Home राज्य पंजाब Punjab government cancels the pending exams of the twelfth, open school: Vijay Inder Singla: पंजाब सरकार ने बारहवीं, ओपन स्कूल की लंबित परीक्षाओं को रद्द किया : विजय इंदर सिंगला

Punjab government cancels the pending exams of the twelfth, open school: Vijay Inder Singla: पंजाब सरकार ने बारहवीं, ओपन स्कूल की लंबित परीक्षाओं को रद्द किया : विजय इंदर सिंगला

3 second read
0
73

चंडीगढ़ पंजाब सरकार ने विभिन्न कक्षाओं की लंबित पड़ी परीक्षाओं को रद्द करने का फैसला किया है, जो कि पहले पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड (पीएसईबी) द्वारा 15 जुलाई के बाद करवाने का ऐलान किया गया था। शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला ने जानकारी देते हुए बताया कि राज्य सरकार ने बारहवीं कक्षा की सभी लंबित परीक्षाओं, ओपन स्कूल और री-अपीयर व गोल्डन चांस वाले विद्यार्थियों सहित कई अन्य श्रेणियों की सभी लंबित परीक्षाओं को रद्द करने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि यह फैसला कोविड-19 महामारी फैलने के कारण पैदा हुई संकटकालीन स्थिति के मद्देनजर लिया गया है।
कैबिनेट मंत्री ने बताया कि शिक्षा विभाग द्वारा कोरोना वायरस की चुनौतियों के कारण निकट भविष्य में परीक्षाएं करवाना संभव नहीं होगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के दिशा-निर्देशों के अनुसार अब बढिय़ा प्रदर्शन करने वाले विषयों के आधार पर नतीजा घोषित जाएगा, क्योंकि कुछ विषयों की परीक्षाएं पहले ही पीएसईबी द्वारा कोरोना वायरस के फैलने से पहले ली जा चुकी हैं। उन्होंने आगे कहा कि नतीजों की घोषणा भी समय की जरूरत है, ताकि विद्यार्थी उच्च शिक्षा में अपनी इच्छानुसार कोर्सों का समय रहते चयन कर सकें।
सिंगला ने अधिक जानकारी देते हुए बताया कि उदाहरण के तौर पर अगर कोई विद्यार्थी सिर्फ 3 विषयों की परीक्षाएं दे चुका है, तो बाकी रहते विषयों (जिनकी परीक्षाएं नहीं हुईं) के अंक, बढिय़ा प्रदर्शन वाले दो विषय में प्राप्त किए अंकों के औसत के आधार पर दिए जाएंगे। उन्होंने आगे कहा कि प्रैक्टिकल विषयों के अंक और नौकरी के प्रशिक्षण पर, व्यावसायिक विषयों के लिए भी इसी आधार पर दिए जाएंगे। सिंगला ने कहा कि ओपन स्कूल विद्यार्थियों के मामले में बोर्ड पिछली परीक्षाओं में प्राप्त अंकों के आधार पर नतीजों का ऐलान करेगा और उनके द्वारा पहले के सेशनों के पास किए गए विषयों (क्रेडिट कैरी फॉर्मूले) में से प्राप्त किए अंकों के आधार पर औसत अंक दिए जाएंगे।
कैबिनेट मंत्री ने कहा कि री-अपीयर या कंपार्टमेंट के लिए पीएसईबी के गोल्डन/फाइनल चांस के लिए जिन विद्यार्थियों ने इम्तिहान में बैठना था, को भी उनके द्वारा पहले पास किए गए विषयों के आधार पर औसत अंक दिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि जिन विद्यार्थियों के पास डिविजन में सुधार करने या री-अपीयर के लिए लंबित मौका है, वह सिर्फ एक पेपर जो नहीं हुआ के लिए फीस जमा करवाएंगे और उनको बिना अतिरिक्त फीस दिए भविष्य में इम्तिहान देने के लिए अतिरिक्त मौका दिया जाएगा। सामान्य हालात होने के बाद इसके लिए अलग से डेटशीट जारी की जाएगी।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In पंजाब

Check Also

Anger of agricultural bills is heavy on BJP, Shiromani Akali Dal separates from NDA: कृषि विधेयकों की नाराजगी भाजपा पर भारी, एनडीए से अलग हुआ शिरोमणि अकाली दल

केंद्र सरकार के कृषि विधेयक पास कराने केबाद से ही इसका विरोध किसानों द्वारा किया जा रहा है…