Home टॉप न्यूज़ Corona Virus – After the lock down in the whole country, now the Modi government will give 80 crore people Rs 2 kg of wheat, Rs 3: कोरोना वायरस-पूरे देश में लॉक डाउन के बाद अब मोदी सरकार देगी 80 करोड़ लोगों को 2 रुपये किलो गेहूं, 3 रु. किलो चावल

Corona Virus – After the lock down in the whole country, now the Modi government will give 80 crore people Rs 2 kg of wheat, Rs 3: कोरोना वायरस-पूरे देश में लॉक डाउन के बाद अब मोदी सरकार देगी 80 करोड़ लोगों को 2 रुपये किलो गेहूं, 3 रु. किलो चावल

0 second read
0
211

नई दिल्ली। देश मेंकोरोना के मामले लगाता बढ़रहे हैं। जिसे देखते हुए और आने वाले खतरे को कम करने के लिए पीएम मोदी ने 21 दिन का लॉक डाउन पूरे देश में लागू कर दिया है। लॉक डाउन के आदेश के बाद अब मोदी सरकार ने लोगों को राशन देने के लिए बड़ा एलान किया है। पीएम मोदी की अध्यक्षता में हुई बुधवार को केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में देश के 80 करोड़ लोगों को सस्ती दर पर अनाज देने का फैसला किया गया। कैबिनेट बैठक के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि देश के 80 करोड़ लोगों सस्ते दर पर राशन दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार देश के 80 करोड़ लोगों को हर महीने 7 किलो प्रति व्यक्ति राशन देगी और वो भी 3 महीने के लिए एडवांस। प्रकाश जावड़ेकर ने मीडिया को बताया कि 80 करोड़ लोगों को 27 रुपये प्रति किलो वाला गेहूं मात्र 2 रुपये प्रति किलोग्राम में और 37 रुपये किलोग्राम वाला चावल 3 रुपये प्रति किलोग्राम में देने का फैसला किया है। इस पर 1 लाख 80 हजार करोड़ रुपये खर्च हो रहे हैं। यह तीन महीने के लिए राज्यों को एडवांस में दिया जाएगा। कैबिनेट की बैठक की जानकारी के दौराना उन्होंने कोरेना वायरस के खतरे से लड़ने के लिए सावधान रहने की बात कही। उन्होंने कहाा कि संक्रमण से बचने के लिए सामाजिक दूरी बनाकर रखें। किसी तरह की अफवाहों पर ध्यान न दें और हेल्थ मिनिस्ट्री की वेबसाइट पर सारी जानकारी लेते रहें। बता दें कि प्रकाश जावड़ेकर कैबिनेट के फैसलों की ब्रीफिंग दे रहे थे। प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि इस बीमारी से लड़ने का तीन चार ही तरीके हैं। पहला घर में रहें, दूसरा कुछ भी काम करने से पहले हाथ धोना और बार-बार हाथ धोना। बुखार, सर्दी और खांसी में डॉक्टर के पास जाना है और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना है। इसे हमें अपने व्यवहार में रखना है। यह परिवार के साथ अच्छा वक्त बिताने का एक मौका भी है।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In टॉप न्यूज़

Check Also

Anger of agricultural bills is heavy on BJP, Shiromani Akali Dal separates from NDA: कृषि विधेयकों की नाराजगी भाजपा पर भारी, एनडीए से अलग हुआ शिरोमणि अकाली दल

केंद्र सरकार के कृषि विधेयक पास कराने केबाद से ही इसका विरोध किसानों द्वारा किया जा रहा है…