Homeटॉप न्यूज़Question on PM-Cares fund: पीएम-केयर्सफंड पर सवाल, पूर्व सौ अधिकारियों ने प्रधानमंत्री...

Question on PM-Cares fund: पीएम-केयर्सफंड पर सवाल, पूर्व सौ अधिकारियों ने प्रधानमंत्री मोदी को लिखा पारदर्शिता के लिए खुला पत्र

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू किए गए पीएम-केयर्स फंड को लेकर अब सवाल उठाए जा रहे हैं। आज यानी शनिवार को सौ पूर्व नौकरशाहों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खुला पत्र लिखा। जिसमेंइन लोगों ने पीएम केयर्स फंड की पारदर्शिता को लेकर सवाल किए गए। पूर्व नौकशाहोंने अपने पत्र में लिखा कि सार्वजनिक जवाबदेही के मानकों के पालन के मद्देनजर प्राप्तियों और खर्चों की जानकारी उपलब्ध कराना जरूरी है ताकि किसी तरह के संदेह से बचा जा सके। खुले पत्र में लिखा है कि हम पीएम-केयर्स या इमरजेंसी हालत में नागरिक सहायता और राहत के बारे में जारी बहस पर करीब से नजर रख रहे हैं। यह फंड कोविड महामारी से प्रभावित लोगों के फायदे के लिए बनाया गया था। जिस उद्देश्य से यह फंड बनाया गया और जिस तरह से इसे चलाया गया है, दोनों को लेकर कई सवाल के जवाब मिलना बाकी है। पत्र में उन्होंने आगे कहा, ”जरूरी है कि प्रधानमंत्री से जुड़े समस्त लेनदेन में पूरी तरह पारदर्शिता सुनिश्चित करके प्रधानमंत्री के पद और दर्जे को बनाए रखा जाए।” पत्र पर पूर्व आईएएस अधिकारियों अनिता अग्निहोत्री, एस पी अंब्रोसे, शरद बेहार, सज्जाद हासन, हर्ष मंदर, पी जॉय ओमेन, अरुणा रॉय, पूर्व राजनयिकों मधु भादुड़ी, के पी फाबियान, देब मुखर्जी, सुजाता सिंह और पूर्व आईपीएस अधिकारियों ए एस दुलात, पी जी जे नंबूदरी तथा जूलिया रीबीरो आदि के साइन हैं। गौरतलब है कि साल 2020 में कोरोना वायरस महामारी ने देश मेंप्रवेश किया था और इस खतरनाक वायरस से लड़ाई के लिए प्रधानमंत्री नेआर्थिक सहयोग के लिए पीएम केयर्स फंड बनाया था। इसमें कई उद्योगपतियों से लेकर आम जनता तक ने छोटी से लेकर बड़ी राशि दान दी थी। सिर्फ पांच दिनों में ही फंड में 3076 करोड़ रुपये आ चुके थे। बाद में फंड की रकम का इस्तेमाल वेंटिलेटर्स समेत हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर से जुड़ीं अन्य चीजों को खरीदने में किया गया था।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments