Home राज्य पंजाब Do help: Today society and ITV took up the task of serving the hungry in Patiala: करो ना मदद : आज समाज और  आईटीवी ने उठाया पटियाला में भूखों की सेवा का बीड़ा

Do help: Today society and ITV took up the task of serving the hungry in Patiala: करो ना मदद : आज समाज और  आईटीवी ने उठाया पटियाला में भूखों की सेवा का बीड़ा

1 second read
0
271

पटियाला। अखबार आज समाज और आईटीवी नेटवर्क ने न कोरोना और न भूख से मरने देंगे अभियान में पटियाला के लोगों ने भी योगदान देना शुरू कर दिया है। इस मुहिम में यहा पटियाला की संस्थाएं जुड़ीं, वहीं शहर के कई समाजसेवी व गणमान्य लोग भी जुड़ने लगे हैं।

इसके तहत बेसहारा, बेघरों और गरीबों को भूख से निजात दिलाने के लिए उनके लिए दोपहर और रात का लंगर पहुंचाने की व्यवस्था शुरू की है। इन्होंने अपना हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है, जो भी भूखा होगा उसे खाना उसके घर तक भिजवाया जा रहा है। यहीं नहीं इनकी तरफ से फुटपाथ और झुग्गी झोपड़ी में रहने वालों को खाना मुहैया कराया जा रहा है। इसमें पटियाला पुलिस भी अपना भरपूर सहयोग दे रही है।

काली माता मंदिर का शिव शक्ति सेवा दल और समाजसेवी नीलकमल जुनेजा ने भी हमारी पहल में हिस्सेदारी निभाई है। नीलकमल जुनेजा ने बताया कि उन्होंने संकल्प लिया है कि जब तक शहर में लॉकडाउन और कर्फ्यू की स्थिति है, तब तक वे अपनी तरफ से इस दल और साथियों के साथ लोगों को दोपहर और रात का लंगर उपलब्ध कराते रहेंगे। उन्होंने बताया कि आज 23 नंबर फाटक के नीचे उन्होंने अपने सहयोगी हरमन कोहली, आशीष मंगला, अमर सिंगला, शशांक गौतम के सहयोग से बेघरों को लंगर खिलाया और उन्हें कोरोना के खतरे से आगाह किया। जुनेजा ने बताया कि उन्होंने अपने मोहल्लावासियों और दोस्तों से भी अपील की है हर व्यक्ति अपने घर से चार रोटी और सब्जी पैक करके उन्हें उपलब्ध कराए, ताकि वे ज्यादा से ज्यादा लोगों की मदद कर सकें।

वहीं, जय दुर्गा सेवा दल की तरफ से भी उनके मेंबर घरों में रोटी और सब्जी जरूरतमंदों को उनके ठिकाने पर जाकर दे रहे हैं। क्लब के प्रधान रमनदीप ने बताया कि वे बेसहारों के लिए हर वक्त रोटी-सब्जी उपलब्ध करा रहे हैं। जिसे भी जरूरत हो वो इस नंबर पर 7814314005 संपर्क कर सकता है। इसमें शिवसेवा बालठाकरे पंजाब के कार्यकारी प्रधान हरीश सिंगला भी मदद कर रहे हैं। उनकी सभी लोगों से अपील है कि जहां भी उचित समझें लोग इन बेसहारों का हारा बनकर उनकी भूख मिटाएं। इसके अलावा उन्हें कोरोना के खतरे के प्रति भी जागरूक किया जा रहा है।

-चंदन स्वप्निल

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In पंजाब

Check Also

जब गुरदासपुर आजादी के वक्त पाकिस्तान के हिस्से चला गया था

अरुण कुमार लुधियाना/गुरदासपुर, 14 अगस्त: देश आजादी की 74वीं सालगिरह मना रहा है, लेकिन 15 अ…