Homeकाम की बातRetirement Planning बुढ़ापे में नहीं होगी पैसों को लेकर चिंता! बस करना...

Retirement Planning बुढ़ापे में नहीं होगी पैसों को लेकर चिंता! बस करना होगा,पीएफ और ग्रेच्यूटी के पैसों का ऐसे इस्तेमाल

आज समाज डिजिटल, अंबाला:

Retirement Planning : हर इंसान चाहता है कि बुढ़ापे में उसके पास पैसों की किल्‍लत न हो। आपका बुढ़ापा ठाठ से कटने के लिए लोग अलग अलग तरीके से निवेश करते है। कई बार निवेश करने के बाद भी मनमुताबिक रिटायरमेंट फंड नहीं तैयार हो पाता है। इसके लिए जरूरी है कि जवानी में ही आप रिटायरमेंट की प्लानिंग कर लेना चाहिए। अपने जीवन की कमाई एंप्लाईज प्रोविडेंट फंड (EPF) और ग्रेच्यूटी की प्लानिंग करके अपनी रिटायर होने के बाद आर्थिक स्थिति को मजबूत कर सकते है।

Read Also:Oily Skin Face Pack ऑयली स्किन से हैं परेशान तो चेहरे पर लगाना शुरू करें ये 3 चीजें

वित्तीय देनदारियों का जल्द करें निपटारा (Finanacial Planning)

बैंक बाजार के CEOआदिल शेट्टी का कहना है कि अपने निवेश को मैनेज करने के साथ अपनी सभी वित्तीय देनदारियों का भी जल्द निपटारा करना होगा। अगर आपने कोई कार लोन, होम लोन या अन्य कोई कर्ज लिया है तो उसका जल्द ही भुगतान करें। इसे एकमुश्त चुकाने के लिए अपने पीएफ और ग्रेच्युटी की रकम का इस्तेमाल कर सकते हैं या रेगुलर प्री-पेमेंट्स का विकल्प चुन सकते हैं।

ईपीएफ में जमा होने दे पैसे (How To Use EPF Money)

वर्तमान समय में ईपीएफ में सबसे ज्यादा ब्याज मिल रहा है। आखिरी कामकाजी दिन के बाद आपके ईपीएफ में जमा पैसे पर 36 महीने का ब्याज मिलता है यानी अगर आपने 31 मार्च 2022 तक काम किया तो ईपीएफ खाते में जमा पैसे पर इस खाते के बंद होने से पहले तीन वित्त वर्ष 2021-22, 2022-23 और 2023-24 के लिए ब्याज आपको मिलेगा। ईपीएफ खाते में जमा पैसे पर चक्रवृद्धि ब्याज मिलता है। ऐसे में हो सके तो ईपीएफ फंड से पैसे न निकालें।

Retirement Planning

ज्यादा रिस्क वाले विकल्पों में न लगाएं पैसा (Retirement Scheme)

इस बात का सभी को खास ध्यान करना चाहिए कि कभी भी हाई रिस्क वाले विकल्पों में निवेश नहीं करना चाहिए। हमेशा अपने रिस्क लेने की क्षमता के अनुसार ही एसेट क्लासेज में पैसे लगाए। इसके लिए कम जोखिम वाले डेट ओरिएंटेड उत्पाद चुन सकते हैं। इसके लिए आप पीपीएफ, Mutual Funds की बैलेंस्ड एडवांटेड स्कीम्स, डेट ओरिएंटेड हाइब्रिड म्यूचुअल फंड स्कीम्स और पोस्ट ऑफिस सेविंग्स में एकमुश्त निवेश जैसे विकल्पों को चुन सकते हैं।

आपात फंड बनाएं, हेल्थ इंश्योरेंस खरीदें (Beneifits Of Health Insurance)

किसी भी आकस्मिक खर्चे के लिए आपात फंड बनाएं। रिटायरमेंट के बाद करीब 5 लाख रुपए आपके पास तुरंत उपलब्ध हो सके। इसकी तैयारी ऐसी होनी चाहिए।इसका इंतजाम जरूर होना चाहिए। इस पैसे का इस्तेमाल किसी मेडिकल इमरजेंसी या अन्य किसी विशेष जरूरतों के लिए कर सकते हैं। इस पैसे को रेगुलर बैंक डिपॉजिट या Liquid Mutual Fund स्कीम में रखा जा सकता है।

मेडिकल खर्चों को लेकर एक और तैयारी बहुत जरूरी है और वह है हेल्थ इंश्योरेंस। आपके पास बेहतर कवरेज वाली हेल्थ पॉलिसी जरूर होनी चाहिए ताकि मेडिकल से जुड़े खर्च अधिक वित्तीय बोझ न डाल सकें। क्यूंकि देखा जाता है इस समय में अधिकतर पैसा दवाइयाँ में निकल जाता है ।

Read Also:Benefits Of Olive Oil जानिए ऑलिव ऑयल के फायदे ,बहुत गजब की चीज़ है ऑलिव ऑयल,करिए इन कामों में इसका इस्तेमाल!

Read Also: Badam Ka Halwa जानिए सेहत के लिए कितना फायदेमंद होता है बादाम का हलवा

Connect With Us : TwitterFacebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular