Homeखास ख़बरमुम्बई : पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह की मुश्किलें बढ़ीं

मुम्बई : पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह की मुश्किलें बढ़ीं

सीआईडी करेगी वसूली मामले की जांच
आज समाज डिजिटल
मुम्बई। मुंबई पुलिस के पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह की मश्किलें बढ़ गई हैं। महाराष्ट्र की ठाणे पुलिस ने परमबीर सिंह द्वारा अवैध वसूली की जांच का फैसला किया है। एक बिल्डर की शिकायत पर परमबीर सिंह के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। ठाणे पुलिस ने इसके लिए एसआईटी का गठन कर लिया है। आईपीएस परमबीर सिंह के खिलाफ बिल्डर केतन तन्ना ने पिछले हफ्ते ठाणे नगर पुलिस स्टेशन में केस दर्ज कराया है। इस केस में अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है।
परमबीर पर पैसे ऐंठने का आरोप
एफआईआर में परमबीर सिंह के अलावा डीसीपी दीपक देवराज, एसीपी प्रदीप शर्मा, इंस्पेक्टर राजकुमार कोथमिरे, जेल में बंद गैंगस्टर रवि पुजारी और ठाणे के एक पत्रकार के नाम हैं। एफआईआर में बिल्डर तन्ना ने आरोप लगाया है कि परमबीर सिंह जब ठाणे के पुलिस आयुक्त थे, तब जनवरी 2018 से फरवरी 2019 के बीच आरोपियों ने उन्हें एंटी एक्सटॉर्शन सेल में तलब कर गंभीर आपराधिक मामलों में फंसाने को लेकर धमकाया और उनसे 1.25 करोड़ रुपये ऐंठ लिए।
सीआईडी कर रही है जांच
इस मामले के अलावा महाराष्ट्र आपराधिक जांच विभाग (सीआईडी) सट्टे के बुकी सोनू जालान द्वारा सिंह के खिलाफ लगाए गए कथित फिरौती के आरोपों की जांच की जा रही है।  पहले से ही सिंह के खिलाफ सट्टेबाज सोनू जालान द्वारा कथित जबरन वसूली के संबंध में दर्ज कराई गई एक और शिकायत की जांच कर रहा है।
गंवानी पड़ी थी गृह मंत्री को कुर्सी
आपको बता दें कि दक्षिण मुंबई में उद्योगपति मुकेश अंबानी के आवास के पास संदिग्ध अवस्था में एक एसयूवी मिलने के बाद परमबीर सिंह को मुंबई पुलिस प्रमुख पद से हटा दिया गया था। भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के अधिकारी सिंह ने तत्कालीन गृह मंत्री अनिल देशमुख पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए थे। उनके द्वारा लगाए गए आरोपों के बाद महाराष्ट्र की राजनीति में खलबली मच गई थी जिसके बाद अनिल देशमुख को गृह मंत्री के पद से इस्तीफा देना पड़ा था। बाद में परमबीर सिंह ने भी इस्तीफा दे दिया था।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments