Homeराज्यहरियाणाAgro Forestry के लिए अनुकूल परिस्थितियों का होगा निर्माण

Agro Forestry के लिए अनुकूल परिस्थितियों का होगा निर्माण

आज समाज डिजिटल, चंडीगढ़:
मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में हरियाणा सरकार के अथक प्रयासों से Agro Forestry में भी राज्य शानदार प्रदर्शन कर रहा है। आज हरियाणा की राष्ट्रीय और वैश्विक स्तर पर कृषि वानिकी क्षेत्र के तहत किए गए कार्यों के लिए सराहना की जा रही है।

प्रदेश को पीएम से मिल चुकी सराहना

हाल ही में एक राष्ट्रीय वेबिनार के दौरान हरियाणा को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कृषि वानिकी में किए गए प्रयासों के लिए सराहना मिली। कृषि वानिकी एकमात्र तरीका है जिससे राज्य हरित आवरण के तहत अपने क्षेत्र को बढ़ा सकता है। हरियाणा ने प्रदर्शित किया है कि वनों के अंतर्गत केवल 3.5 प्रतिशत क्षेत्र और कृषि के तहत 80 प्रतिशत से अधिक क्षेत्र के साथ वन और प्राकृतिक संसाधनों की कमी के बावजूद कैसे खाद्य सुरक्षा और वुड सरप्लस स्टेट बना जा सकता है।

जलवायु प्रदूषण बन रहा चुनौती

‘ब्रेड बास्केट आफ इंडिया’ के रूप में जाना जाने वाला हरियाणा मुख्यमंत्री मनोहर लाल के नेतृत्व में कृषि वानिकी में अग्रणी रूप में जलवायु परिवर्तन की चुनौतियों का समाधान करने के लिए यूएनएफसीसीसी-सीओपी के दौरान ग्लासगो में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दिए गए आदर्श वाक्य ‘पंचामृत’ पर काम करने के लिए प्रतिबद्ध है। राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाएं और परियोजनाएं जैसे ‘आक्सी-वन’, ‘प्राण वायु देवता’, ‘मेरा पानी-मेरी विरासत’ फसल विविधीकरण को बढ़ावा देने और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेट जीरो एमिशन लक्ष्य को 2070 तक प्राप्त करने के कुछ उदाहरण हैं।

Read Also : Statement of Deputy CM पांच राज्यों के चुनावी परिणाम पर बोले डिप्टी सीएम, कहा- कांग्रेस देश से समाप्त

Connect With Us : TwitterFacebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular