HomeCoronavirusOmicron Variants Latest Update अब तक 23 देशो में ओमीक्रॉन वेरिएंट की...

Omicron Variants Latest Update अब तक 23 देशो में ओमीक्रॉन वेरिएंट की दस्तक

Omicron Variants Latest Update

आज समाज डिजिटल, नई दिल्ली: 

विश्व भर के कई देशो में नए वायरस ने दस्तक दे दी है। और जिसके चलते दुनिया भर के निति नीति निर्माण दक्षिण अफ्रीका और आसपास के देशो ने यात्रा पर प्रतिबन्द लगा रहे है । पहली बार या वेरिएंट दक्षिण अफ्रीका में सामने आया थ। और अब तक कम से कम 23 देशो में इसकी पहचान की गई है । इन 23 देशों में अमेरिका भी शामिल है । उधर भारत में भी जोखिम की श्रेणी में शामिल विभिन्न देशों से फ्लाइट्स के जरिये पहंचे 3476 यात्रियों में से छह लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है, जिसके कारण सरकार की चिंता और बढ़ गई है।

छह यात्रियों के नमूने जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजे (Omicron Variants Latest Update)

केंद्र सरकार ने बताया कि देश के विभिन्न एयरपोर्ट्स पर मंगलवार रात के बाद बुधवार शाम तक 11 अंतरराष्ट्रीय उड़ानें जोखिम की श्रेणी में शामिल पहुंची और इन फ्लाइटों में 3476 यात्री देश के अलग-अलग हवाई अड्डों पर पहुंचे। इनमें से कोरोना संक्रमित पाए गए छह यात्रियों के नमूने जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए संबंधित प्रयोगशालाओं में भेजे गए हैं।\

Also Read :  Weather Latest Update यूपी, राजस्थान में हल्की बारिश की संभावना और इन इलाकों में येलो अलर्ट जारी

ये हैं सबसे ज्यादा जोखिम वाले 11 देश (Omicron Variants Latest Update)

भारत सरकार की ओर से 26 नवंबर को अपडेट की गई सूची के मुताबिक 11 देशों को जोखिम ग्रस्त सूची में रखा गया है। इनमें ब्रिटेन व यूरोपीय संघ के देश, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बोत्सवाना, चीन, मारीशस, न्यूजीलैंड, जिम्बाब्वे, सिंगापुर, इजरायल और हांगकांग शामिल हैं। पहले इस सूची में बांग्लादेश का भी नाम था, लेकिन अब उसे सूची से हटा दिया गया।

दक्षिण अफ्रीका में कोविड के रिकॉर्ड इतने मामले बढ़े (Omicron Variants Latest Update)

विश्वभर में अगर दक्षिण अफ्रीका की बात की जाए तो यहां कोविड से संक्रमित लोगों में 403 फीसदी की रिकॉर्ड वृद्धि हुई है। इसके अलावा संक्रमण दर भी10 फीसदी के पार हो गई है। वहीं, अस्पताल में भर्ती होने वाले लोगों में 87 फीसदी को टीका नहीं लगा है। दक्षिण अफ्रीका के शीर्ष महामारी विशेषज्ञ अब्दुल-करीम ने बताया कि सप्ताह के अंत तक 10,000 से अधिक दैनिक संक्रमण के मामले सामने आ सकते हैं, जिससे अगले दो से तीन सप्ताह में अस्पतालों पर भारी दबाव पड़ सकता है। उन्होंने वायरस के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए भीड़ भरे आयोजनों को रोकने की सलाह दी है। अब्दुल-करीम ने कहा कि ऐसा करने से सुपर-स्प्रेडिंग की स्थिति को नियंत्रण से बाहर किया जा सकता है।

Connect With Us:-  Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular