Homeदेशधमकी: शिमला भी बन सकता है निशाना, मोहाली हमले से लें सबक

धमकी: शिमला भी बन सकता है निशाना, मोहाली हमले से लें सबक

आज समाज डिजिटल, मंडी:
धर्मशाला में विधानसभा परिसर में खालिस्तानी झंडे लगाने के बाद मोहाली में बीती रात को पंजाब पुलिस के इंटेलिजेंस ब्यूरो दफ्तर पर हमला हुआ। अब सिक्ख फार जस्टिस के प्रमुख गुरपतवंत पन्नू ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को फिर धमकी दी है। मुख्यमंत्री को सिक्ख फार जस्टिस से दूर रहने की हिदायत दी है। पन्नू की तरफ से इस संबंध में मंडी के पत्रकारों का ऑडियो भेजा है कि हिमाचल के सीएम मोहाली ब्लास्ट से सबक लें।

ये भी पढ़ें : बिजली संकट, तीन यूनिटों में उत्पादन बंद, बढ़ी मांग

सिक्ख फार जस्टिस से न उलझने की हिदायत

आडियो मैसेज में पन्नू ने कहा कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर चंडीगढ़ में हुए आरपीजी अटैक से सबक लें, ऐसा अटैक शिमला पुलिस मुख्यालय पर भी हो सकता है। उन्होंने कहा वह सिक्ख फार जस्टिस के साथ न उलझें और पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान को देख लें। पन्नू ने चेतावनी दी है कि अगर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने तपोवन विधानसभा में खालिस्तान के झंडे लगाने के मामले में कोई कार्रवाई करते हैं तो सिक्ख फार जस्टिस इसे उल्लंघन समझेगी और इसका परिणाम मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को भुगतना होगा।

हिमाचल की सीमाओं पर चेकिंग

प्रदेश में खालिस्तान समर्थकों की लगातार मिल रही धमकियों को भी सरकार ने गंभीरता से लिया है और पुलिस प्रदेश मुख्यालय में भी सुरक्षा भी बढ़ेगी। हिमाचल में धर्मशाला में विधानसभा परिसर में गेट पर खालिस्तानी बैनर लगाने के बाद सूबे की सीमाओं पर चैकिंग बढ़ाई गई है। पुलिस का पहरा बढ़ा है और गाड़ियों की चेकिंग की जा रही है। हिमाचल में बीते कुछ दिन से खालिस्तान से जुड़ी गतिविधियां बढ़ी हैं। इसके अलावा, पंजाब में भी ऐसी गतिविधियां बढ़ी हैं।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular