Home टॉप न्यूज़ BJP will not tolerate intolerance, misbehavior: प्रधानमंत्री ने सख्त संदेश में कहा कि अक्खड़पन, दुर्व्यवहार बर्दाश्त नहीं करेगी भाजपा

BJP will not tolerate intolerance, misbehavior: प्रधानमंत्री ने सख्त संदेश में कहा कि अक्खड़पन, दुर्व्यवहार बर्दाश्त नहीं करेगी भाजपा

0 second read
0
198

नयी दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भाजपा के वरिष्ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय के विधायक पुत्र द्वारा एक सरकारी अधिकारी की पिटाई के लेकर उपजे विवाद के बाद एक सख्त संदेश में मंगलवार को कहा कि इस तरह की घटनाओं से पार्टी का नाम खराब होता है और यह अस्वीकार्य हैं। सूत्रों के मुताबिक, उन्होंने भाजपा संसदीय दल की बैठक में कहा, ‘‘जो भी हो, वह किसी का भी बेटा हो… इस तरह का अक्खड़पन, दुर्व्यवहार बर्दाश्त नहीं किया जा सकता।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मनमानी नहीं चलेगी।’’ हालांकि, प्रधानमंत्री ने क घटना का उल्लेख नहीं किया लेकिन यह स्पष्ट रूप से भाजपा विधायक आकाश विजयवर्गीय द्वारा अतिक्रमण रोधी टीम पर हमले की ओर इशारा था। उन्होंने पिछले सप्ताह इंदौर में एक सरकारी अधिकारी पर क्रिकेट बैट से हमला कर दिया था। इसे लेकर उन्हें गिरफ्तार किया गया था लेकिन बाद में जमानत पर रिहा कर दिया गया।

विधायक के पिता कैलाश विजयवर्गीय भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव हैं और जब मोदी ने घटना की निंदा की तब वह बैठक में उपस्थित थे। प्रधानमंत्री ने कहा कि इस तरह की घटनाओं से पार्टी का नाम खराब होता है और यह अस्वीकार्य हैं। उन्होंने कहा, ‘‘अगर कोई गलती करता है तो उनमें पश्चाताप की भावना भी होनी चाहिए।’’ विधायक ने अपने कृत्य का बचाव किया था और माफी मांगने से इंकार कर दिया था। मोदी की अगुवाई में लोकसभा चुनाव, 2019 में प्रचंड बहुमत के साथ मिली जीत के बाद पार्टी के संसदीय दल की पहली बैठक में वरिष्ठ पार्टी नेताओं ने मोदी को सम्मानित किया। संसदीय मामलों के मंत्री प्रलहाद जोशी ने संवाददाताओं को बताया कि पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और कार्यकारी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने भी उन्हें सम्मानित किया।

जोशी ने कहा कि मोदी छह जुलाई को वाराणसी से भाजपा की सदस्यता अभियान की शुरुआत करेंगे। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा है कि इस दौरान पूरे देश में हर मतदान केन्द्र पर कम से कम पांच पेड़ लगाए जाने चाहिए। मोदी ने वृक्षारोपण अभियान को रामायण में उल्लेखित ‘पंचवटी’ का नाम दिया है। यह वह स्थान था जहां भगवान राम, सीता और लक्ष्मण 14 वर्ष वनवास के दौरान रूके थे। जोशी ने कहा कि अपने संबोधन में मोदी ने पार्टी सांसदों से संसद सत्र के दौरान उनकी उपस्थिति सुनिश्चित करने को कहा और कहा के उन्हें लोगों की सेवा के लिए खुद को समर्पित करना चाहिए ताकि वे जान सकें कि उन्होंने जनता के लिए जो किया है उसके लिए उन्हें जाना जाता है। उन्होंने लोकसभा में तीन तलाक विधेयक पेश किए जाने के दौरान पार्टी सांसदों की कम उपस्थिति को लेकर भी अपनी नाराजगी जाहिर की। मोदी वाराणसी से सदस्यता अभियान की शुरुआत करेंगे जबकि शाह तेलंगाना में और अन्य वरिष्ठ नेता देश के अन्य हिस्सों में इसकी शुरुआत करेंगे। छह जुलाई को भाजपा के विचारक श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंति है।

Load More Related Articles
Load More By admin
Load More In टॉप न्यूज़

Check Also

Roadmap to install air purifier towers in Delhi, no permanent solution to noise pollution – Supreme Court: दिल्ली में एयर प्यूरीफायर टावर लगाने का बने रोडमैंप, आॅड ईवन प्रदूषण का कोई स्थायी समाधान नहीं- सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट प्रदूषण पर बेहद सख्त है। सुप्रीम कोर्ट सुनवाई करते हुए कहा कि ने …