Homeलाइफस्टाइलअपग्रेड जीत ने अपने एनआरए सीईटी आधारित स्‍कॉलरशिप टेस्‍ट: जीतसीईटी के एक...

अपग्रेड जीत ने अपने एनआरए सीईटी आधारित स्‍कॉलरशिप टेस्‍ट: जीतसीईटी के एक अतिरिक्त स्लॉट की घोषणा की 

नई दिल्ली
एशिया की हायर एजुकेशन टेक्‍नोलॉजी दिग्‍गज अपग्रेड की 100 फीसदी सहायक कंपनी अपग्रेड जीत ने उन उम्मीदवारों के लिए अपने एनआरए सीईटी आधारित स्‍कॉलरशिप टेस्‍ट के तीसरे स्लॉट की घोषणा की है, जो वार्षिक प्रतियोगी परीक्षाओं में बैठने और सरकारी क्षेत्र की नौकरियां हासिल करने की योजना बना रहे हैं।  जीतसीईटी, एनआरए सीईटी आधारित स्‍कॉलरशिप टेस्‍ट को हाल ही में शुरू किया गया था और उसके पहले दो स्लॉट इसी साल 18 और 25 जुलाई को सफलतापूर्वक आयोजित किए गए थे। एक और स्लॉट पेश करने का निर्णय पहले दो स्लॉट को मिले जोरदार रिस्‍पॉन्‍स से प्रेरित था।
 सरकार को भारत में आगामी एनआरए सीईटी (कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्‍ट) के लिए पाठ्यक्रम और पेपर पैटर्न जारी करना बाकी है, जो केंद्र सरकार, सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों और भारतीय रेलवे में अराजपत्रित पदों पर कर्मचारियों की भर्ती के लिए महत्वपूर्ण है। इससे इस परीक्षा को लेकर बहुत भ्रम पैदा हो रहा है क्योंकि उम्मीदवारों के पास पर्याप्त संदर्भ सामग्री नहीं है। इसलिए अपग्रेड जीत ने अपने अनूठे मूल्य प्रस्ताव के साथ सरकार की मदद के लिए इसमें प्रवेश किया है। अपग्रेड जीत इस परीक्षा के लिए आवेदन करने वालों और नौकरी चाहने वालों को एक व्यापक परीक्षा प्रशिक्षण के साथ उन्हें नौकरी करने योग्य बनने के करीब ले जाएगा।
जीत सीईटी: एनआरए सीईटी  आधारित स्‍कॉलरशिप टेस्‍ट उम्मीदवारों को बेहतर तैयारी करने की दिशा देने के लिए अपेक्षित परीक्षा पैटर्न और पाठ्यक्रम का अनुमान लगाने का एक प्रयास है।
यह दो राउंड में विभाजित है। प्रारंभिक दौर के शिक्षार्थी फिर राउंड 2 के लिए उपस्थित होंगे जिसे मेन्स कहा जाता है। इसके बाद केवल 3000 शिक्षार्थी मुफ्त में पाठ्यक्रम की 6 महीने की सदस्यता प्राप्त करने के लिए अपना रास्ता बना पाएंगे। जबकि अन्य शिक्षार्थी एनआरए सीईटी पाठ्यक्रम के लिए 1 महीने की सदस्यता प्राप्त करेंगे। अपग्रेड जीत ने स्कॉलरशिप टेस्ट के दौरान प्रदर्शित होने वाली समग्र क्षमता के आधार पर शिक्षार्थियों की कड़ी मेहनत का फल देने के लिए 151 करोड़ रुपये की राशि के पुरस्कार और स्‍कॉलरशिप की भी घोषणा की है।
इस बारे में अपनी बात रखते हुए अपग्रेड जीत के सीईओ, रितेश रौशन ने समझाया, “प्रतियोगी परीक्षाओं को क्रैक करने के लिए मॉक टेस्ट महत्वपूर्ण हैं, क्योंकि वे आत्मविश्वास बढ़ाने, कमजोरियों की पहचान करने और शिक्षार्थियों को बेहतर तरीके से तैयार करने में मदद करते हैं। वर्तमान में युवाओं के लिए एनआरए सीईटी की तैयारी करने में सक्षम होने के लिए संदर्भ पत्र आसानी
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments