Home राज्य चण्डीगढ़ More strictness for guidelines violators in Punjab : कोविड गाइडलाइंस के उल्लंघन पर अब और सख्ती

More strictness for guidelines violators in Punjab : कोविड गाइडलाइंस के उल्लंघन पर अब और सख्ती

5 second read
0
0
32

कोविड गाइडलाइंस के उल्लंघन पर अब और सख्ती
—-
घरेलू एकांतवास और रेस्टोरेंट/खाने पीने वाले स्थानों पर सामाजिक दूरी का उल्लंघन करने पर 5000 रुपए जुर्माना
-सामाजिक एकत्रताओं में निर्धारित संख्या और सामाजिक दूरी की बंदिशों का उल्लंघन करने पर होगा 10000 रुपए जुर्माना
चंडीगढ़
पंजाब में कोविड गाइडलाइंस का उल्लंघन करने वालों को अब और सख्ती का सामना करना होगा। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने वीरवार को नए दिशा निर्देश घोषित करते हुए कहा कि राज्य में घरेलू एकांतवास का उल्लंघन करने वाले कोविड मरीजों को 5000 रुपए जुर्माना किया जाएगा। राज्य में इस समय पर 951 मरीज घरेलू एकांतवास में हैं। इसके साथ ही रेस्टोरेंट और खाने पीने वाले व्यापारिक स्थानों पर सामाजिक दूरी का उल्लंघन करने वालों को भी 5000 रुपए जुर्माना होगा।
राज्य में कोविड की स्थिति और इससे निपटने के लिए तैयारियों की समीक्षा करने के लिए आयोजित वीडियो कॉनफ्रेंस बैठक में मुख्यमंत्री ने कहा कि सामाजिक एकत्रताओं के दौरान तयशुदा संख्या और सामाजिक दूरी का उल्लंघन करने पर 10000 रुपए जुर्माना होगा। यह नए जुर्माने से पहले से लागू जुर्मानों से अतिरिक्त हैं।
गत मई में सार्वजनिक स्थानों पर मास्क न पहनने पर 500 रुपए, घरेलू एकांतवास की हिदायतों के उल्लंघन पर 200 और सार्वजनिक स्थानों पर थूकने पर 500 रुपए जुर्माने की घोषणा की गई थी। दिशा-निर्देशों के मुताबिक दुकानों /व्यापारिक स्थानों को सामाजिक दूरी का उल्लंघन करने पर 2000 रुपए जुर्माना अदा करना पड़ेगा जबकि बसों और कारों में ऐसे उल्लंघन करने पर क्रमश: 3000 रुपए व 2000 रुपए जुर्माना भरना पड़ेगा। ऑटो-रिक्शा /दो-पहिया वाहनों के संबंध में 500 रुपए जुर्माना देना होगा।
डीजीपी दिनकर गुप्ता के मुताबिक मास्क न पहनने के लिए रोजमर्रा के लगभग 5000 चालान काटे जा रहे हैं। इस दौरान मुख्यमंत्री ने अलग-अलग धार्मिक संस्थाओं के मुखियों और प्रबंधकों को राज्य में धार्मिक स्थानों पर मास्क पहनने समेत कोविड संबंधी और सुरक्षा उपायों व सामाजिक दूरी की बंदिशों के पालन को यकीनी बनाने की अपील की।
कैप्टन अमरिंदर सिंह ने किसान यूनियनों को एक बार फिर केंद्र सरकार के किसान विरोधी अध्यादेशों के विरुद्ध सडक़ों पर रोष-प्रदर्शन न करने की अपील को दोहराते हुए कोविड के फैलाव को रोकने के लिए ऐसे आंदोलन स्थगित करने के लिए कहा। मुख्यमंत्री ने बस अड्डों आदि जैसे साझा स्थानों पर मास्क मुहैया करवाने वाली मशीनें लगाने के हुक्म दिए।

दो और प्लाज्मा बैंक स्थापित करने के निर्देश
इस दौरान मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव विनी महाजन और स्वास्थ्य माहिरों को फरीदकोट व अमृतसर के सरकारी मेडिकल कॉलेजों में भी प्लाज्मा बैंक स्थापित करने के लिए रूप-रेखा बनाने के निर्देश दिए जबकि पटियाला में राज्य के पहले प्लाज्मा बैंक का उद्घाटन 21 जुलाई को किया जा चुका है। इसके उद्घाटन के पहले दिन ही चार लोगों ने बैंक को अपना प्लाज्मा दिया। मुख्य सचिव ने मीटिंग के दौरान बताया गया कि जो आईएएस और पीसीएस अधिकारी स्वस्थ हो चुके हैं, को भी अपना प्लाज्मा देकर दूसरों का नेतृत्व करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। पंजाब पुलिस प्रमुख दिनकर गुप्ता ने कहा कि पंजाब होम गार्ड के जवान समेत तीन पुलिस कर्मियों द्वारा पटियाला और डीएमसी में अपना प्लाज्मा दिया गया है।

Load More Related Articles
Load More By Anil Bhardwaj
  • Rambhakt

    चंडीगढ़ सेक्टर 33 बीजेपी ऑफिस कमलम में आयोजित कार्यक्रम के दौरान रामभक्त साधु संत अयोध्या म…
  • Shiv Pooja

    पंचकूला महादेवपुर सकेतड़ी के प्राचीन शिव मंदिर मे सावन के आखिरी सोमवार को पूजा अर्चना करने …
  • Raksha Bandhan

    चंडीगढ़ में रक्षा बंधन के मौके पर अपने भाई को राखी बांधते हुए बहन… फोटो अजीत कौशल। …
Load More In चण्डीगढ़

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

86 deaths in three districts so far due to spurious liquor: नकली शराब के कारणतीन जिलों में अब तक 86 मौतें

चंडीगढ़ नकली शराब के कारण घटी दुखद घटना के संबंध में शनिवार को 7 मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंद…