Homeत्योहारNavratri Pujan 2022 चैत्र नवरात्रों में माँ दुर्गा की पूजा के लिए...

Navratri Pujan 2022 चैत्र नवरात्रों में माँ दुर्गा की पूजा के लिए करें ये कार्य

Navratri Pujan 2022

आज समाज डिजिटल, अम्बाला : 

Navratri Pujan 2022: माँ के नवराते आने ही वाले हैं। नवरात्रों नव दुर्गा की उपासना की जाती है। माँ की पूजा को विधि पूर्वक किया जाता है। आपको इसमें पूजा के लिए प्रयोग होने वाली सामग्री की जरूरत पड़ती है।

आपको बता दें 2 अप्रैल दिन शनिवार को माँ के नवरात्रे शुरू होने वाले हैं। इनमे माँ के नौ अलग-अलग रूपों की पूजा-अर्चना की जाएगी। नवरात्रि का पहला दिन माँ शैलपुत्री की पूजा की जाती है।

जो लोग अभी से माँ की पूजा की लिए सामग्री जुटा रहें उनके लिए हम माँ की पूजा में प्रयोग होने वाली सामग्री के बारे में आपको लिस्ट बता रहे है। पुराणों में लिखे अनुसार इस सामग्री से माँ की पूजा करने से आपको सुबह लाभ प्रपात होगा।

 

सामग्री इस प्रकार है

Navratri Pujan 2022
Navratri Pujan 2022

मां दुर्गा की मूर्ति के सामने, फूल, फूल माला, आम के पत्ते, चौकी में बिछाने के लिए लाल रंग का कपड़ा, सिंदूर, सोलह श्रृंगार, पान, सुपारी, लौंग, बताशा, हल्दी की गांठ, थोड़ी पीसी हुई हल्दी भी साथ में लेनी चाहिए।

माँ का आसन, चौकी, मौली, रोली, कमलगट्टा, शहद, शक्कर और पंचमेवा, गंगाजल, नैवेध, जावित्री,नारियल जटा वाला, सूखा नारियल, नवग्रह पूजन के लिए सभी रंग भी ले सकते हैं। चावलों का रंग भी माँ की पूजा के लिए सहायक है। इसके साथ ही दूध, वस्त्र, दही, पूजा की थाली, दीपक, घी, अगरबत्ती आदि।(Navratri Pujan 2022)

 

कलश स्थापना के लिए

Navratri Pujan 2022
Navratri Pujan 2022

पुराणों के अनुसार मांगलिक कामों के पहले भी कलश की स्थापना करना शुभ माना जाता है। क्योंकि कलश में भगवान गणेश के अलावा और सभी नक्षत्र, ग्रह विराजमान होते हैं।

कलश स्थापना के लिए, मिट्टी का घड़ा, मिट्टी का ढक्कन, कलावा, जटा वाला नारियल, गंगाजल, लाल रंग का कपड़ा, एक मिट्टी का दीपक, मौली, थोड़ा सा अक्षत, हल्दी-चूने से बना तिलक आदि ले आएं।

Navratri Pujan 2022

Read Also: घर में होगा सुख-समृद्धि का वास Happiness And Prosperity In House

Read Also: पूर्वजो की आत्मा की शांति के लिए फल्गू तीर्थ Falgu Tirtha For Peace Of Souls Of Ancestors

Read Also : हरिद्वार पर माता मनसा देवी के दर्शन न किए तो यात्रा अधूरी If You Dont see Mata Mansa Devi at Haridwar 

Connect With Us: Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular