Homeहरियाणाकरनालएटीएम मशीनों के साथ छेडछाड कर लाखों रुपये चोरी करने वाले 2...

एटीएम मशीनों के साथ छेडछाड कर लाखों रुपये चोरी करने वाले 2 आरोपी गिरफ्तार

प्रवीण वालिया, करनाल:
जिला पुलिस करनाल की डिटेक्टिव स्टाफ की टीम द्वारा दो ऐसे आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है, जिन्होने एटीएम मशीनों के साथ छेडछाड करके लाखों रूपये चोरी करने की वारदातों को अंजाम दिया था। इस संबंध में 11.09.2022 को पुलिस थाना रामनगर में एक शिकायत प्राप्त हुई।

एटीएम मशीनों के साथ छेडछाड करके की लाखों की रूपये चोरी

जिसमें आकाश दीप चौहान पुत्र विनोद कुमार चौहान वासी बेगमपुर वेस्ट दिल्ली ने बताया कि वह राईटर बिजनैस सर्विस कम्पनी में चैनल मैनेजर के पर कार्यरत है। उसका एक एटीएम रामनगर करनाल में स्थित है। उस एटीएम पर पिछले काफी समय से कोई व्यक्ति मशीन के साथ छेडछाड करके उसमें से पैसे निकाल रहा है और इन व्यक्तियों द्वारा पानीपत, कुरूक्षेत्र व यमुनानगर जिलों के भी काफी एटीमएम से पिछले कुछ समय में कुल 2.5 लाख रूपये निकाले गए हैं। इस संबंध में थाना रामनगर में अज्ञात आरोपियों के खिलाफ धारा 379, 420 आईपीसी के तहत मामला दर्ज किया गया।

बैंक को भारी नुकसान

मामले की आगामी तफ्तीश एएसआई कृष्ण कुमार डिटेक्टिव स्टाफ को सौंपी गई। दौराने तफ्तीश दिनांक 13 सितम्बर 2022 को दो आरोपियों साकेत खेतान पुत्र कृष्ण मुरारी वासी न्यू कालोनी गांधी चौक छपरा बिहार हाल तुगलकाबाद एक्टेंशन गली न0.26 साऊथ दिल्ली व अफरोज खान पुत्र मंजूर खान वासी रसूलपुर छपरा बिहार हाल नव जीवन कैम्प गोबिन्दपुरी कालकाजी साऊथ दिल्ली को रामनगर करनाल से गिरफ्तार किया गया। आरोपियों को 14 सितम्बर को पेश अदालत करके दो दिन के पुलिस रिमाण्ड पर लिया गया। दौराने रिमाण्ड आरोपियोें से पूछताछ में जांच में खुलासा हुआ कि आरोपी पिछले करीब तीन महिने से ऐसी वारदातों को अंजाम दे रहे थे और आरोपी उपरोक्त जिलों में कैनरा बैंक की एटीएम मशीनों में ही वारदातों को अंजाम दे रहे थे। जांच में खुलासा हुआ कि आरोपियों ने एटीएम मशीन से पैसे निकलने वाली जगह पर फिट करके खास तरीके की स्टील की पत्तियां बनवा रखी थी।

पहले आरोपी विभिन्न जिलों में कैनरा बैंक की एटीएम मशीनों की रैकी करते थे। जैसे ही एटीएम के अन्दर या आसपास कोई भी व्यक्ति नही होता था तो आरोपी एटीएम में बडे ही शामिर तरीके से वह पत्ती फिट कर देते थे। जब कोई व्यक्ति एटीएम से पैसे निकालने के लिए आता था तो सारी प्रक्रिया पूरी करने के बाद भी उसके पैसे नही निकलते थे। क्योंकि उनमें से कुछ पैसे आरोपियों की पत्ती में फस जाते थे बाकि एटीएम के कैश बाक्स में गिर जाते थे। पैसे निकालने वाले व्यक्ति के जाते ही आरोपी अपनी पत्ती को रूपयों सहित निकालकर मौका से फरार हो जाते थे। वह पैसे एटीएम से पैसे निकालने आए व्यक्ति के खाते में तो वापिस पंहुच जाते थे लेकिन बैंक के खाते में से यह रूपये कट जाते थे। जिससे बैंक को भारी नुकसान हो रहा था।

फेसबुक से वीडियो देखकर एटीएम मशीन से फ्राड करने की योजना

जांच में यह भी खुलासा हुआ कि आरोपियों ने फेसबुक से वीडियो देखकर एटीएम मशीन में से फ्राड करने की योजना बनाई थी। जिसमें आरोपी कामयाब भी हो गए थे। आरोपियों इन वारदातों को अंजाम देने के लिए कभी रेल में तो कभी बस में बैठकर विभिन्न जिलों तक जाते थे। आरोपियों द्वारा इन जिलो में करीब 20 ऐसी वारदातों को अंजाम दिया जा चुका है। आरोपियों के कब्जे से कुल 76 स्टील की छोटी-बडी पत्तियां, 40,000 रूपये की नगदी, एक काली टेप व अन्य सामान बरामद किया गया है।आरोपियों को पेश अदालत करके न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

ये भी पढ़ें : चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों का जिला सचिवालय पर प्रदर्शन 28 को

ये भी पढ़ें : आम आदमी पार्टी वर्कर्स लोगों के बीच जाकर खोले भाजपा की पोल : अनुराग ढांडा

ये भी पढ़ें : संक्रांति पर्व पर सजा दीवान, बरताया अटूट लंगर

ये भी पढ़ें : एप डाउनलोड करा शिक्षिका से हड़पे साढ़े 97 हजार रुपये, केस दर्ज

 Connect With Us: Twitter Facebook

 

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular