Homeत्योहारजानें मां महागौरी के स्वरूप, पूजा विधि, भोग, मंत्र, आरती Chaitra Navratri...

जानें मां महागौरी के स्वरूप, पूजा विधि, भोग, मंत्र, आरती Chaitra Navratri 8th Day 2022

Chaitra Navratri 8th Day 2022

आज समाज डिजिटल, अंबाला:
Chaitra Navratri 8th Day 2022 : नवरात्रि में मां दुर्गा के नौ रूपों की नौ दिन भक्ति भाव से आराधना की जाती है। नवरात्रि के अष्टमी के दिन देवी महागौरी की पूजा की जाती है। इस दिन अष्टमी पूजन के साथ-साथ कन्या पूजन भी किया जाता है। इस दिन कन्यायों को हलवा, पूरी, छोले आदि का भोग लगाकर कुछ भेंट देना चाहिए।

दुर्गा अष्टमी के दिन देवी महागौरी के साथ साथ अपनी कुल देवी की पूजा करनी चाहिए और मंत्र ॐ देवी महागौर्यै नमः॥ का 108 बार जप करना चाहिए। इस दिन देवी मां को लाल फूल, गुलाब का इत्र, भोग आदि चढ़ाने से मन चाहे फल की प्राप्ति होती हैं। अष्टमी तिथि के दिन मां दुर्गा की विधि-विधान के साथ पूजा करने से सुख-शांति व समृद्धि की प्राप्ति होती है।

मां महागौरी का स्वरूप

Chaitra Navratri 8th Day 2022
Chaitra Navratri 8th Day 2022

इनका ऊपरी दाहिना हाथ अभय मुद्रा में रहता है और निचले हाथ में त्रिशूल है। ऊपर वाले बाएं हाथ में डमरू जबकि नीचे वाला हाथ शांत मुद्रा में है।

मां महागौरी की पूजा विधि

Rules Of Maa Kalratri Puja

  • सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि से निवृत्त होने के बाद साफ- स्वच्छ वस्त्र धारण करें।
  • मां की प्रतिमा को गंगाजल या शुद्ध जल से स्नान कराएं।
  • मां को सफेद रंग के वस्त्र अर्पित करें। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार मां को सफेद रंग पसंद है।
  • मां को स्नान कराने के बाद सफेद पुष्प अर्पित करें।
  • मां को रोली कुमकुम लगाएं।
  • मां को मिष्ठान, पंच मेवा, फल अर्पित करें।
  • मां महागौरी को काले चने का भोग अवश्य लगाएं।
  • मां महागौरी का अधिक से अधिक ध्यान करें।
  • मां की आरती भी करें।
  • अष्टमी के दिन कन्या पूजन का भी विशेष महत्व होता है। इस दिन कन्या पूजन भी करें।

मां महागौरी का भोग

 

Chaitra Navratri 8th Day 2022
Chaitra Navratri 8th Day 2022

अष्टमी तिथि के दिन मां महागौरी को नारियल या नारियल से बनी चीजों का भोग लगाया जाता है। लेकिन अष्टमी तिथि के दिन नारियल या नारियल से बनी चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए।

मां महागौरी के लिए मंत्र

सर्वमङ्गल माङ्गल्ये शिवे सर्वार्थ साधिके।
शरण्ये त्र्यम्बके गौरी नारायणी नमोस्तुते।।

स्तोत्र मंत्र

सर्वसंकट हंत्रीत्वंहिधन ऐश्वर्य प्रदायनीम्।
ज्ञानदाचतुर्वेदमयी,महागौरीप्रणमाम्यहम्॥
सुख शांति दात्री, धन धान्य प्रदायनीम्।

मां महागौरी की आरती

Chaitra Navratri 8th Day 2022
Chaitra Navratri 8th Day 2022

जय महागौरी जगत की माया ।
जय उमा भवानी जय महामाया ॥

हरिद्वार कनखल के पासा ।
महागौरी तेरा वहा निवास ॥

चंदेर्काली और ममता अम्बे
जय शक्ति जय जय मां जगदम्बे ॥

भीमा देवी विमला माता
कोशकी देवी जग विखियाता ॥

हिमाचल के घर गोरी रूप तेरा
महाकाली दुर्गा है स्वरूप तेरा ॥

सती ‘सत’ हवं कुंड मै था जलाया
उसी धुएं ने रूप काली बनाया ॥

बना धर्म सिंह जो सवारी मै आया
तो शंकर ने त्रिशूल अपना दिखाया ॥

तभी मां ने महागौरी नाम पाया
शरण आने वाले का संकट मिटाया ॥

शनिवार को तेरी पूजा जो करता
माँ बिगड़ा हुआ काम उसका सुधरता ॥

‘चमन’ बोलो तो सोच तुम क्या रहे हो
महागौरी माँ तेरी हरदम ही जय हो ॥

Chaitra Navratri 8th Day 2022

Read Also : हिंदू नववर्ष के राजा होंगे शनि देव Beginning of Hindu New Year

Read Also : पूर्वजो की आत्मा की शांति के लिए फल्गू तीर्थ Falgu Tirtha For Peace Of Souls Of Ancestors

Read Also : नौ दिनों तक दुर्गा सप्तशती का पाठ से करें मां दुर्गा को प्रसन्न Durga Saptashati

Connect With Us: Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular