Homeकाम की बातनवरात्र स्पेशल : खान-पान में रखें सावधानियां Take Precautions In Diet

नवरात्र स्पेशल : खान-पान में रखें सावधानियां Take Precautions In Diet

आज समाज डिजिटल, अम्बाला
Take Precautions In Diet : नवरात्र शुरू होतो ही सारा माहौल भक्तिमय हो जाता है। मनोकामना पूरी करने और देवी मां को खुश करने के लिए लोग व्रत रखते हैं। जबकि कई भक्त पूरे नवरात्र का व्रत करते है। व्रत के दौरान खानपान में भी सावधानी रखने की जरूरत होती है।

Take Precautions In Diet

Take Precautions In Diet :  अक्सर व्रती सुबह से शाम तक तो भूखे रहते हैं लेकिन सांयकाल को या रात को वह अधिक खा लेते हैं जिससे कई तरह की परेशानियां खड़ी होने की आशंका रहती है। इसके साथ ही व्रत के दौरान खान पान की बाहर बिकने वाली चीजों में भी जमकर मिलावट देखने को मिलती है।

Read Also : घर में होगा सुख-समृद्धि का वास Happiness And Prosperity In House

Take Precautions In Diet :  खैर कुट्टू और सिंघाड़े की तो बात अलग है इसके साथ साथ आलू के जो चिप्स पैकेट बंद मिलते हैं उनमें भी मिलावट देखने को मिल रही है. व्रतियों को बाजार में मिलनी वाली इन चीजों से दूरी बनाए रखनी चाहिए.

खानपान में घर में तैयार चीजों का ही प्रयोग करें

 

Take Precautions In Diet  Take Precautions In Dietअधिक से अधिक तरल पदार्थ लें.दूध व दूध से बनी चीजों का प्रयोग अधिक करें।
सेब अनार, केला, साबूदाना की खीर, खजूर, छुहारा आदि चीजों का प्रयोग करें।
एक साथ अधिक पानी पीने के बजाए थोड़े-थोड़े अंतराल पर पानी पीते रहें।
लौकी, परवल व आलू का प्रयोग फलाहार के रूप में कर सकते हैं।
यदि मधुमेह से पीड़ित हैं तो शुगर फ्री चीजों का प्रयोग करें.सिंघाड़े के आटे से बनी हुई चीजें भी शरीर को पर्याप्त ऊर्जा देंगी।
व्रत के शुरुआत में भूख काफी लगती है। ऐसे में पानी में नींबू और शहद डालकर पिएं. इससे भूख को नियंत्रित रखने में मदद मिलेगी।

नवरात्र व्रत के दौरान क्या न करें

जो किसी भी बीमारी से पीड़ित हैं, उन्हें व्रत रखने में विशेष सावधानी रखनी चाहिए। खासतौर से उन महिलाओं को जिनका कम वजन है अथवा गर्भवती हैं। इसके अलावा हृदय रोग व मधुमेह से पीड़ित लोगों को भी विशेष सावधानी की जरूरत होती है.निर्जला उपवास न रखें. इससे शरीर में पानी की कमी हो जाती है और अपशिष्ट पदार्थ शरीर के बाहर नहीं आ पाते। इससे पेट में जलन, कब्ज, संक्रमण, पेशाब में जलन जैसी कई समस्याएं पैदा हो सकती हैं.व्रत के दौरान जो लोग दवाई का प्रयोग कर रहे हैं, वह वसा वाले ड्राई फ्रूट्स व तली भुनी चीजें लेने से परहेज करें. यदि संभव हो सके तो थोड़े-थोड़े अंतराल पर कुछ खाते रहें।
नवरात्र का व्रत एक तरफ जहां आस्था से जुड़ा होता है वहीं शरीर के लिए भी लाभदायक होता है। व्रत के दौरान एक तरफ जहां शरीर में अनावश्यक व हानिकारक तत्व नष्ट होते हैं, वहीं शरीर में पाचन क्षमता भी बढ़ जाती है. ऐसे में व्रत रखने से फायदा ही होता है।

Read Also : पूर्वजो की आत्मा की शांति के लिए फल्गू तीर्थ Falgu Tirtha For Peace Of Souls Of Ancestors

Read Also : हरिद्वार पर माता मनसा देवी के दर्शन न किए तो यात्रा अधूरी If You Dont see Mata Mansa Devi at Haridwar 

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular