PM Modi Elections Rallies: मध्यप्रदेश और राजस्थान में विपक्ष पर जमकर बरसे पीएम मोदी

0
133
PM Modi Elections Rallies
राजस्थान के उदयपुर में चुनावी रैली को संबोधित करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी।

Aaj Samaj (आज समाज), PM Modi Elections Rallies, भोपाल/जयपुर: मध्यप्रदेश और राजस्थान में होने वाले विधानसभा चुनावों के मद्देनजर सत्ता पक्ष और विपक्षी दलों की ताबड़तोड़ रैलियां लगातार जारी हैं। सभी चुनाव प्रचार में अपनी पूरी ताकत झोंक रखे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी लगातार जनसभाएं करके बीजेपी के फिर सत्ता हासिल करने का दावा कर रहे हैं। गुरुवार को पीएम ने मध्यप्रदेश और राजस्थान में चुनावी रैलियां कीं। दोनों राज्यों में इसी महीने मतदान होना है। मध्यप्रदेश के सतना और फिर छतरपुर जनसभाओं में पीएम ने कांग्रेस पर जमकर प्रहार किया। राजस्थान के उदयपुर में भी उन्होंने चुनावी रैली को संबोधित किया।

  • मध्यप्रदेश और राजस्थान में 17 और 25 नवंबर को होगा मतदान

मध्य प्रदेश को अपसेट करने में लगे हैं कांग्रेस नेता

पीएम ने सतना में लोगों से कहा, मध्यप्रदेश में कांग्रेस ने आपके सामने दो ऐसे नेता खड़े किए हैं, जो कई दशकों से मध्य प्रदेश कांग्रेस को चलाते हैं। आजकल वे दोनों एक दूसरे के कपड़े फाड़ रहे हैं। यही नेता एमपी को दशकों तक अभाव में रखने के लिए जिम्मेदार हैं। सभा में मौजूद लोगों से मोदी ने कहा, ये आपके बेहतर भविष्य का भरोसा नहीं दे सकते। इनका तो अभी बस एक ही एजेंडा है कि 3 दिसंबर को भाजपा से हारने के बाद मध्य प्रदेश कांग्रेस पर किसका बेटा कब्जा करेगा! अपने बेटों को सेट करने के लिए वह पूरे मध्य प्रदेश को अपसेट करने में लगे हैं। छतरपुर में पीएम मोदी ने अपने भाषण की शुुरुआत क्षेत्र के लोगों से उनका आशीर्वाद मांगने के साथ की। उन्होंने कहा कि छतरपुर की जनता का उत्साह देखकर लग रहा है कि मध्यप्रदेश में भाजपा जीत का नया रिकॉर्ड बनाने जा रही है।

छतरपुर की मिट्टी को किया प्रणाम

छतरपुर की मिट्टी को प्रणाम करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, हम वो लोग हैं, जो भारत की माटी का ये चंदन माथे पर लगाकर गर्व से भर जाते हैं। फौलाद से भरी हुई बुंदेलखंड की मिट्टी में भी हमें यही प्रेरणा, यही शिक्षा, यही सामर्थ्य का संदेश मिलता है, लेकिन कांग्रेस ने न इस मिट्टी की ताकत समझी और न ही उसने देश की आन-बान-शान बढ़ाने का काम किया। गुलामी की मानसिकता से भरी हुई इस विपक्षी पार्टी को न कभी देश का विकास समझ आया और न ही देश की विरासत से उसे कोई लेना-देना रहा।

कांग्रेस के लिए स्वार्थ सर्वोपरि

कांग्रेस पर तंज कसते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस की सरकार के लिए तो पूरा देश दिल्ली में ही खत्म हो जाता था। उनके लिए देश नहीं अपना स्वार्थ सर्वोपरि है। योजनाएं घोषित होती थी दिल्ली में, बड़े विदेशी नेता आते थे दिल्ली में, बड़े कार्यक्रम होते थे दिल्ली में। उन्होंने कहा, कांग्रेस के नेता जिन झुग्गियों में फोटो खिंचाकर लौट आते थे, आज मोदी उन्हीं झुग्गियों में रहने वाले मेरे गरीब भाई-बहनों के लिए पक्के घर बनवा रहा है। बता दें कि मध्य प्रदेश की 240 विधानसभा सीटों पर 17 नवंबर और राजस्थान 200 की विधानसभा सीटों के लिए वोटिंग 25 नवंबर को होनी है। 3 दिसंबर परिणाम घोषित किए जाएंगे।

राजस्थान : मेवाड़-वागड़ संभाग को साधने का प्रयास

पीएम मोदी ने राजस्थान में होने वाले चुनाव से पहले एक बार फिर उदयपुर जिले में जनसभा कर मेवाड़-वागड़ संभाग की जनता को साधने का प्रयास किया है। इस संभाग में 28 विधानसभा सीटें हैं। 2018 के चुनाव में 28 में से बीजेपी ने 15 सीटों पर जीत दर्ज की थी। 10 सीटों पर कांग्रेस और 3 पर अन्य को जीत मिली थी। दो अक्टूबर को मोदी मेवाड़-वागड़ संभाग के चित्तौड़गढ़ जिले के दौरे पर आए थे। उदयपुर समेत इस संभाग में डूंगरपुर, बांसवाड़ा, चितौड़गढ़, राजसमंद और प्रतापगढ़ जिले आते हैं।

मुद्दों व जाति के आधार चुनाव लड़ रहे दल

राजस्थान में विधानसभा चुनाव में पार्टियां दो स्तर पर चुनाव लड़ रहीं हैं। एक मुद्दों के आधार पर, तो दूसरा जाति पर। अधिकतर राजनीतिक दल जातिगत समीकरण को देखते हुए ही चुनावी मैदान में ताल ठोक रहे हैं। दरअसल, राजस्थान में जाति फैक्टर बहुत बड़ा है और यह कई सीटों पर नतीजों को प्रभावित करता है। बीजेपी हो या कांग्रेस, दोनों ही दलों ने टिकट देते वक्त जातिगत समीकरण का काफी ध्यान रखा है। जिस सीट पर जिस पार्टी का उम्मीदवार है, वहां उसी वर्ग के उम्मीदवार को तवज्जो दी गई है।

यह भी पढ़ें :

Connect With Us: Twitter Facebook

SHARE