Homeराज्यपंजाबTo prevent the spread of Kovid, testing should be increased further -...

To prevent the spread of Kovid, testing should be increased further – Amit Kumar: कोविड को फैलने से रोकनो के लिए टेस्टिंग ओर बढाई जाये -अमित कुमार

पटियाला। सेहत  परिवार भलाई और मैडीकल शिक्षा और खोज विभाग के विशेष सचिव  अमित कुमार ने आज पटियाला के सरकारी मैडीकल कालेज और राजिन्दरा हस्पताल का दौरा करके ज़िले में कोविड की स्थिति पर कोविड मरीज़ों के इलाज और संभाल का जायज़ा लिया। इस मौके राजिन्दरा हस्पताल में एमरजैंसी और सर्ज़री मामलों और कोरोना योद्धों की कोविड जांच करन के लिए ट्रू नैट मशीन की भी शुरुआत की गई।
इस दौरान  अमित कुमार ने डिप्टी कमिशनर  कुमार अमित, पीडीए के मुख्य प्रशासक और कोविड केयर के इंचार्ज  सुरभी मलिक, अधिक डिप्टी कमिशनर विकास डा. प्रीति यादव, सहायक कमीशन (यू.टी.) डा. निर्मल ओसीपचन डायरैक्टर मैडीकल एजुकेशन डा. डा. अवनीश कुमार, मैडीकल कालेज के प्रिंसिपल डा. हरजिन्दर सिंह, सिवल सर्जन डा. हरीश मल्होत्रा, मैडीकल सुपरडैंट डा. पारस पांडव, डा. गिरिश साहनी के साथ मीटिंग करके ज़िलो में टेस्टिंग सामर्थ्य बढ़ाने और राजिन्दरा हस्पताल में इलाज सहूलतें को ओर बेहतर बनाने के लिए चर्चा की।
 अमित कुमार ने सिवल सर्जन को हिदायत की कि ज़िले में कोविड के फैलाव को रोकनो के लिए टेस्टिंग बढाई जाये जिससे महामारी की समीपता आगे न फैले। लोगों को भी अपील की कि किसी भी तरह के लक्षण सामने आने पर तुरंत टेस्टिंग करवाई जाये जिससे पॉजिटिव आने पर उन का समय सिर इलाज हो सके। उन कहा कि कंटेनमैंट जोनों में 100 प्रतिशत टेस्टिंग करवाई जाये और कोविड संपर्कों का पता लाने पर ज़ोर दिया जाये।
राजिन्दरा हस्पताल की आइसोलेशन वार्ड में दाख़िल मरीजों की सेहत जांच निर्धारित मापदण्डों मुताबिक करवानी यकीनी बनाने के निर्देश देते  अमित कुमार ने कहा कि पंजाब सरकार की तरफ से मुख्य मंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह का नेतृत्व नीचे मिशन फतह के अंतर्गत किसी भी तरह की बुनियादी ढांचो की कमी नहीं आने दी जायेगी।
 अमित कुमार ने बताया कि राजिन्दरा हस्पताल में हरियाणा समेत पंजाब के दूसरे बड़े शहरों के निजी अस्पतालों से मरीज़ काफ़ी गंभीर हालत में ही आते हैं परंतु हमारे डाक्टर और ओर मैडीकल अमला अपनी जान जोखिम में डाल कर मरीजों की निरंतर संभाल करन के लिए वचनबद्ध है।
विशेष सचिव ने राजिन्दरा हस्पताल अकेला हस्पताल है, जहाँ कोविड आइसोलेशन वार्ड में ही डायलसिस की सुविधा उपलब्ध है।  ज़िले में अब तक 29 हज़ार प्रति 10 लाख सैंपल टैस्ट के हिसाब के साथ 49 हज़ार सैंपल टैस्ट हुए हैं और ज़िलो में 18 फ्लू कार्नर और 47 आर.आर. टीमें काम कर रही हैं।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular