Homeचुनाव-2022पांच दंपति मैदान में, भाजपा ने नहीं दिया टिकट तो डिप्टी सीएम...

पांच दंपति मैदान में, भाजपा ने नहीं दिया टिकट तो डिप्टी सीएम की पत्नी आजाद Goa Assembly Election 2022 Update

Goa Assembly Election 2022 Update पांच दंपति मैदान में, भाजपा ने नहीं दिया टिकट 

आज समाज डिजिटल, अंबाला :

Goa Assembly Election 2022 Update : पांच राज्यों में चुनाव की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। आज सबसे अलग बात करते हैं गोवा चुनाव की। इस बार यह चुनाव कई मायनों में रोचक होने जा रहा है।(Goa Assembly Election 2022 Update ) इस बार पांच जोड़े चुनावी मैदान में हैं। कहीं पति और पत्नी एक ही पार्टी से चुनाव लड़ रहे हैं तो कहीं टिकट न मिलने से नाराज पत्नी निर्दलीय ही राजनीतिक रणभूमि में कूद पड़ी है। अगर ये सभी कपल चुनाव जीत जाते हैं तो 40 सीट वाली गोवा विधानसभा में 25% संख्या जोड़ों की हो जाएगी।

भाजपा का दो कपल्स को टिकट

गोवा में इस समय सत्ता संभाल रही भारतीय जनता पार्टी ने 2 कपल्स को टिकट दिया है। टिकट न मिलने से नाराज एक प्रत्याशी की पत्नी निर्दलीय मैदान में उतर गई है। (Goa Assembly Election 2022 Update) वहीं, कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस ने भी 1-1 कपल को टिकट दिया है। भाजपा ने राज्य के स्वास्थ्य मंत्री विश्वजीत राणे को वलोपी विधानसभा सीट से टिकट दिया है। राणे की पत्नी देविया को पार्टी ने पोरियम सीट से मैदान में उतारा है। वह पहली बार चुनाव लड़ रही हैं। इस सीट से वर्तमान में देविया के ससुर प्रतापसिंह राणे कांग्रेस पार्टी के विधायक हैं। प्रतापसिंह को कांग्रेस इस बार भी अपना प्रत्याशी बनाना चाहती थी, लेकिन उन्होंने चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया।

पत्नी सहित कमल थामने वाले मोनसेराते को टिकट

भाजपा ने पणजी विधानसभा सीट से अतानासियो मोनसेराते को टिकट दिया है। पूर्व सीएम मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद अतानासियो ने 2019 में हुए उपचुनाव में इस सीट से कांग्रेस प्रत्याशी के तौर पर जीत दर्ज की थी। जीत के बाद 2019 में उन्होंने अपनी पत्नी और 8 कांग्रेस विधायकों के साथ भाजपा ज्वाइन कर ली थी। वहीं, उनकी पत्नी जेनिफर बीजेपी के ही टिकट पर तलेईगाओ से चुनाव लड़ रही हैं। इससे पहले 2017 में जेनिफर कांग्रेस के टिकट पर तलेईगाओ से चुनाव जीती थीं। Goa Assembly Election 2022 Update

डिप्टी सीएम और पत्नी अलग-अलग मैदान में

गोवा के डिप्टी सीएम चंद्रकांत कावलेकर और उनकी पत्नी सावित्री भी मैदान में हैं। चंद्रकांत भाजपा प्रत्याशी के तौर पर अपनी पारंपरिक सीट केपेम से चुनाव लड़ रहे हैं। वहीं, भाजपा से टिकट न मिलने के बाद उनकी पत्नी सावित्री सांगुएम सीट से निर्दलीय चुनाव लड़ रही हैं। 2017 के विधानसभा चुनाव में पति-पत्नी ने कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ा था। चुनाव जीतने के बाद 2019 में चंद्रकांत ने भाजपा का दामन थाम लिया था। वहीं, उनकी पत्नी सावित्री चुनाव हार गई थीं।

पत्नी को टिकट नहीं मिला तो कांग्रेस में आए लोबो

कांग्रेस ने माइकल लोबो को कलंगुट और उनकी पत्नी डेलीलाह लोबो को सिओलिम से टिकट दिया है। डेलीलाह पहली बार चुनाव लड़ रही हैं। भाजपा सरकार में मंत्री रहे माइकल लोबो ने हाल ही में बीजेपी का साथ छोड़कर कांग्रेस का दामन थामा है। वे पत्नी को टिकट न दिए जाने से नाराज थे।(Goa Assembly Election 2022 Update) ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने भी एक कपल को टिकट दिया है। पार्टी ने किरण कंडोलकर को अल्डोना तो उनकी पत्नी कविता को थिविम सीट से टिकट दिया है। किरण कंडोलकर ने हाल ही में गोवा फॉरवर्ड पार्टी का साथ छोड़ दिया।

Also Read : RSMSSB APRO Recruitment 2022 एपीआरओ पदों पर भर्ती, 14 फरवरी तक आवेदन
Connect With Us : Twitter Facebook
SHARE
Mohit Sainihttps://indianews.in/author/mohit-saini/
Humanity Is the Best Religion In The Word
RELATED ARTICLES

Most Popular