेश त्यागी को निर्देश दिए कि इस कार्य को देख रही एजेंसी, खालसा कॉप्रेटिव सोसाईटी पर पैनल्टी लगाएं। उन्होंने एजेंसी को चेतावनी देते कहा कि आगामी विजिट में इस तरह की खामी पाई गई तो उनके वर्क ऑर्डर को रद्द कर दिया जाए। निगमायुक्त ने सम्बंधित जे.ई. व एक्सईएन को भी निर्देश दिए कि वह रेगूलर साईट विजिट कर पार्कों की साफ-सफाई चैक करें।

जरूरत अनुसार सफाई कर्मी पूरे नहीं मिलें तो उसकी एजंसी पर पैनल्टी लगाएं। उन्होंने कहा कि शहर के सभी पार्क वेल मेन्टेन रहने चाहिएं, खामी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। मौके पर मौजूद सफाई निरीक्षक ऊषा रानी को उन्होंने निर्देश दिए कि पूरे जोन की बेहतर साफ-सफाई करवाएं। इसके अतिरिक्त पश्चिमी यमुना नहर किनारे बने पार्कों की साफ-सफाई भी सुनिश्चित करें। वहां मौजूद शौचालय भी साफ-सुथरे बने रहें, सुनिश्चित किया जाए। निगमायुक्त के दौरे में उप निगम आयुक्त विनोद नेहरा, कार्यकारी अभियंता प्रियंका सैनी, मुख्य सफाई निरीक्षक सुरेन्द्र चौपड़ा तथा कनिष्ठï अभियंता दीपक यादव व संदीप ढींगडा मौजूद रहे।

यह भी पढ़े  : Drug Free Haryana : सांस्कृतिक संध्या में कलाकारों ने रागिनियों, नृत्य व लघु नाटिका के माध्यम से जगाई ड्रग फ्री हरियाणा की अलख

यह भी पढ़े  : Jan Shiksha Adhikar Manch : 28 सितंबर को भाजपा कार्यालय कैथल पर विशाल प्रर्दशन करेगा जन शिक्षा अधिकार मंच व अन्य संगठन

Connect With Us: Twitter Facebook

SHARE