Home लाइफस्टाइल त्वचा की देखभाल के लिए अपनाएं घरेलू उपचार…

त्वचा की देखभाल के लिए अपनाएं घरेलू उपचार…

6 second read
0
747

अगर प्रकृति हमें कोई समस्या देती है तो उसमें उसका समाधान भी निहित होता है। वैसे प्रकृति सबसे विश्वसनीय ब्यूटीशियन होती है और हमारी रसोई पूरी प्रकृति का भंडार। सब्जियां, फल, अनाज, दालें और ह‌र्ब्स, जो सभी हमारे किचेन में होते है उन सभी से सौंदर्य उपचार आसानी से किया जा सकता है जैसे स्क्रबिंग, एक्सफोलिएशन, क्लींजिंग, कंडीशनिंग, और भी बहुत कुछ। प्राकृतिक आहार से अच्‍छी सेहत के साथ-साथ आप अच्छी त्वचा, और सुंदर बाल की भी धनी हो सकती है। आहार हमें एनर्जी, पोषण प्रदान करते है। कुछ आहार हमारी नींद को बेहतर व नियमित करते है तो कुछ तनाव को दूर करने में मदद करते है। यहां तक कि कई आहार बीमारी और इनफेक्शन को दूर करके हमारी त्वचा और बालों की रक्षा करते है। तो क्यों न आप भी प्रकृति के इन अनमोल उपहारों को अपनाएं।

त्वचा की सफाई
त्वचा को बेहतर बनाने के लिए सबसे पहला कदम है क्लींजिंग यानी त्वचा की सफाई। पसीने, चिकनाई, धूल, मेकअप आदि को त्वचा से हटाना जरूरी होता है। इसके लिए आप यह क्लींजर प्रयोग करे-

क्लींजिंग मास्क
3 स्ट्रॉबेरी को मैश कर लें और उसे चेहरे और गर्दन पर मास्क की तरह लगाएं। दस मिनट बाद चेहरे को साफ कर लें। स्ट्रॉबेरी में हलकी एसिडिक तत्व होने के साथ ही विटामिन सी भी पाया जाता है जो त्वचा को अच्छी तरह साफ करने में मदद करता है।
त्वचा की सफाई के लिए स्क्रबिंग भी एक अछा उपाय है, क्योंकि त्वचा की बाहरी मृत परत को यह आसानी से हटाता है, साथ ही अतिरिक्त सीबम के बहाव के कारण बंद हुए रोमकूपों को खोलता है ताकि ब्लैकहेडं्स न बनने पाएं। स्क्रबिंग से रक्तसंचार भी बढ़ता है और त्वचा का लचीलापन भी। एक कॉटन बोल या किसी मृदु साबुन पर थोड़ी चीनी डालकर लगभग एक मिनट तक चेहरे का मसाज करे फिर पानी से धो लें। यह स्क्रब त्वचा पर पड़े धब्बों को भी दूर करता है।

ओटमील स्क्रब
1 टी स्पून संतरे के छिलके का दरदरा पाउडर, 1 टी स्पून पिसा हुआ जौ का आटा, 1 टी स्पून पिसा हुआ दरदरा बादाम, 1 टी स्पून मसूर की दाल का दरदरा पाउडर, 1 टी स्पून चावल का दरदरा पाउडर मिला लें। फिर किसी एक फल या सब्जी के रस में मिलाकर स्क्रब की तरह इस्तेमाल करे।

टोनिंग
अपनी त्वचा की टोनिंग नियमित रूप से करे। टोनिंग से त्वचा की अतिरिक्त तैलीयता, बंद छिद्र की समस्या दूर हो जाती है। आप घर पर ही टोनर बना सकती है-आधे खीरे का रस निकालें। फिर इसे आंच पर चढ़ाकर एक उबाल दें। धीमी आंच पर पांच मिनट तक पकाएं। ठंडा करके छान लें। इसमें हाथ से मसले हुए पुदीने के कुछ पत्ते मिलाकर चेहरे पर लगाएं। सूखने पर चेहरा धो लें।

बरकरार रखें नमी का संतुलन
त्वचा की नमी को बरकरार रखने के लिए मॉयस्चराइजर का इस्तेमाल जरूरी है। यह त्वचा को कोमल और कांतिमय बनाए रखता है। इसमें कुछ मात्रा पानी की भी होती है जो तेज गर्मी में नष्ट हुई त्वचा की नमी और पानी को पुन: संचारित करता है।

एवोकाडो मॉयस्चराइजर
1 मध्यम आकार का एवोकाडो, 1 टी स्पून शहद, 1 टी स्पून नीबू का रस, 200 ग्राम दही लें। एवोकाडो और शहद को एकसाथ ब्लेंड करे। फिर नीबू का रस और दही मिलाकर एकसाथ खूब अछी तरह फेंटें ताकि एकदम क्रीम की तरह हो जाए। आधे घंटे के लिए फ्रिज में रखें। फिर इससे चेहरे और गर्दन की मसाज तब तक करे जब तक कि क्रीम एकदम पिघल न जाए। इसे पूरी रात चेहरे पर लगा रहने दें। यह त्वचा की नमी को बरकरार रखने के साथ ही उसे चिकना और कांतिमय बनाए रखता है।

मसाज पेस्ट
अगर डीप क्लींजिंग करना चाहती है तो उपरोक्त क्रीम को डबल करने के लिए उसमें 2 टी स्पून गेहूं का आटा या ओटमील मिलाएं। फिर इसे चेहरे पर लगाकर हलके हाथों से मसाज करे। यह त्वचा की गहराई से सफाई करता है। रक्तसंचार तेज करता है जिससे त्वचा में कसाव आता है और वह चमकदार नजर आती है।

फेसपैक
क्लींजिंग, स्क्रबिंग, टोनिंग व मसाज के बाद त्वचा को फर्म या एकसार बनाने के लिए फेसपैक या मास्क की जरूरत होती है।

कुदरती फेसपैक
1 कप पिसा हुआ नारियल, 1/4 कप मसला हुआ पपीता, 1/4 टी स्पून हलदी पाउडर को एकसाथ मिलाकर गाढ़ा पेस्ट तैयार करे। निस्तेज, रूखी और सांवली त्वचा पर निखार लाने के लिए इस पैक का इस्तेमाल करे। पहले इसे लगाकर हलकी मसाज करे फिर दस मिनट बाद साफ कर लें। या फिर 1 केले को अछी तरह मसल कर उसमें एक टी स्पून ओटमील, शहद और दो टी स्पून दूध मिलाकर चेहरे पर पैक की तरह लगाएं। फिर धो लें। यह बेजान त्वचा को पोषण प्रदान करता है।

बालों की देखभाल के लिए
गर्मियों और बरसात के दिनों में सेबेशियस ग्लैंड कुछ ज्यादा ही सक्रिय हो जाने के कारण वे बालों में अतिरिक्त तेल छोड़ने लगती है जिससे बाल तैलीय नजर आते है। इसलिए हफ्ते में कम से कम तीन-चार बार बालों को शैंपू करना जरूरी होता है। तैलीयता को नजरअंदाज करने से बालों का गिरना व रूसी की समस्या हो जाती है। इसलिए कंडीशनिंग शैंपू का प्रयोग करना अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाएं।

कंडीशनिंग शैंपू
2 टेबल स्पून किसी भी सामान्य शैंपू में 1 अंडा और 1 टेबल स्पून जेलेटिन पाउडर मिलाएं। अब इसे धीरे-धीरे खूब अछी तरह फेंटें। ध्यान रहे गुठली न बनने पाए। अंडा और जेलेटिन दोनों में ही प्रोटीन पाया जाता है, जो बालों को सुंदर और घना बनाने में मदद करता है। वैसे हिना भी एक अछा प्राकृतिक कंडीशनर है। यह न सिर्फ एक अछा कंडीशनर है बल्कि बालों को पोषण देता है और ठंडक प्रदान करता है। सिर की त्वचा की जलन को दूर करता है।

हेयर टॉनिक
1 कप कसा हुआ नारियल, 1/4 कप नीम के पत्ते, 1/4 कप करी पत्ता को एकसाथ ग्राइंडर में पीसकर थोड़ा पानी मिलाकर गाढ़ा पेस्ट बना लें। इसे सिर की त्वचा व बालों में लगाएं। यह बालों को मुलायम, काला, मजबूत और घना बनाता है।

हेयर ऑयल
नारियल के तेल में कच्चा केला डालकर उबाल लें। छानकर ठंडा कर लें। यह डैड्रफ दूर करता है। इसके अलावा 250 मिली. सरसों के तेल में 60 ग्राम मेहंदी की पत्तियां डालकर धीरे-धीरे चलाते हुए तब तक उबालें जब तक कि पत्तियां एकदम जल न जाएं। छानकर ठंडा करे फिर एक बोतल में निकालकर रखें। इससे नियमित रात में सिर का मसाज करे। ऐसा करने से बाल मजबूत होते है।

हेयर कंडीशनर
1 अंडा, 2 टेबल स्पून कैस्टर ऑयल, 1 टी स्पून विनेगर, 1 टी स्पून ग्लिसरीन को एकसाथ मिलाकर खूब अच्छी तरह फेंटकर सिर की त्वचा का मसाज करे। फिर सिर पर तौलिए को गर्म पानी में भिगोकर निचोड़ लें और लपेट कर स्टीम दें। बालों को धो लें। यह कंडीशनर बालों को घना, चमकदार और मुलायम बनाने में मदद करेगा।

हनी बाथ
अपने नहाने वाले पानी के टब में एक चम्मच भरकर शहद मिलाएं। इससे न सिर्फ आपकी थकान दूर होगी बल्कि अनिद्रा की समस्या भी दूर होगी। साथ ही त्वचा रेशम सी मुलायम और कोमल नजर आएगी।

हाथों और पैरों की देखभाल
एक अच्छा स्क्रब आपकी त्वचा के मृत कोशों को हटाकर रक्तसंचार बढ़ाता है। एक छोटे बोल में गर्म ऑलिव ऑयल डालें। फिर उसमें अपनी अंगुलियों को 10-15 मिनट के लिए डुबोएं। फिर हाथ बाहर निकालकर उसी तेल से हलका मसाज करे। ऐसा करने से हाथों की त्वचा मुलायम होती है और क्यूटिकल्स को पोषण मिलता है।
अगर आपके नाखून का रंग बदला हुआ या उनमें दाग-धब्बे पड़ गए है तो उनमें विनेगर रगड़े। एक कॉटन बड लें और विनेगर में डुबोकर नाखून के ऊपर हलके हाथों से मलें। अब नीबू के रस में एक टूथब्रश को डुबोकर उससे नाखूनों को रगड़ते हुए साफ करे। सबसे अंत में हलके गुनगुने पानी से नाखूनों को साफ कर लें।

आंखों का पैक
पुदीने के पत्तों को हाथ से मसल कर या पीस कर आंखों के चारों ओर लगाने से आंखों के काले घेरे दूर होते है।

चमकदार दांत
2 चम्मच नमक में 3 चम्मच सोडा बाईकार्बोनेट, दो चम्मच टूथ पाउडर मिलाएं। इसकी थोड़ी सी मात्रा लेकर टूथब्रश से अपने दांतों को साफ करे।

माउथवॉश
1/4 कप विनेगर, 1/2 कप वाइन, 1/4 कप शहद, 1 टी स्पून लौंग पाउडर। सभी को उबालकर ठंडा करे और एक शीशे की बोतल में भरकर रख लें। रोजाना इससे दांतों को साफ करे।

उपयोगी चीजें और उनकी भूमिका

  • सेब : यह एक प्राकृतिक एस्ट्रिंजेंट है और हृदय के लिए अछा टॉनिक है। यह पाचन शक्ति बढ़ाता है, कोलेस्ट्रॉल कम करता है।
  • खीरा: एस्ट्रिंजेंट का काम करता है। त्वचा को ठंडक और चमक प्रदान करता है।
  • केला: रूखी त्वचा के लिए उपयोगी है।
  • अंगूर : यह रक्त को शुद्ध करता है। फेसपैक में इसका रस डालकर चेहरे पर लगाने से चेहरा कांतिमय होता है।
  • नीबू : एक बेहतरीन एस्ट्रिंजेंट है। जब इसे किसी फेसपैक, एंटी एजिंग, एंटी डैड्रफ, एंटी एलर्जिक, एंटी ऑक्सीडेट, एंटी सेप्टिक, एस्ट्रिंजेंट या रिफ्रेशिंग या टोनिंग में मिलाते है तो यह ब्लीच की तरह काम करता है।
  • लैट्यूज : बालों के लिए उपयोगी होता है।
  • नारियल : बालों के विकास के लिए उपयोगी होता है।
  • आलू : इसमें क्लोरोफिल पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है, जो त्वचा के दोषों, जले-कटे निशानों व झांइयों को दूर करता है।
  • स्ट्रॉबेरी : इसमें टोनिंग और मॉयस्चराइजिंग तत्व पाए जाते है।
  • संतरा: त्वचा को नमी व ताजगी देता है। एंटी इंफ्लामेटरी, एंटी ऑक्सिडेट, एंटी सेप्टिक, और प्रोटेक्टिव तत्व पाए जाते है।
  • तरबूज : इसमें मॉयस्चराइजिंग और टोनिंग तत्व पाए जाते है।
Load More Related Articles
Load More By admin
Load More In लाइफस्टाइल

Check Also

Roadmap to install air purifier towers in Delhi, no permanent solution to noise pollution – Supreme Court: दिल्ली में एयर प्यूरीफायर टावर लगाने का बने रोडमैंप, आॅड ईवन प्रदूषण का कोई स्थायी समाधान नहीं- सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट प्रदूषण पर बेहद सख्त है। सुप्रीम कोर्ट सुनवाई करते हुए कहा कि ने …