Home राज्य पंजाब In the cereal market of Patiala, mini bus operators staged a sit-in demanding: पटियाला के अनाज मंडी मे मिनी बस आपरेटरों ने मांगों को लेकर धरना-प्रदर्शन किया

In the cereal market of Patiala, mini bus operators staged a sit-in demanding: पटियाला के अनाज मंडी मे मिनी बस आपरेटरों ने मांगों को लेकर धरना-प्रदर्शन किया

0 second read
0
0
46
पटियाला। आज पटियाला के अनाज मंडी मे मिनी बस आपरेटर की तरफ से अपनी मांग को लेकर धरना-प्रदर्शन किया गया और पंजाब सरकार के खिलाफ मुर्दाबाद के नारेबाजी की गई। वहीं प्रदर्शनकारियों द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का बिल्कुल भी ध्यान नहीं रखा गया और पंजाब सरकार के खिलाफ जमकर मुर्दाबाद की नारेबाजी की गई । वहीं प्रदर्शनकारियों ने बताया कि पंजाब सरकार द्वारा नई नीतियां लाकर मिनी बस ऑपरेटर यूनियन के वर्करों के साथ धक्केशाही की जा रही है जो भी पंजाब सरकार द्वारा लाई जा रही हैं वह सरासर गलत हैं जिसके विरोध में हम आज कैप्टन अमरिंदर सिंह के घर का घेराव करने के लिए पटियाला में पहुंचे थे लेकिन पुलिस की तरफ से हमें रोक कर अनाज मंडी पटियाला में बैठा दिया गया।
वहीं प्रदर्शनकारियों ने बताया कि आज हम पंजाब लेवल के मिनी बस ऑपरेटर के वर्कर इकट्ठे होकर कैप्टन अमरिंदर सिंह के घर का घेराव करने के लिए पटियाला में पहुंचे थे लेकिन यहां के प्रशासन द्वारा रास्ते में ही रोक लिया गया और अनाज मंडी पटियाला में भेज दिया गया। जिसके चलते आज वे यहां पर अपनी मांगों को लेकर धरना दे रहे हैं क्योंकि पंजाब सरकार द्वारा नई नीतियां लाकर मिनी बस ऑपरेटरों के साथ धक्केशाही की जा रही है जिसके विरोध में वे आज यहां पर बड़ी मात्रा में इकट्ठे हुए हैं।
मिनी बस ऑपरेटरों द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का बिल्कुल भी ध्यान नहीं रखा गया जहां सेहत विभाग और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की तरफ से लोगों को अपील की जा रही है कि सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखें वहीं दूसरी तरफ मिनी बस ऑपरेटर यूनियन पंजाब की तरफ से इन नियमों की धज्जियां उड़ाई गई।
Load More Related Articles
Load More By Chandan Swapnil
Load More In पंजाब

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

District administration honors freedom fighters of Quit India Movement: ज़िला प्रशासन ने भारत छोड़ो आंदोलन के स्वतंत्रता सेनानियों का किया सम्मान 

राजपुरा, घनौर, पटियाला। देश के आज़ादी दिहाड़े से पहले स्वतंत्रता संग्रामियों  का  सरकार और ज़…