Several issues including law and order in West Bengal were raised in the Lok Sabha: पश्चिम बंगाल में कानून व्यवस्था सहित कई मुद्दे लोकसभा में उठे

0
393

नयी दिल्ली।  लोकसभा में शून्यकाल के दौरान मंगलवार को सदस्यों ने पश्चिम बंगाल में कानून-व्यवस्था की स्थिति सहित कई मुद्दे उठाए। भाजपा के दिलीप घोष ने पश्चिम बंगाल में कानून-व्यवस्था की स्थिति का मुद्दा उठाते हुए कहा कि बैरकपुर से पार्टी के सांसद अर्जुन सिंह पर कई बार हमला किया गया है। चुनाव के समय से भाजपा के कई नेताओं पर हमले हो चुके हैं। पार्टी के कार्यकर्ताओं को गांजा रखने के फर्जी मामलों में जेल में बंद किया जा रहा है। घोष ने आरोप लगाया कि पश्चिम बंगाल की सरकार और वहां की पुलिस की ओर से से यह सब किया जा रहा है। इस पर तृणमूल कांग्रेस के सदस्यों ने विरोध किया तो भाजपा के सदस्यों के साथ उनकी नोकझोंक हुई। भाजपा की लॉकेट चटर्जी ने पश्चिम बंगाल में स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र में ‘कट मनी’ का आरोप लगाया। सदन में तृणमूल कांग्रेस के नेता सुदीप बंदोपाध्याय ने कहा कि लोकसभा में राज्यों से जुड़े विषय खासकर कानून-व्यवस्था के विषय उठाए जा रहे हैं। ऐसा नहीं होना चाहिए। इस पर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा कि सदस्य केंद्र सरकार और देश से जुड़े मुद्दे उठाएं।

नेशनल कांफ्रेंस के हसनैन मसूदी ने कहा कि अमरनाथ यात्रा शुरू हो गई है और कश्मीर के लोगों ने इसका स्वागत किया है। इसके लिए सुरक्षा मुहैया कराया जाना उचित है, लेकिन यह भी ध्यान में रखा जाना चाहिए कि स्थानीय लोगों का कारोबार प्रभावित नहीं हो। उन्होंने किश्तवाड़ में हुए सड़क हादसे का भी मुद्दा उठाया और कहा कि जम्मू-कश्मीर में सड़कों की स्थिति में सुधार किया जाना चाहिए। कांग्रेस के अमर सिंह ने मांग की कि पंजाब के फतेहगढ़ साहिब को अंतरराष्ट्रीय टूरिस्ट सर्किट में शामिल किया जाए। भाजपा के रमेश बिधूड़ी ने कहा कि दिल्ली में वर्षों पहले भूमिहीन लोगों को भूखंड देने की बात की गई, लेकिन आज भी लोग इंतजार कर रहे हैं। कांग्रेस के कार्ति चिदंबरम और गुरजीत सिंह, भाजपा के गजानन कीर्तिकर, नलिन कुमार कटील, रेखा वर्मा, सुनील सूरी, रीति पाठक और कई अन्य सदस्यों ने अपने-अपने क्षेत्रों के मुद्दे उठाए।

SHARE