Homeलाइफस्टाइलमानसून में आंखों के संक्रमण का रहता है खतरा

मानसून में आंखों के संक्रमण का रहता है खतरा

बचने के लिए फॉलो करें ये 5 टिप्स

बारिश का मौसम भले ही गर्मी से राहत लेकर आता है लेकिन इसके साथ ही इस सीजन में कई मौसमी बीमारियों के शिकार होने का खतरा भी बढ़ जाता है। बारिश में नमी की वजह से कई तरह के संक्रमण होने की आशंका बनी रहती है। इस मौसम में सबसे ज्यादा आंखों के संक्रमण के मामले सामने आते हैं। आंखें शरीर के सबसे नाजुक हिस्सों में से एक होती है। ऐसे में आंखों का संक्रमण बढ़ने पर यह काफी तकलीफ दायक भी हो जाता है। ऐसे में आई इन्फेक्शन से बचने के लिए कुछ महत्वपूर्ण बातों को ध्यान में रखना जरूरी है। इन टिप्स को फॉलो कर बहुत हद तक संक्रमण से बचा जा सकता है।

आंखों की सफाई

बारिश के मौसम में वातावरण में लगातार नमी बनी रहती है। ऐसे में आंखों की सफाई का खास तौर पर ध्यान रखा जाना चाहिए। इसके लिए सुबह शाम मुंह में पानी भरकर आंखों को धोना चाहिए। इससे आंखों में जमी हुई गंदगी साफ हो जाती है।

पर्याप्त नींद

आंखों के संक्रमण से बचने के लिए पर्याप्त मात्रा में नींद लेना भी जरूरी है। इससे आंखों की थकावट दूर हो जाती है। हमारे शरीर से ज्यादा आंखों लगातार काम करती हैं, ऐसे में उन्हें आराम मिलना भी जरूरी होता है।

धूल और ठंडी हवा से बचें

आंखों के संक्रमण की एक बड़ी वजह वातावरण में मौजूद धूल कण भी होते हैं। नमी की वजह से यह और घातक हो सकते हैं। ऐसे में आंखों को धूल कण, ठंडी हवा, धुएं से जहां तक हो बचाने की कोशिश करना चाहिए। घर से बाहर निकलते वक्त आंखों की सेफ्टी के लिए चश्मा लगाया जा सकता है।

कम्प्यूटर और मोबाइल से लें ब्रेक

आजकल ज्यादातर लोगों को किसी न किसी वजह से कंप्यूटर या मोबाइल पर घंटों वक्त गुजारना पड़ता है, इसलिए यह जरूरी है कि मोबाइल, कंप्यूटर या लैपटॉप पर काम करने के दौरान थोड़ी-थोड़ी देर में ब्रेक लेकर आंखों को आराम दिया जाए।

कॉस्मेटिक से बचें

मानसून में आंखों का संक्रमण तेजी से फैलता है। इस अप्रिय स्थिति से बचने के लिए कम से कम सौंदर्य प्रसाधनों का प्रयोग करें। एक दूसरे के सौंदर्य उत्पादों का इस्तेमाल करने से बचें।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments