Homeराज्यMeeting between police and BKU leaders, Mahapanchayat postponed till December 10: पुलिस...

Meeting between police and BKU leaders, Mahapanchayat postponed till December 10: पुलिस व भाकियू नेताओं में हुई बैठक, महापंचायत दस दिसंबर तक की स्थगित

अंबाला। नारायणगढ़ में बीजेपी की ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई किसान की मौत के मामले में किसान यूनियन के कई नेताओं पर 302 का पुलिस द्वारा मामला दर्ज करने को लेकर किसान यूनियन ने 29 अक्टूबर को अंबाला में एक महापंचायत करने का ऐलान किया था उसी को लेकर पुलिस प्रशासन ने किसान नेताओं के साथ आईजी आॅफिस में एक मीटिंग की। जिसमें किसान यूनियन के पदाधिकारियों ने यह फैसला लिया कि 29 अक्टूबर को होने वाली महापंचायत अब 10 दिसंबर तक के लिए स्थगित कर दी गई है, अब यह महापंचायत 10 दिसंबर को होगी।
भारतीय किसान यूनियन हरियाणा अध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए बताया कि वे यूनियन के पदाधिकारियों के साथ आईजी अंबाला मंडल से मिले। उन्होंने बताया कि यह मीटिंग लगभग एक घंटा से भी ज्यादा चली। मीटिंग के बाद किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने बताया कि आईजी, एसपी ने नारायणगढ़ के मामले को लेकर 29 तारीख की मोहड़ा मंडी में होने वाली किसानों की महापंचायत को लेकर बात करने के लिए बुलाया था, जिसमे पुलिस प्रशासन ने उन्हें कहा कि 29 तारीख तक हमारी इन्वेस्टिगेशन क्लियर नहीं हो सकती इसलिए हमें वक्त की जरूरत है। उन्होंने कहा कि अभी पुलिस ने दो जगह विसरा रिपोर्ट भेजी हुई है, जिनमें से एक हार्ट की रिपोर्ट खानपुर में भेजी हुई है और दूसरी बिसरे की रिपोर्ट भेजी हुई है जिसकी रिपोर्ट 29 तारीख का तो नहीं आ सकती।

इसके लिए पुलिस को कुछ समय दिया जाएं, इसको देखते हुए हमने 29 तारीख की महापंचायत को स्थगित कर दिया है। अगली महापंचायत हमने 10 दिसंबर को मोहडा अनाज मंडी में रखी  है। यदि तब तक मुकदमा रद्द हो जाता है तब तो ठीक है। फिर तो कोई बात ही नहीं बनती कि हम विरोध करेंगे। यदि रिपोर्ट हमारे हक में नहीं आती है या तब तक  मुकदमा क्लियर नहीं होता तो 10 दिसंबर को महापंचायत में आगे की कार्रवाई के लिए बात की जाएगी। उन्होंने कहा कि हमनें एक आदमी की ड्यूटी लगा दी है जो लगातार पुलिस के संपर्क में रहेगा जो  कागजों की जरूरत होगी तो वह लाकर पुलिस को देगा और पुलिस कोई भी कार्रवाई करने से पहले हमें सूचित करेगी।  उन्होंने कहा कि आज की वार्ता शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुई। उन्होंने कहा कि उन्होंने सिर्फ महापंचायत ही स्थगित की है बाकि का किसान आंदोलन ऐसे ही चलता रहेगा। उधर, एसपी राजेश कालिया ने बताया कि किसानों की 29 तारीख की होने वाली महापंचायत को लेकर किसानों को बुलाया गया था। गुरनाम सिंह चंढूनी की आईजी के साथ मीटिंग हुई, जोकि शांतिपूर्ण संपन्न हुई। किसानों से एक माह का समय मांगा गया है जोकि किसानों ने मान लिया है। अब आगे की जो भी कार्रवाई होगी वह रिपोर्ट आने के बाद की जाएगी। 

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular