पटियाला। पंजाब के मैडीकल शिक्षा और खोज मंत्री श्री ओ.पी. सोनी ने आज यहाँ कहा कि कोविड -19 की दूसरी लहर से मानवीय जानें को बचाने के लिए पंजाब में सरकारी मैडीकल कालेजों के अस्पतालों में बैंड सामर्थ्य 25 प्रतिशत तक बधाई जा रही है।  सोनी आज यहाँ सरकारी मैडीकल कालेज में राजिन्दरा हस्पताल में कोविड मरीजों की संभाल और इलाज प्रबंधों का जायज़ा लेने बाद में पत्रकारों के साथ बातचीत कर रहे थे। इस मौके उन के साथ नगर निगम के मेयर  संजीव शर्मा बिट्टू और प्रमुख सचिव  डी.के. तिवाड़ी भी मौजूद थे।
 ओ.पी. सोनी ने बताया कि कोविड की पूरे देश भर में पैदा हुई गंभीर स्थिति के मद्देनज़र मुख्य मंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने सूबो में कोविड इलाज के लिए सरकारी मैडीकल कालेजों के अस्पतालों, ज़िला अस्पतालों समेत बठिंडा और मोहाली के आरज़ी अस्पतालों में 2000 कोविड बैंड सामर्थ्य बढ़ाने के आदेश दिए हैं, जिस को जल्दी मुकम्मल कर लिए जाने की पूरी संभावना है। उन कहा कि हालात की गंभीरता को देखते हुए लोगों की समय सिर टेस्टिंग और हस्पताल जल्दी दाख़िल होना लाज़िमी है। परंतु लोग देरी करके उस समय हस्पताल आते हैं जब मरीज़ की हालत बहुत ज़्यादा गंभीर हो जाती है, जिस करके सरकारी राजिन्दरा हस्पताल में मरीजों की मौत दर का संख्या अधिक है।
मैडीकल शिक्षा और खोज मंत्री ने आगे बताया कि राजिन्दरा हस्पताल में आक्सीजन की पायप लगे हुए स्तर -2के 125 बैंड बढ़ाए जा रहे हैं जबकि 125 बैंड पोस्ट कोविड केयर के लिए बढ़ाए जाएंगे। इसतों इलावा आक्सीजन की निर्विघ्न स्पलाई के लिए दो मैनीफोलड लगाऐ जाएंगे और 20,000 लीटर सामर्थ्य वाला आक्सीजन टेक भी लगेगा। श्री सोनी ने ओर बताया कि 30 आक्सीजन जनरेटर पहुँच गए हैं और हस्पताल की माँग मुताबिक 1000 -1000 सिलंडर बड़े और छोटे भी जल्दी ख़रीदे जा रहे हैं। इस के साथ ही 200 नरसिंग अमले और 200 दर्जा चार अमलो की भरती की जा रही है। सेवा मुक्त फेकल्टी की सेवाओं लेने समेत सेवा मुक्त होने वाले ओर अमलो की जगह नयी भरती को भी मंज़ूरी दी गई है।
श्री सोनी ने कहा कि पंजाब सरकार की तरफ से कोविड विरुद्ध लड़ी जा रही जंग को मुख्य मंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह की हर स्तर पर बहुत बारीकी के साथ नज़र रख रहे हैं और मुख्य मंत्री के आदेशों पर पंजाब में अपने निवासी मरीजों के इलावा दिल्ली और बाहर के राज्यों से आने वाले मरीजों को भी इलाज सहूलतें मुहैया करवाई जाएंगी।
उन्हों ने एक ओर सवाल के जवाब में बताया राजिन्दरा हस्पताल में कोविड मरीजों की संभांल के लिए कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी जा रही और जहाँ कहीं कोई कमी पेशी है, उसको दूर कर लिया जायेगा और हस्पताल प्रबंधन को ओर भी चौकस रहने के आदेश दिए गए हैं। इस के इलावा कोविड वार्ड में सी.सी.टी.वी. कैमरे लगाके कंट्रोल रूम में मौनिटर लगाया जा रहा है। उन हस्पताल में खाने बारे बताया कि मरीजों को अपेक्षित ख़ुराक देने समेत अंडे और दूध भी मुहैया करवाया जायेगा।
श्री सोनी ने कहा कि पंजाब के तीनों मैडीकल कालेज कोविड विरुद्ध जंग में अहम योगदान डाल रहे हैं और स्तर -2और स्तर -3(गंभीर और ओर बीमारियों के साथ ग्रसित) मरीजों का बहुत ही तनदेही के साथ इलाज कर रहे हैं और अब तक 60 लाख से और ज्यादा कोविड टैस्ट किये जा चुके हैं।
श्री ओ.पी. सोनी ने राजिन्दरा हस्पताल के डाक्टरों, नरसिंग और ओर अमलो की प्रशंसा भी की। उन्हों ने कहा कि कोविड में मौत का बड़ा कारण मरीजों का देरी के साथ अस्पतालों में पहुँचना और ओर गंभीर बीमारियों का शिकार होना सामने आया है, इस लिए कोविड जंग में लोगों को जागरूक करन के लिए मीडिया भी सरकार का साथ दे। इस मौके नगर निगम के मेयर श्री संजीव शर्मा बिट्टू ने हस्पताल में मरीजों की संभांल के लिए प्रबंधों को सुचारू ढंग के साथ पूरे करवाने के लिए नगर निगम के पूर्ण सहयोग का भरोसा दिया।
इस मौके राजिन्दरा कोविड इंचार्ज सुरभी मलिक, मैडीकल कालेज के प्रिंसिपल डा. राजन सिंगला, वाइस प्रिंसिपल डा. आर.पी.ऐस. सिबिया, मैडीकल सुपरडैंट डा. ऐच.ऐस. रेखीय, ओ.ऐस.डी. संजीव शर्मा, डा. विनोद डंगवाल, डा. विशाल चोपड़ा, डा. अमनदीप सिंह स्वामी और ओर डाक्टर मौजूद थे।
फोटो कैप्शन – पंजाब के मैडीकल शिक्षा और खोज मंत्री श्री ओ.पी. सोनी पटियाला के सरकारी मैडीकल कालेज में राजिन्दरा हस्पताल में कोविड के इलाज प्रबंधों का जायज़ा लेते हुए। उन के साथ नगर निगम के मेयर श्री संजीव शर्मा, मैडीकल शिक्षा और खोज विभाग के प्रमुख सचिव श्री डी.के. तिवाड़ी, कोविड इंचार्ज श्रीमती सुरभी मलिक और ओर डाक्टर भी नज़र आ रहे हैं।