पाकिस्तानी सरकार का जनता पर सितम, खाद्य पदार्थों में 62 प्रतिशत तक वृद्धि, आटा 65 रुपए और चीनी की कीमत हुई 89 रुपए प्रति किलो

0
438
Benazir Income Support Program

आज समाज डिजिटल, Benazir Income Support Program : कंगाली से जूझ रहे पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था पूरी तरह से चरमरा गई है। एक ओर पाकिस्तान सरकार अपने विदेश में स्थित संपत्तियों काे बेचने में लगी है तो वहीं पाकिस्थान में खाद्य पदार्थों के दाम भी आसमान छू रहे हैं। न केवल पेट्रोल डीजल, अब लोगों को खाने की वस्तुओं के भी 3 गुना दाम देने पड़ रहे हैं।

दरअसल, पाकिस्तान की सरकार ने सब्सिडी के दुरुपयोग को कम करने के लिए तत्काल प्रभाव से यूटिलिटी स्टोर्स कारपोरेशन (यूएससी) के माध्यम से बिक्री किए जाने वाले आटे, चीनी और घी की कीमतों में 25 से 62 प्रतिशत की वृद्धि की है। रिपोर्ट के अनुसार, बेनजीर आय समर्थन कार्यक्रम (बीआइएसपी) के लाभार्थियों को मूल्य वृद्धि से छूट दी जाएगी, लेकिन यूएससी से सब्सिडी वाली खरीद की सीमा कम कर दी गई है।

नई दरों के तहत पाकिस्तान में चीनी की कीमत 70 रुपये से बढ़कर 89 रुपए प्रति किलोग्राम हो गई है, जो 27 प्रतिशत की वृद्धि है। घी की कीमत 75 रुपए से बढ़कर 375 रुपये प्रति किलोग्राम हो गई है। गेहूं के आटे की कीमत 62 प्रतिशत की बढ़ोतरी के साथ 40 रुपये से बढ़कर 64.8 रुपये प्रति किलोग्राम हो गई है।

USC ने कहा है कि विशेष लक्षित सब्सिडी BISP के स्कोरकार्ड और पीएमटी-32 (गरीबी रेखा से नीचे के लोग) नीचे पंजीकृत गरीब आबादी के लिए उपलब्ध होगी। उन्हें आटा 400 रुपये प्रति 10 किलोग्राम, घी 300 रुपये प्रति किलोग्राम और चीनी 70 रुपये प्रति किलोग्राम की दर से मिलेगी। उन्हें दाल-चावल पर 15 से 20 रुपये प्रति किलोग्राम की छूट मिलेगी। सब्सिडी के दुरुपयोग से बचने के लिए उनकी मासिक खरीद सीमा को सीमित कर दिया गया है।

ये भी पढ़ें : 2023 में दुनिया बंटेगी 2 ग्रुपों में, होगा विनाशकारी युद्ध, आसमान से बरसेगी आग, जानिए नास्त्रेदमस की 2023 को लेकर की गई भविष्यवाणियों के बारे में

ये भी पढ़ें : फिलीपींस में बाढ़ से 51 की मौत, 19 लोग अभी भी लापता

ये भी पढ़ें : चोरी हुआ मोबाइल कैसे खोजें, कम्प्यूटर और दोस्त के मोबाइल से ऐसे कर सकते हैं ट्रैक

ये भी पढ़ें : नये साल पर काबुल के मिलिट्री एयरपोर्ट पर धमाका, 10 की मौत

Connect With Us: Twitter Facebook
SHARE