HomeUncategorizedपंजाब सरकार की ओर से मांगे मानने का विश्वास दिलाने पर किसानों...

पंजाब सरकार की ओर से मांगे मानने का विश्वास दिलाने पर किसानों ने रेल रोको आंदोलन किया मुल्तवी

गगन बावा, गुरदासपुर:
किसान मजदूर संघर्ष कमेटी पंजाब के नेतृत्व में हजारों किसानों और मजदूरों की ओर से डीसी ऑफिस गुरदासपुर के आगे चल रहा आंदोलन वीरवार को तीसरे दिन में दाखिल हो गया। किसान मजदूर संगठन के शिष्टमंडल के साथ चंडीगढ़ में मार्कफेड भवन में पंजाब सरकार के डिप्टी सीएम सुखजिंदर सिंह रंधावा, कृषि मंत्री काका रणदीप सिंह, सिविल व पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक की गई। मीटिंग में किसान नेताओं को डिप्टी सीएम ने विश्वास दिलाया कि किसान मजदूरों के मसले 20 दिन में हल कर दिए जाएंगे और उसके बाद मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के साथ रिव्यू मीटिंग कराई जाएगी।
धरने को संबोधित करते प्रदेश प्रधान सतनाम सिंह पन्नू, जिला प्रधान गुरप्रीत सिंह, बीबी दविंदर कौर, बीबी अमृतपाल कौर ने पंजाब सरकार के विश्वास पर आज से शुरू होने वाला रेल रोको आंदोलन मुल्तवी करने की घोषणा की। नेताओं ने कहा कि अगर 20 दिन में मसले हल ना हुए तो अक्टूबर के अंतिम हफ्ते में रेल रोको आंदोलन शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार ने कुछ मांगे मान ली हैं, जिनमें बिजली के सभी उपभोक्ताओं के बिल बकाया खत्म किए गए हैं और आगे से 300 यूनिट की माफी की शर्त 1 किलोवाट से बढ़ाकर 2 किलोवाट कर दी गई है। दिल्ली मोर्चे में शहीद हुए किसान मजदूरों के परिवारों को 5 लाख रुपए का मुआवजा और सरकारी नौकरी 1 हफ्ते में दे दी जाएगी। इसके अलावा पूर्व के 3 शहीद परिवारों को भी साथ ही नौकरी दे दी जाएगी।
किसान मजदूरों के खिलाफ दर्ज पुलिस केस और रेलवे के केस रद्द किए जाएंगे। रेल मंत्री के साथ बैठक कर इस मसले का समाधान निकाला जाएगा। गन्ने के सरकारी और प्राइवेट मिलो के बकाया 10 दिन में जारी कर दिए जाएंगे और गन्ने के 360 रुपए रेट का नोटिफिकेशन एक हफ्ते में कर दिया जाएगा। विधानसभा में बहुत जल्द बिजली कंपनियों के साथ किए समझौते रद्द किए जाएंगे और सस्ती बिजली दी जाएगी।
कंटीली तार के बाहर जमीनों का पिछले 4 साल का मुआवजा जल्द जारी कर दिया जाएगा और गेट सुबह 8:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक खोले जाएंगे। धान की सरकारी खरीद पिछले साल की ही तरह होगी, कोई नई शर्त लागू नहीं की जाएगी। सभी जिलों के डीसी और एसएसपी व एडीसी लोकल मसलों का समाधान करेंगे। इस मौके पर सोहन सिंह, प्रताप सिंह, सुखदेव सिंह, सुखजिंदर सिंह गुरमुख सिंह अध्यात्म सी कुलजीत सिंह जितेंद्र सिंह, बाबा सुखदेव सिंह, अनूप सिंह, शमिंदर सिंह, हरदीप सिंह, परमिंदर सिंह, बलजीत सिंह, हजूर सिंह, हरभजन सिंह, हरविंदर सिंह, निर्मल सिंह, रणबीर सिंह, सतनाम सिंह, अनूप सिंह, सुखविंदर सिंह, हरजीत सिंह, हरविंदर सिंह, राजेंद्र सिंह, सतनाम सिंह, बलदेव सिंह, गुरप्रीत कोटली, रणजीत कौर, हरजीत कौर आदि मौजूद थे ‌।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments