Home देश Elections in Bihar but campaigning in Mumbai …बिहार में चुनाव लेकिन प्रचार मुंबई में…

Elections in Bihar but campaigning in Mumbai …बिहार में चुनाव लेकिन प्रचार मुंबई में…

0 second read
0
26

देश का बिहार एक ऐसा राज्य है जहाँ के लोग देश विदेश के हर कोने में बसे हैं लेकिन इसमें वे सबसे अधिक मुंबई में बसे है बिहार के लोग… एक आँकड़े के मुताबिक़ मुंबई में बिहार के 40 लाख लोग रहते हैं… जो अपना गुजर बसर मुंबई में रहकर करते हैं कोई यहाँ बस चुका है तो कोई यहाँ काम की तलाश में आता है और काम करते है चले जाते हैं… इसमें सबसे अधिक संख्या मज़दूरों की भी है जो हाल भी में देश ने देखा की कैसे मुंबई से पैदल ही चल पड़े बिहार की तरफ़ कोरोना के क़हर से…

अब बारी आयी जय ऐसे वोटर का जो अपनी ताक़त दिखा सकते हैं और नेताओ को पता है की बिहारियों के सामने अच्छे से पेश आएँगे तो उन्हें या उनकी पार्टी को वोट मिलेगा…चूँकि मुंबई में बिहारियों की संख्या काफ़ी अधिक है इसलिए यहाँ पर हर पार्टी का फ़ोकस काफ़ी अधिक है… भाजपा बिहार की सत्ता में फिर से आना चाहती है इसलिए भाजपा की तरफ़ से पूरी ताक़त लगा दी गयी है… और मुंबई में जहाँ – जहाँ भी बिहार के लोग हैं उनके घर घर तक पहुँचने का प्लान बना लिया है भाजपा ने… इस प्लान के तहत जाए रोज़ अलग अलग इलाक़े में बिहार के लोगों को समझाने और लुभाने के लिए मुंबई में चुनाव प्रचार कर रहे हैं… इसका असर ये हो रहा है की लोग अब ट्रेन बुक करके बिहार की तरफ़ कूच करने लगे हैं ताकि बिहार के चुनाव में वह अपना कर्तव्य निभा सके और अपनी मनपसंद पार्टी का प्रचार भी कर सके..जो बिहार नहीं भी जा पा रहे हैं वह लोग मुंबई से ही अपने घर वालों और रिश्तेदारों के सम्पर्क में है और किसे वोट करना है किसे सपोर्ट करना है ये सब तय कर रहे हैं. अब आप सोचेंगे की चुनाव तो बिहार में हो रहा है लेकिन मुंबई में प्रचार क्यों… तो यही तो बात है सभी पार्टियों को मुंबई में रह रहे बिहारियों की ताक़त पता चल गया है इसलिए ऐसा पहली बार देखा जा रहा है की बिहार चुनाव के मुंबई में चुनाव प्रचार जमकर किया जा रहा है  एक तरफ़ भाजपा के उत्तर भारतीय नेताओ को बिहार के लोगों को रिझाने का काम दिया गया है ताकि वह गली गली जाकर चुनाव प्रचार करे और वैसा होता हुआ भी दिखाई दे रहा है… मुंबई में उत्तर भारतीय नेता अमरजीत मिश्र पहुँचे मुंबई के कांदीवली इलाक़े के पोईसर में जिसे मिनी बिहार भी कहा जाता है… यहाँ पर वोटर से बात करते हुए लोगों को समझाते हुए नज़र आ रहे हैं …- वहीं कांग्रेस भी कम नहीं है… बिहार चुनाव के लिए कांग्रेस समर्थक भी बिहार की तरफ़ कूच करना शुरू काए दिया है… साथ ही फ़ोन के माध्यम से भी सम्पर्क में हैं… कई लोग तो बिहार के नहीं है फिर भी वह बिहार जा रहे हैं ताकि वह कांग्रेस के लिए चुनाव प्रचार काए सके…

– कांग्रेस के लिए सबसे ख़ास बात है की कांग्रेस के बड़े नेता और वह भी बिहारी संजय निरुपम को स्टार प्रचारक के रूप में नियुक्ति हुई है जिसके कारण भी कांग्रेस के कार्यकर्ता काफ़ी खुश हैं. खुद संजय निरुपम भी काफ़ी खुश हैं वह बिहार जा रहे हैं और जमकर चुनाव प्रचार करेंगे और निरुपम को उम्मीद है की इस बार बदलाव ज़रूर होगा… क्योंकि कुछ भी काम नीतीश कुमार की सरकार ने नहीं किया है.

Load More Related Articles
Load More By Abhishek Sharma
Load More In देश

Check Also

Today I will not give you bytes, you guys do ‘bytes’ – Aditya Thackeray: आज मैं बाइट नहीं दूंगा आप लोग ‘बाइट’ करो- आदित्य ठाकरे

मुंबई। महाराष्ट्र में सरकार को लेकर लगातार उठापटक चल रही है। चुनावों के पहले शिवसेना और भा…