Homeत्योहारफिक्र तो यह है कि तेरा शुक्र कैसे करूं, जय खाटू श्याम...

फिक्र तो यह है कि तेरा शुक्र कैसे करूं, जय खाटू श्याम जी की Slogan Of Khatu Shyam Ji

Slogan Of Khatu Shyam Ji

आज समाज डिजिटल, अंबाला:
Slogan Of Khatu Shyam Ji : खाटू श्याम जी का मेला शुरू हो चुका है। कुछ श्रद्धालु उनके दर्शनों के लिए पहुंच चुके हैं तो कुछ निकलने की तैयारी में हैं। खाटू श्याम धाम का फाल्गुन मेला प्रसिद्ध है। फाल्गुन माह में शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि इस मेले का सबसे महत्वपूर्ण दिन होता है। आईये हम भी उनकी श्रद्धा में कुछ स्लोगनों को पढ़ते हैं।
कर दिया है बेफिक्र तूने, फिक्र अब मैं कैसे करूं।

Also Read : कांग्रेस आलाकमान करे दुष्प्रचार कर रहे नेताओं पर कार्रवाई Action On Leaders Doing Propaganda

फिक्र तो यह है कि तेरा शुक्र कैसे करूं।।
है आरजू करूं दीदार श्याम प्यारे का
नजर से चूम लू, दरबार श्याम प्यारे का।
हमेशा होती है इस दर पे बारिशे रहमत की
है ऐसा जलवा मेरे दिलदार श्याम प्यारे का।।

पलकों पे तुम्हें सांवरे बिठाने को जी चाहता है
तेरी बांहों में श्याम, लिपट जाने को जी चाहता है।
खुबूसरत और बेन्याब हो श्याम तुम ङ्घ
कि तुम्हें जिन्दगी बनाने को जी चाहता है।

बेससब चाहत रखते हैं श्याम, तेरे दीदार पाने की।
पर श्याम कहते हैं, मैं तो तेरे दिल में बैठा हूँ,
तुझे जरूरत नहीं, कहीं और जाने की।।

मेरे आंखो के ख्वाब हो तुम, दिल के अरमान हो तुम
तुम से ही तो मैं हूं, मेरे पहचान हो तुम।
मैं जमीन हूं अगर तो, मेरे आसमान हो तुम,
सच मानो मेरे लिये तो सारा जहां हो तुम।।

काश किसी रोज, उतर आओ सांवरे
तुम अपनी तस्वीर से, एक लम्हें की तरह।
दिल का हर, राज बयां हो जाये,
फिर बारिश की तरह।।

बाबा कदम कदम पर तुम साथ हो मेरे
तुमको नमन मै करता रहूं..
जब तक सांस रहे इस तन में
बाबा तुमको स्मरण करता रहूं।

रहमतों के फूल बरसते है जब श्याम का दीदार होता है।
बडे ही किस्मत वाले होते हैं वो, जिनको श्याम से प्यार होता है।

जिन आंखों को श्याम के दर्शन की आदत हो।
वो आंखे अपने मुक्कदर पे रोया नहीं करती।।

Slogan Of Khatu Shyam Ji
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular