Home Uncategorized India-China border dispute- India deployed fighter aircraft in Ladakh, helicopters and fighter jets hovering in the sky: भारत-चीन सीमा विवाद-भारत ने लद्दाख में तैनात किए लड़ाकू विमान, आसमान में मंडरा रहे हेलीकाप्टर औरर फाइटर जेट

India-China border dispute- India deployed fighter aircraft in Ladakh, helicopters and fighter jets hovering in the sky: भारत-चीन सीमा विवाद-भारत ने लद्दाख में तैनात किए लड़ाकू विमान, आसमान में मंडरा रहे हेलीकाप्टर औरर फाइटर जेट

0 second read
0
77

नई दिल्ली। भारत चीन सीमा पर तनाव और गतिरोध की स्थिति जारी है। हालांकि लगातार सेनाओं के लेवल पर बातचीत चल रही हैताकि तनाव कम किया जा सकेलेकिन ऐसा होता दिख नहीं रहा है। अब भारत ने अपने लड़ाकू विमानों को लद्दाख एयरबेस पर तैनात कर दिया है। लेह से लेकर लद्दाख सीमा पर लड़ाकू विमानों की गरज सुनाई दे रही है। इस ओर हेलीकॉप्टर्स की आवाजाही भी बढा दी गई है। भारतीय वायुसेना ने अपने लड़ाकू विमानों को अग्रिम बेसों पर तैनात कर दिया है। बता दें कि वायुसेना प्रमुख दो दिनोंके जम्मू-कश्मीर लद्दाख के दौरे पर हैं। चीन के साथ भारत तनाव की स्थिति बनी हुई है। बीते सोमवार को चीनी सेना द्वारा धोखे से हमला कर बीस भारतीय जवानों को शहीद कर दिया गया। जिसके बाद वायुसेना प्रमुख भदौरीया का यह दौरा बहुत महत्वपूर्ण माना जा रहा है। वायुसेना चीफ आरकेएस भदौरिया ने लेह और श्रीनगर एयरबेस का दौरा किया है, येएयर बेस विषम परिस्थतियों में महत्वपूर्ण होंगे। इस बीच भारत ने सुखोई 30एमकेआई, मिराज 2000 और जगुआर फाइटर जेट्स को तुरंत उड़ान भरनेके लिए तैयार कर दिया गया है। अमेरिकन अपाचे हेलीकाप्टरों की भी तैनाती की गई है। जो भारतीय सेना के जवानों की मदद के लिए होंगे। चिनूक हेलीकॉप्टर्स को भी लेह में तैयार रखा गया है। न्यूज एजेंसी नेलद्दाख की कुछ ताजा तस्वीरें जारी की हैं, जिनमें हेलीकॉप्टर्स और लड़ाकू विमान आसमान में मंडराते दिख रहे हैं। ‘एयरफोर्स चीफ दो दिन के दौरे पर थे, उन्होंने आॅपरेशनल तैयारियों का जायजा लिया है।” 17 जून को भदौरिया लेह पहुंचे और फिर 18 जून को श्रीनगर एयरबेस का दौरा किया। ये दोनों एयरबेस पूर्वी लद्दाख से बेहद करीब हैं।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In Uncategorized

Check Also

जब गुरदासपुर आजादी के वक्त पाकिस्तान के हिस्से चला गया था

अरुण कुमार लुधियाना/गुरदासपुर, 14 अगस्त: देश आजादी की 74वीं सालगिरह मना रहा है, लेकिन 15 अ…