Homeअर्थव्यवस्थाNavi Technologies IPO फ्लिपकार्ट के को-फाउंडर की कंपनी लाएगी 3,350 करोड़ रुपए...

Navi Technologies IPO फ्लिपकार्ट के को-फाउंडर की कंपनी लाएगी 3,350 करोड़ रुपए का आईपीओ, जानिए मुख्य बातें

Navi Technologies IPO फ्लिपकार्ट के को-फाउंडर की कंपनी लाएगी 3,350 करोड़ रुपए का आईपीओ, जानिए मुख्य बातें

आज समाज डिजिटल, नई दिल्ली :

Navi Technologies IPO : अब एक से एक कम्पनिया अपना आईपीओ निकाल रही है और 2022 में अब तक काफी आईपीओ आ चुके है। इसी बीच फ्लिपकार्ट के को-फाउंडर सचिन बंसल की कंपनी नवी टेक्नोलॉजीज का आईपीओ भी जल्द ही शेयर बाजार में देखने को मिलेगा। कंपनी ने अपने आईपीओ के लिए सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज बोर्ड आफ इंजिया (Sebi) के साथ दस्तावेज फाइल किए हैं।

कंपनी 3,350 करोड़ रुपए तक की राशि जुटाएगी

बताया गया है कि ई-फाइलिंग रेगुलेटर के साथ कर ली गई है। आईपीओ के जरिए बंसल की कंपनी 3,350 करोड़ रुपए तक की राशि जुटाएगी। (Navi Technologies IPO) यह पूरी तरह शेयरों का एक प्राइमेरी इश्यू होगा, जिसमें कोई OFS या आफर फॉर सेल कंपोनेंट मौजूद नहीं रहेगा। इस इश्यू के लिए आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज, बोफा सिक्योरिटीज, एक्सिस कैपिटल, क्रेडिट सुइस सिक्योरिटीज (इंडिया) और एडेलवेइस फाइनेंशियल सर्विसेज बुक रनिंग लीड मैनेजर्स हैं।

नवी टेक में करीब 4 हजार करोड़ रुपये का निवेश किया

फ्लिपकार्ट के को-फाउंडर बंसल ने नवी टेक में करीब 4 हजार करोड़ रुपये का निवेश किया है और वह अपनी हिस्सेदारी आईपीओ के जरिए कम नहीं करेंगे। एक रिपोर्ट के मुताबिक आईपीओ को बाजार के हालात को देखते हुए जून-जुलाई में लॉन्च किया जाएगा। (Navi Technologies IPO) लेकिन इस खबर पर अब तक नवी टेक ने अपनी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। नवी टेक का आईपीओ जून में खुल सकता है। कंपनी 670 करोड़ रुपए का प्री-आईपीओ प्लेसमेंट भी कर सकती है। यदि कंपनी ने इस विकल्प का इस्तेमाल किया तो आईपीओ का साइज घट सकता है।

इन जगह होगा IPO से प्राप्त फंड का इस्तेमाल

SEBI के पास जमा DRHP के मुताबिक, आईपीओ से मिलने वाली राशि को कुछ चीजों की फंडिंग में इस्तेमाल किया जाएगा। (Navi Technologies IPO) इस पैसे को सब्सिडरीज नवी फिन्सर्व प्राइवेट लिमिटेड और नवी जनरल इंश्योरेंस लिमिटेड में निवेश के तौर पर किया जाएगा। इसके अलावा आईपीओ से मिली राशि को कंपनी के सामान्य कॉरपोरेट के उद्देश्यों में भी लगाया जाएगा।

कंपनी के बारे में मुख्य बातें

  • बता दें कि नवी टेक ने 2019 में चैतन्य इंडिया फिन क्रेडिट का 739 करोड़ रुपये में अधिग्रहण करके माइक्रो फाइनेंस सेगमेंट में प्रवेश किया था।
  • चैतन्य ने भारतीय रिजर्व बैंक से यूनिवर्सल बैंकिंग लाइसेंस के लिए भी अप्लाई किया था।
  • एक रिपोर्ट्स के मुताबिक, नवी की लोन बुक साइज करीब 3,500 करोड़ रुपये की है।
  • नवी एमएफ ने 2021 में Essel MF के एसेट्स का अधिग्रहण किया था।
  • कंपनी ने पिछले साल ब्लॉकचैन के लिए भी फाइल किया था। वहीं कंपनी के पास सेबी से स्टॉकब्रोकिंग लाइसेंस भी मौजूद है।

Also Read : सांसद ने खाटू श्याम मेला स्पेशल ट्रेन को दिखाई झंडी

SHARE
Mohit Sainihttps://indianews.in/author/mohit-saini/
Humanity Is the Best Religion In The Word
RELATED ARTICLES

Most Popular