Narayan Seva Sansthan : दुःख के बिना सुखानुभूति भी नहीं

0
140
नारायण सेवा संस्थान
नारायण सेवा संस्थान

Aaj Samaj (आज समाज), Narayan Seva Sansthan, उदयपुर, 5 जून:
नारायण सेवा संस्थान में दिव्यांगजन के साथ ‘अपनों से अपनी बात ’ संवाद परक कार्यक्रम के अंतिम दिन संस्थान अध्यक्ष प्रशान्त अग्रवाल ने कहा कि दुःख को दुर्भाग्य न माने। दुःख-सुख तो जीवन का क्रम है, जो चलता रहता हैं।

दुःख को जिसने अपनी जीवनी शक्ति बना लिया वह कभी हार नहीं सकता । दुःख और मुश्किलें ही तो सफलता का मार्ग बनती है। उन्होंने कहा कि दुःख से ही सुख की अनुभूति होगी।

कार्यक्रम में दिव्यांगजन ने अपने संघर्ष, समस्याओं और भविष्य को लेकर उनसे संवाद किया और परामर्श प्राप्त किया।

यह भी पढ़ें : Srikrishna School Mahendragarh ने बॉक्सिंग में जीते छः गोल्ड व दो सिल्वर मेडल

यह भी पढ़ें : Lemon Benefits: नींबू का उपयोग शरीर के लिए कई तरह से है फायदेमंद, जानिए इसके कुछ औषधीय गुण

Connect With Us: Twitter Facebook

SHARE