Homeदेशबीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा का राहुल गांधी को जवाब, बोले-वह हमारी भावना...

बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा का राहुल गांधी को जवाब, बोले-वह हमारी भावना को ठेस पहुंचा रहे

आज समाज डिजिटल, नई दिल्ली:
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने अपने दो दिवसीय दौरे के दौरान बीजेपी (BJP) और आरएसएस (RSS) पर जम्मू-कश्मीर के भाईचारे की भावना को तोड़ने का आरोप लगाया है। जिसपर बीजेपी के प्रवक्ता संबित (Sambit Patra) पात्रा ने पलटवार किया है। संबित पात्रा ने कहा, “राहुल गांधी ने एक बार फिर से कश्मीर को लेकर गलत तथ्य दिया है। उन्होंने धार्मिक तुष्टिकरण की बात कही। राहुल गांधी ने अपने को कश्मीर पंडित बताया और वहां की दिक्कत पर दु:ख जताया। कश्मीर में जो भी समस्या है वह नेहरू के कारण ही है। वहां की समस्या आपके तुष्टीकरण के कारण बनी रही।”
बीजेपी प्रवक्ता ने कहा, “अनुच्छेद 370 को हटाने के लिये जब अमित शाह खड़े हुए तो सोनिया गांधी के इशारे पर अधीर रंजन चौधरी कहते हैं यह बाइलेटरल है और इसके लिए क्या पाकिस्तान से पूछा गया। आज कश्मीर में भेदभाव खत्म हो रहा है और विकास के पथ पर देश बढ़ रहा है।” संबित पात्रा ने कहा, “मां वैष्णव देवी के स्थान को हम पिंडिया कहते हैं और राहुल गांधी इसे सिम्बल कहते हैं। वह हमारी भावना को ठेस पहुंचा रहे हैं। मोदी जी के आने के बाद मां की शक्ति कम होने की बात कर रहे हैं। जीएसटी की तुलना लक्ष्मी मां से क्यों कर रहे हैं, आप पहले गब्बर सिंह से इसकी तुलना करते हैं। मां की शक्ति क्षीण नहीं होती है। किसान ने मां के सामने कहा कि किसानों को फायदा हो रहा है। मोदी जी के आने के बाद मां भारती की शक्ति बढ़ी है। शिव जी, वाहे गुरु का हाथ, कांग्रेस का हाथ कहना उनकी अपरिपक्वता को दशार्ता है। जबकि दिग्विजय सिंह पाकिस्तान के प्रवक्ता के तौर पर ही बोलते है।”

राहुल गांधी ने आरएसएस-बीजेपी पर किया था हमला
राहुल गांधी ने शुक्रवार को जम्मू में पार्टी के कार्यकतार्ओं को संबोधित करते हुए कहा कि जब मैं जम्मू-कश्मीर आता हूं तो मुझको लगता है घर आया हूं। जम्मू कश्मीर से मेरे परिवार का पुराना रिश्ता है। उन्होंने कहा कि मुझको यहां आकर खुशी भी हो रही है, लेकिन दुख भी है। दुख की वजह यह है कि, यहां पर जो भाईचारे की भावना है, उसको RSS और BJP तोड़ने का काम कर रहे हैं। लोग कहते हैं कि हाथ के चिह्न का मतलब आशीर्वाद होता है, इसका मतलब आशीर्वाद नहीं होता है, जबकि इसका मतलब डरो मत होता है, सत्य बोलने से डरो मत इसलिए ये चिह्न कांग्रेस पार्टी का चिह्न है और बीजेपी सच्चाई से डरती है। राहुल गांधी ने कहा कि बीजेपी लोगों के लिए डर है और कांग्रेस के लिए प्यार है। जम्मू कश्मीर का राज्य का दर्जा वापस आना चाहिए। उन्होंने कहा कि आज सुबह मैं कश्मीरी पंडित डेलिगेशन से मिला तो उन्होंने कहा कि बीजेपी ने हमारे लिए कुछ नहीं किया, लेकिन कांग्रेस ने हमारे लिए बहुत कुछ किया है। हाथ का निशान आपको हर धर्म में दिखेगा।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular