Homeखेलक्रिकेटSanjay Bangar's holiday fixed: संजय बांगड़ की छुट्टी तय

Sanjay Bangar’s holiday fixed: संजय बांगड़ की छुट्टी तय

नई दिल्ली। टीम इंडिया के सपोर्ट स्टाफ की तलाश गुरुवार 22 अगस्त को खत्म हो जाएगी। जहां गेंदबाजी और फील्डिंग कोच को बरकरार रखा जा सकता है, वहीं बैटिंग कोच संजय बांगड़ की छुट्टी तय मानी जा रही है। संजय बांगड़ से इस पद के लिए हुए इंटरव्यू में भी काफी कड़े सवाल पूछे गए। मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद की अगुआई वाली चयन समिति ने संजय बांगड़ से डेढ़ घंटे तक सवाल-जवाब किए। बीसीसीआई के नए संविधान के मुताबिक, सपोर्ट स्टाफ का चुनाव चयन समिति को ही करना है।
भारतीय क्रिकेट टीम के हेड कोच के तौर पर रवि शास्त्री को दोबारा चुन लिया गया है। उन्हें कपिल देव की अगुआई वाली क्रिकेट सलाहकार समिति ने दोबारा कोच चुना और अब टीम को बल्लेबाजी, गेंदबाजी और फील्डिंग कोच की तलाश है। सूत्रों के अनुसार, संजय बांगड़ की छुट्टी तय है और उनकी जगह विक्रम राठौड़ को बल्लेबाजी कोच बनाए जाने की चर्चा भी जोरों पर है। बैटिंग कोच के लिए इंटरव्यू में संजय बांगड़ से करीब 90 मिनट तक सवाल पूछे गए। वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में मिली हार के बाद से ही संजय बांगड़ के लिए हालात सही नहीं थे।
बांगड़ से सवाल पूछा गया कि आखिर वह टीम के बल्लेबाजी क्रम को सेट क्यों नहीं कर सके। साथ ही दो साल के कार्यकाल में वे सीमित ओवर के प्रारूप में भारतीय टीम की चौथे नंबर की बड़ी समस्या का भी समाधान नहीं तलाश सके। इतना ही नहीं, वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में महेंद्र सिंह धोनी को सातवें नंबर पर भेजने के फैसले को लेकर भी वे आलोचकों के निशाने पर हैं।
पिछले साल केपटाउन टेस्ट में भारतीय टीम 208 रन के लक्ष्य का पीछा करने में नाकाम रही थी। बांगड़ से इसे लेकर भी सवाल पूछे गए। इसके अलावा 2018 में एजबेस्टन टेस्ट में चेतेश्वर पुजारा को न खिलाने को लेकर भी बांगड़ से जवाब तलब किया गया। यह मैच भारतीय टीम 31 रन से हारी थी। संजय बांगड़ इंटरव्यू में पूछे गए अधिकतर सवालों के सही जवाब नहीं दे सके।
सपोर्ट स्टाफ में गेंदबाजी कोच भरत अरुण और फील्डिंग कोच आर श्रीधर को कायम रखा जा सकता है। टीम इंडिया ने इन दोनों ही विभागों में काफी बेहतरीन खेल दिखाया है। ऐसे में सिर्फ बल्लेबाजी कोच के नाम में बदलाव होने की उम्मीद है। इस पद के लिए विक्रम राठौड़ पहली पसंद हो सकते हैं। हालांकि इस पद के लिए प्रवीण आमरे भी रेस में हैं। जहां तक फीजियो के पद की बात है तो टीम इंडिया के पूर्व फीजियो नितिन पटेल को दोबारा ये जिम्मेदारी दी जा सकती है।
टीम इंडिया के सपोर्ट स्टाफ के लिए 50 से भी ज्यादा आवेदन आए हैं। बैटिंग कोच के लिए 14 दावेदारों के इंटरव्यू हुए, जबकि गेंदबाजी कोच के लिए 12 और फील्डिंग कोच के लिए 9 लोगों के इंटरव्यू हुए। वहीं, फिजियोथेरेपिस्ट पद के लिए 16 और स्ट्रेंथ एंड कंडीशनिंग कोच के लिए 12 आवेदनकर्ताओं के इंटरव्यू हुए। इसके अलावा, सीनियर पुरुष टीम के प्रशासनिक मैनेजर के पद के लिए 25 लोगों ने आवेदन किया है।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular