Homeहरियाणाकैथलश्री गुरु ग्रंथ साहिब की शिक्षा से जीवन को बनाए सफल: भाई...

श्री गुरु ग्रंथ साहिब की शिक्षा से जीवन को बनाए सफल: भाई रणजीत

मनोज वर्मा, कैथल:

श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी महाराज में दर्ज गुरबाणी जीवन का आधार है। गुरबाणी और उसकी शिक्षाओं को जीवन में आत्मसात करके जिंदगी को सफल बनाया जा सकता है। यह विचार सिख मिशन हरियाणा के प्रचार भाई रणजीत सिंह ने प्रकट किए।

वे साहिब श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी महाराज के पहले प्रकाश गुरपर्व को समर्पित गांव लदाना चकू के गुरुद्वारा श्री सिंघ सभा में कराए महान गुरमत समागम और अमृत संचार कार्यक्रम में संगत से रूबरू हो रहे थे। उन्होंने कहा कि श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी के लड़ लग कर मानव अपनी जिंदगी को सुखमय बना सकता है, लेकिन इसके लिए सच्ची लगन से गुरु महाराज की शरण में आना होगा। प्रचारक भाई इंदरपाल सिंह ने संगत का मार्गदर्शन करते हुए कहा कि श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी महाराज में दर्ज बाणी के प्रकाश से जीवन के अंधकार को मिटाया जा सकता है। गुरबाणी के शिक्षाओं को आत्मसात करके सभी दुखों से छुटकारा पाया जा सकता है। प्रचारक ने संगत से आह्वान किया कि बच्चों को बचपन से ही गुरबाणी से जोड़ऩा चाहिए, जिससे वे आदर्श नागरिक बन सकेंगे।

संगत को गुरु इतिहास से जोड़ा

कार्यक्रम में श्री दरबार साहिब अमृतसर से हजूरी रागी भाई दविंदर सिंह बटाला ने शब्द कीर्तन किया, जबकि धर्म प्रचार कमेटी श्री अमृतसर से ढाडी भाई गुरपेज सिंह चविंडा ने अपनी वारों से संगत को गुरु इतिहास से जोड़ा। भाई जोरावर सिंह के कविशरी जत्थे ने अपनी रचनाओं से श्री गुरु ग्रंथ साहिब महाराज व गुरबाणी की महिमा का गुणगान किया। कार्यक्रम में सिख मिशन हरियाणा द्वारा गुरमत प्रचार का साहित्य भी वितरित किया गया। इस दौरान अवतार सिंह चक्कू, गुरुद्वारा साहिब के हैड गं्रथी भाई शेर सिंह, भाई साहब सिंह, सिख मिशन हरियाणा के प्रभारी भाई मंह्यगप्रीत सिंह, प्रचारक बचितर सिंह, गुरुद्वारा निरीक्षक गुरविंदर सिंह, हरकीरत सिंह सहित भारी तदाद में संगत मौजूद रही।

ये भी पढ़ें : अत्यधिक स्पीड और लापरवाही से गाड़ी चलाने के कारण सड़क दुर्घटनाओं में काफी इजाफा हो रहा है

ये भी पढ़ें : मशरूम इकाई स्थापित करने के लिए राज्य सरकार द्वारा आवेदन आमंत्रित : डीसी राहुल हुड्डा

ये भी पढ़ें : हरियाणा के राज्यपाल तथा महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय के कुलाधिपति बंडारू दत्तात्रेय ने विश्वविद्यालय में नव-निर्मित फैकल्टी डेवलपमेंट सेंटर (एफडीसी) भवन का उद्घाटन किया

Connect With Us: Twitter Facebook
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular