HomeदेशToxic smoke emanating from Wonder Cement's factory: वंडर सीमेंट की फैक्ट्री से...

Toxic smoke emanating from Wonder Cement’s factory: वंडर सीमेंट की फैक्ट्री से निकलता जहरीला धुआं, बंजर होती निम्बाहेड़ा की जमीन

आज समाज डिजिटल, चित्तौड़गढ:

Toxic smoke emanating from Wonder Cement’s factory: राजस्थान के चित्तौड़गढ़ के निम्बाहेड़ा के संगरिया गांव में मौजूद वंडर सीमेंट की फैक्ट्री में नियमों की धज्जियां उड़ रही हैं। इस फैक्ट्री में लगातार नियमों को ताक पर रखकर अरावली की पहाड़ियों को मिट्टी में तब्दील किया जा रहा है। सुप्रीम कोर्ट की रोक के बावजूद वंडर सीमेंट यहां पर अवैध माइनिंग कर रहा है। यहां पर मौजूद किसानों से सस्ते दामों पर जमीनें बेचने का दबाव बनाया जा रहा है। इतना सब होने के बावजूद प्रशासन आंख बंद करके बैठा है।

एक जमाने में हरियाली से सराबोर रहने वाला निम्बाहेड़ा अब वीरान शहर में बदल गया है। यहां मौजूद वंडर सीमेंट की फैक्ट्री से निकलते जहरीले धुएं ने लोगों का जीना दुश्वार कर दिया है। यहां हो रही पेड़ों की अंधाधुंध कटाई और सीमेंट फैक्ट्री की वजह से उड़ने वाली धूल से अब यहां सिर्फ बंजर जमीन देखने को मिलती है। फैक्ट्री से निकलते प्रदूषण ने न सिर्फ यहां रहने वाले लोगों की सेहत पर असर डाला है, बल्कि खेती भी नाममात्र की रह गई है।

बीमारियों से जूझ रहे निम्बाहेड़ा के लोग

Toxic smoke emanating from Wonder Cement's factory

यहां मौजूद लोगों का कहना है कि इस फैक्ट्री से निकलने वाला धुआं और मिट्टी उनके घरों की छतों पर जम जाती है। इस उड़ती धूल से मवेशियों के चारे को बचाने के लिए ढक कर रखते हैं। फैक्ट्री के लोगों ने दादागिरी कर उनके खिलाफ उठने वाली आवाज को दबा रखा है। वंडर सीमेंट ने न तो यहां के लोगों को रोजगार दिया और न ही उनके हित में कोई काम किया, सिवाए सांस न लेने वाली बीमारी के। इस फैक्ट्री से निकलने वाले प्रदूषण की वजह से गांव के लोगों पर सिलिकोसिस नाम की एक खतरनाक बीमारी का खतरा मंडरा रहा है।

फैक्ट्री में माइनिंग की वजह से कई घरों की छतें ढही

Toxic smoke emanating from Wonder Cement's factory

वंडर सीमेंट फैक्ट्री लगातार अरावली का सीना छलनी करती रहती है। जिससे यहाँ मौजूद घरों में बड़ी-बड़ी दरारें आ जाती है। फैक्ट्री में होने वाली माइनिंग की वजह से कई घरों की छतें तक ढह चुकीं हैं। फैक्ट्री के मैनेजमेंट के लोग यहां के किसानों पर दबाव बना कर सस्ते दामों पर उनसे जबरदस्ती जमीन खरीदते हैं, और उन्हें चुप रहने के लिए धमकाया भी जाता है। पिछले 15 सालों में इस फैक्ट्री ने संगरिया गांव में एक भी विकास का कार्य नहीं करवाया है। गांव की सड़कों में जगह जगह गड्ढे बने हुए हैं, जिनमें गंदा पानी भरा रहता है। इस गांव में घरों से गंदा पानी निकलने के नालियां तक नहीं हैं। गांव में बिजली तो है लेकिन रात के समय सड़कों पर रोशनी नहीं होती।

Also Read: BGMI Redeem Code Today 21 March 2022

Connect With Us : TwitterFacebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular