भिवानी। हरियाणा विद्यालय विद्यालय शिक्षा बोर्ड के इतिहास  में पहली बार 80 प्रतिशत बारहवीं कक्षा में उत्तीर्ण हुए हैं। इससे पहले परिणाम अधिकतम 74.48 रहा है। बोर्ड सचिव राजीव प्रसाद ने बताया कि माननीय उच्चतम न्यायालय द्वारा जारी की गई गाइडलाइन के बाद बेस्ट थ्री के आधार पर यह परिणाम घोषित किया गया है।
सरकारी विद्यालयों की छात्राओं ने किया कमाल
कला संकाय में मनीषा रावमावि, सिहमा, महेन्द्रगढ़ की छात्रा ने 500 में से 499 अंक अर्जित करके प्रथम स्थान प्राप्त किया है। द्वितीय स्थान पर मोनिका रावमावि, चमारखेड़ा, हिसार एवं अमनदीप कौर आदर्श वमावि, लखुवाणा, सिरसा ने 500 में से 497 अंक प्राप्त किए तथा तृतीय स्थान वर्षा, रावमावि, जाडऱा, रेवाड़ी ने 500 में से 495 अंक प्राप्त किए।
वाणिज्य संकाय में कैथल जिला के पाई की पुष्पा व फतेहाबाद के संयम ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। दोनों ने 500 में से 498 अंक प्राप्त किए। द्वितीय स्थान अंशु, हिसार एवं मुस्कान ,नरवाना, जीन्द ने 500 में से 496 अंक प्राप्त किए।  तृतीय स्थान पर जसप्रीत सिंह, इस्माईलाबाद, कुरूक्षेत्र, विशाखा नरवाना, जीन्द, बबीता, बहरामपुर भंडग़ी, रेवाड़ी एवं सिमरण भूना, फतेहाबाद ने प्राप्त किया तीनों ने 500 में से 495 अंक हासिल किए हैं।
 विज्ञान संकाय में प्रथम स्थान पर भावना यादव बोडिया कमालपुर, रेवाड़ी ने 500 में से 496 अंक प्राप्त किए।  द्वितीय स्थान पर अमित पुत्र मिलकपुर-ाा, भिवानी, मोनू कुमारी भांडवा, चरखी दादरी, श्रुतिका, बहौली, कुरूक्षेत्र एवं काजल खुडण, झज्जर ने प्राप्त किया । सभी ने 500 में से 495 अंक प्राप्त किए तथा तृतीय स्थान पर मुस्कान डोहका हरिया, चरखी दादरी, सचिन पाई, कैथल, संजू, पलवल, मन्दीप कोडान खुडन, झज्जर एवं श्वेता रानी, मिलकपुर-ाा, भिवानी ने 500 में से 494 अंक प्राप्त किए।
18 विद्यार्थी ऐसे जिन्होंने दिया था केवल एक पेपर
बेस्ट थ्री का ऑपसन देने के बाद बोर्ड ने ऐसे भी 18 छात्रों को पास किया है जिनकी केवल एक ही परीक्षा हुई थी। ये सभी पास हुए हैं। परीक्षा में इस बार अंग्रेजी में 49 प्रतिशत तो हिंदी में लगभग 70 प्रतिशत छात्र पास हुए हैं। इसके अलावा मनोविज्ञान का परिणाम शत प्रतिशत रहा। ग्रामीण विद्यार्थियों का पास प्रतिशत 63.48 तो शहरी का 69.1 रहा।