Home राज्य दिल्ली Priyanka Gandhi will shift to Gurgaon after Lutyens leave Delhi: लुटियंस दिल्ली छोड़ गुडगांव शिफ्ट होंगी प्रियंका गांधी

Priyanka Gandhi will shift to Gurgaon after Lutyens leave Delhi: लुटियंस दिल्ली छोड़ गुडगांव शिफ्ट होंगी प्रियंका गांधी

2 second read
0
49

सुमित दुबे । नई दिल्ली । कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा लूटियन दिल्ली का बंगला खाली करके गुडगांव शिफ्ट हो रही हैं। गुड़गांव के डीएलएफ अरालियाज में उनका अपना घर है, जहां वे अगले कुछ महीनों तक पति रावर्ट वाड्रा और बच्चों के साथ रहेंगी। इस आवास को नए सिरे से तैयार किया जा रहा है।

संबंधित सुरक्षा एजेंसियों ने इसकी तश्दीक कर ली है। यह सोसायटी शहर की दो प्रमुख पॉश सोसायटियों में से एक है। पहली सोसायटी मंगोलियाज है जिसमें दिग्गज नेता और रसूखदार लोग रहते हैं। कहा जा रहा है कि प्रियंका यहां पर महज दो माह ही रहेंगी। इसके बाद वह दिल्ली वापस चली जाएंगी। सूत्रों की मानें तो दिल्ली के सुजान पार्क एरिया में प्रियंका ने अपने लिए किराए का एक मकान ढूढ़ा है, जिसमें भी मरम्मत और साज-सज्जा का काम चल रहा है।

इसके तैयार होने के बाद वे वापस दिल्ली आ जाएंगी। फिलहाल पार्टी की बैठकों और नेताओं-कार्यकतार्ओं से भेंट-मुलाकात के लिए वे अपनी मां सोनिया गांधी के आवास 10 जनपथ या फिर भाई राहुल गांधी के आवास का उपयोग करेंगी।

उल्लेखनीय है कि एसपीजी (स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप) की सुरक्षा हटाने के बाद केंद्र सरकार ने इसी महीने प्रियंका को लूटियंस जोन के लोधी एस्टेट स्थित बंगला नंबर 35 खाली करने का आदेश जारी किया था। इस सरकारी आवास में वह पिछले तीन दशक से परिवार समेत रह रही थीं।

सुरक्षा कारणों से सरकार ने उन्हें यह आवास आवंटित किया था। लेकिन मोदी सरकार ने अब उनसे यह बंगला खाली करने को कहा है। इसके लिए 1 अगस्त तक का वक्त दिया है। हालांकि अटकलें यह भी हैं कि उत्तर प्रदेश कांग्रेस प्रभारी होने के चलते प्रियंका गांधी लखनऊ के कौल आवास को अपना नया ठिकाना बनाएंगी।

वहां रह कर वे उत्तर प्रदेश कांग्रेस को ऊर्जा देने, संगठन को मजबूत करने और 2022 के चुनाव के लिए तैयार करने का काम करेंगी। लेकिन सूत्र बता रहे हैं कि लंबे समय से बंद कौल आवास में भी अभी मरम्मत का काम चल रहा है। लॉकडाउन के चलते काम की गति धीमी हो जाने से यह तैयार नहीं हो पाया है।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In दिल्ली

Check Also

Anger of agricultural bills is heavy on BJP, Shiromani Akali Dal separates from NDA: कृषि विधेयकों की नाराजगी भाजपा पर भारी, एनडीए से अलग हुआ शिरोमणि अकाली दल

केंद्र सरकार के कृषि विधेयक पास कराने केबाद से ही इसका विरोध किसानों द्वारा किया जा रहा है…