Homeराज्यचण्डीगढ़Today, people started connecting with the campaign of ITV - "Neither Corona...

Today, people started connecting with the campaign of ITV – “Neither Corona nor will you die of hunger”: आज समाज आईटीवी की मुहिम से जुड़ने लगे संजीदा लोग-“न कोरोना और न भूख से मरने देंगे”

चंडीगढ़/नई दिल्ली। आपके अखबार आज समाज और आईटीवी नेटवर्क ने न कोरोना और न भूख से मरने देंगे” मुहिम शुरू की है। इस मुहिम में अब जागरुक और संवेदनशील लोग जुड़ने लगे हैं। इसी कड़ी में गुरुवार को सेक्टर-22 डी मार्केट में भूखों को खाना के तहत दोनों वक्त का भोजन और चाय-बिस्कुट वितरित करने का काम शुरू किया गया। आईटीवी नेटवर्क की हास्पिटल्टी सहयोगी पिकाडिली होटल्स ग्रुप ने भी यूटी प्रशासन से कहा है कि जहां कहीं भी गरीबों को खाने का संकट हो, बताएं जब तक हालात सामान्य नहीं होते, हम उनको खाना खिलाएंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए आईटीवी नेटवर्क के संस्थापक प्रमोटर कार्तिकेय शर्मा से कोरोना के संकट पर चर्चा की थी। कार्तिकेय ने इस संकट की घड़ी में हर संभव मदद का भरोसा दिलाया था। उन्होंने प्रधानमंत्री से वायदा किया कि हम अपने मीडिया समूह के जरिए न सिर्फ लोगों को जागरुक करेंगे बल्कि सक्रिय भूमिका भी निभाएंगे। इसके लिए वाराणसी, लखनऊ, एनसीआर और चंडीगढ़ में मुहिम शुरू की जा चुकी है। आपके अखबार और चैनल के संवादादाओं की टीमें यहां लोगों को विभिन्न तरीके से सहायता उपलब्ध करा रही हैं और जहां जरूरत होती है, शासन-प्रशासन से प्रशासनिक मदद दिला रहे हैं। इसके साथ ही आईटीवी फाउंडेशन एनसीआर, लखनऊ, कानपुर, वाराणसी, गोरखपुर और चंडीगढ़ में मास्क तथा साबुन वितरित किये हैं।

आईटीवी की इस मुहिम से जुड़ते हुए सेक्टर-22 के 20-20 पंजाबी रेस्टोरेंट ने फुटपाथ पर जिंदगी बसर करने वाले दिहाड़ी मजदूरों और रिक्शा चालकों के लिए दोनों वक्त का भोजन तथा चाय-बिस्कुट बांटना शुरू किया है। इसके साथ ही इलाके में ड्यूटी दे रहे पुलिस कर्मियों के लिए चाय बिस्कुट का भी इंतजाम किया है। इस मुहिम में फिलहाल रोजाना दो सौ लोगों के लिए शुरुआत की गई है। रेस्टोरेंट चलाने वाले आशू, विशू और संजू तीनों अपने पूरे परिवार के साथ मिलकर हाईजेनिक तरीके से यह काम करने को आगे आये हैं। इसी तरह शिवानंद चौबे मेमोरियल ट्रस्ट ने भी भूखों को खाना पहुंचाने के लिए टिफिन व्यवस्था शुरू की है। रोज 50 गरीब अथवा परेशान लोगों के लिए घर का बना खाना निःशुल्क उपलब्ध कराने का काम किया है। उन्होंने भी आईटीवी मुहिम की सराहना करते हुए इसके साथ जुड़ने में गर्व महसूस किया है। ट्रस्टी सरोज चौबे, शिखा चौबे और संजय चौबे ने अपने परिवार के साथ यह काम संभाला है।

दिल्ली में विकाश शर्मा ने इस मुहिम में साथ देते हुए हंगर हेल्पलाइन नंबर जारी किये हैं। इन नंबरों पर काल करके भूखे लोग मदद ले सकते हैं। उनके लिए खाना पहुंचाने की व्यवस्था की जा रही है। इसके लिए दिल्ली ईस्ट, नार्थ ईस्ट, सेंट्रल, नई दिल्ली, नार्थ दिल्ली, शाहदरा, साउथ ईस्ट, वेस्ट, साउथ, साउथ वेस्ट और नार्थ वेस्ट के इलाकों में भूखे लोगों को खाना पहुंचाने का जिम्मा उठाया है। भूखे लोग हेल्पलाइन नंबर पर काल करके खाना मंगा सकते हैं।

आईटीवी नेटवर्क की हास्पिटल्टी सहयोगी पिकाडली होटल ग्रुप ने भी चंडीगढ़ प्रशासन और दिल्ली सरकार को लिखा है कि आप जहां उचित समझें हमें बतायें हम जरूरतमंद अक्षम भूखे लोगों के लिए खाना उपलब्ध कराएंगे। इस मुहिम में अधिक से अधिक लोगों को जोड़ने और जरूरतमंदों को खाने के साथ ही कोरोना के खतरे से जागरुक करने का काम शुरू किया गया है। 

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular