Homeलाइफस्टाइलये 5 हर्ब्स डायबिटीज को नियंत्रित करने में कर सकते हैं मदद

ये 5 हर्ब्स डायबिटीज को नियंत्रित करने में कर सकते हैं मदद

डायबिटीज एक ऐसी स्थिति है जिसमें रक्त प्रवाह में शर्करा (ग्लूकोज) का निर्माण होता है। तनाव, अधिक वजन बढ़ना और खराब जीवन शैली आदि डायबिटीज होने के कारण बनते हैं। इससे भी बड़ी चुनौती ये है कि डायबिटीज लाइलाज है, आप स्वस्थ और संतुलित आहार का पालन करके ही इसे नियंत्रित कर सकते हैं। लेकिन कुछ हर्बस है जो डायबिटीज के मरीज के लिए फायदेमंद है।

सदाबहार

सदाबहार, इसे +के नाम से भी जाना जाता है। ये एक औषधीय पौधा है जो ज्यादातर उत्तर भारत में पाया जाता है। इस सदाबहार झाड़ी की पत्तियां और फूल टाइप-2 डायबिटीज के इलाज में काफी प्रभावी माने जाते हैं। जड़ी बूटी मलेरिया और गले में खराश जैसी अन्य स्वास्थ्य स्थितियों के इलाज में भी प्रभावी है। इसके लिए आप सदाबहार की कुछ ताजी पत्तियों को चबा सकते हैं। इसका सेवन करने का दूसरा तरीका ये है कि सदाबहार के फूल को एक कप पानी में उबाल लें और फिर इसे रोज सुबह खाली पेट पिएं।

गुड़मार

गुड़मार में फ्लेवोनोल्स और गुरमारिन जैसे गुण होते हैं। ये डायबिटीज से पीड़ित व्यक्ति में ब्लड शुगर के स्तर को कंट्रोल करने में मदद करता है। गुड़मार एक आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है, जिसका इस्तेमाल एलर्जी, खांसी और कब्ज जैसी कई स्वास्थ्य समस्याओं के इलाज में किया जाता है। इसके लिए आपको सुबह खाना खाने से करीब एक घंटे पहले एक चम्मच गुड़मार के पत्तों का चूर्ण पानी के साथ सेवन करना होगा।

विजयसार

विजयसार एक और आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है इसे ब्लड शुगर के स्तर को बनाए रखने के लिए जाना जाता है। ये जड़ी बूटी एंटी-हाइपरलिपिडेमिक गुणों से भरपूर होती है। ये शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करती है। इसके अलावा, विजयसर डायबिटीज के लक्षणों जैसे बार-बार पेशाब आना, अधिक खाना और अंगों में जलन को भी कम करता है। इसके लिए आपको विजयसार प्लांट से बने गिलास बाजार में आसानी से मिल जाते हैं। आपको बस इतना करना है कि गिलास में एक कप पानी डालें, रात भर छोड़ दें और सुबह पहले इसे पी लें।

गिलोय

 इस पौधे की पत्तियां डायबिटीज के स्तर को नियंत्रित करने और डायबिटीज के अन्य लक्षणों के लिए काफी प्रभावी हैं। ये जड़ी बूटी इम्युनिटी को बढ़ावा देने में भी मदद करती है। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट हानिकारक फ्री रेडिकल्स से लड़ते हैं। इसके लिए आप एक कप पानी में एक चम्मच गिलोय पाउडर मिलाकर रात भर के लिए छोड़ दें। इसे सुबह जल्दी पिएं।

जामुन

जामुन के बीज इंसुलिन के स्राव को उत्तेजित करते हैं। ये डायबिटीज से पीड़ित लोगों के लिए फायदेमंद हैं। जामुन के बीज किडनी संबंधित जोखिम को भी कम करते हैं। ये डायबिटीज के रोगियों में घाव भरने की प्रक्रिया को तेज करते हैं। इसके लिए आप रोजाना सुबह खाली पेट एक गिलास पानी के साथ एक चम्मच जामुन के बीज का चूर्ण लें सकते हैं।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments