Homeलाइफस्टाइलवजन कम करने के बाद ढीली, लटकी त्वचा की देखभाल

वजन कम करने के बाद ढीली, लटकी त्वचा की देखभाल

अनवॉन्टेड वजन कम करना अपने आप में एक कठिन काम है, जो कठिन होते हुए भी फिटनेस के करीब लाता है। हालांकि, जो लोग बहुत ज्यादा वजन कम करते हैं, दूसरी ओर, आमतौर पर बहुत ज्यादा ढीली त्वचा होती है, जो उनकी उपस्थिति और लाइफ की क्वालिटी को नुकसान पहुंचा सकती है। इसलिए नीचे वो सब कुछ है जो आपको जानने की जरूरत है कि आपकी त्वचा की एलास्टिसिटी को क्या प्रभावित करता है और इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए मौजूद नेचुरल ट्रीटमेंट क्या हैं?

वजन घटाने के बाद आपकी त्वचा क्यों ढीली हो जाती है

त्वचा शरीर का सबसे बड़ा अंग है और आंतरिक शरीर और बाहरी दुनिया के बीच एक बैरियर के रूप में कार्य करता है। कोलेजन और इलास्टिन जैसे प्रोटीन आपकी त्वचा की सबसे भीतरी परत बनाते हैं। कोलेजन, जो आपकी त्वचा की संरचना का 80% हिस्सा बनाता है, इसे मजबूती देता है। इलास्टिन एक प्रोटीन है जो आपकी त्वचा को एलास्टिसिटी देता है और इसे टाइट रहने में मदद करता है। हालांकि, जब शरीर के बढ़ते विकास को कंबाइन करने के लिए वजन बढ़ने के दौरान त्वचा का विस्तार होता है। अब से कोलेजन और इलास्टिन फाइबर ज्यादातर खिंचाव की वजह से नष्ट हो जाते हैं और जब वो लंबे समय तक खिंचते रहते हैं तो रिजल्ट के तौर पर वो पीछे हटने की अपनी क्षमता खो देते हैं। नतीजतन, वजन घटाने के बाद शरीर से अतिरिक्त स्किनड्रिप्स निकल जाते हैं।

त्वचा की एलास्टिसिटी को प्रभावित करने वाले फैक्टर्स

वजन घटाने का समय और मात्रा

इलास्टिन और कोलेजन के नुकसान की वजह से, लंबे समय से ज्यादा वजन या मोटापे से ग्रस्त व्यक्ति की त्वचा वजन घटाने के बाद ढीली हो जाएगी। बशर्ते, वजन घटाने की मात्रा त्वचा के ढीलेपन के सीधे आनुपातिक हो। आप जितने ज्यादा वजन वाले हैं, उतना ही ये आपकी त्वचा की एलास्टिसिटी को प्रभावित करता है। ये नहीं भूलना चाहिए कि जो त्वचा ज्यादा उम्र की होती है उसमें छोटी त्वचा की तुलना में कम कोलेजन होता है और वजन घटाने के बाद वो ढीली होती है।

सूर्य के प्रकाश के संपर्क में

त्वचा में कोलेजन और इलास्टिन के प्रोडक्शन को धूप के संपर्क में आने से कम दिखाया गया है, जो ढीली त्वचा में योगदान कर सकता है।

धूम्रपान

धूम्रपान कोलेजन के गठन को कम करता है और मौजूदा कोलेजन को नुकसान पहुंचाता है, जिसके रिजल्ट के तौर पर त्वचा ढीली हो जाती है।

 रेजिस्टेंस ट्रेनिंग में इंगेज हों

नियमित स्ट्रेन्थ ट्रेनिंग एक्सरसाइजेज युवा और बुजुर्ग दोनों व्यक्तियों के लिए मांसपेशियों को प्राप्त करने के लिए सबसे प्रभावी तकनीकों में से एक है। मांसपेशियों में बढ़ोत्तरी न केवल ज्यादा कैलोरी जलाने में मदद करती है बल्कि ढीली त्वचा की उपस्थिति में भी काफी सुधार करती है।

कोलेजन सप्लीमेंट की तलाश करें

कोलेजन हाइड्रोलाइजेट या हाइड्रोलाइज्ड कोलेजन दिखने में जिलेटिन जैसा दिखता है। ये जानवरों के कनेक्टिव टिश्यूज में मौजूद कोलेजन का एक रिफाइंड वर्जन है। हालांकि इसका इस्तेमाल त्वचा को कसने के लिए व्यावहारिक रूप से साबित नहीं है, कई स्टडीज से पता चलता है कि ये त्वचा के कोलेजन पर सुरक्षात्मक प्रभाव डाल सकता है। इसके अलावा, आप त्वचा को कसने में मदद करने के लिए कोलेजन और इलास्टिन बेस्ड लोशन या क्रीम का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। ब्राइट साइड में, ये ऑनलाइन स्टोर के साथ-साथ सुपरमार्केट में भी आसानी से उपलब्ध है।

पोषक तत्वों से भरपूर आहार लें

आपके आहार में पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन, विटामिन सी और ओमेगा-3 फैटी एसिड शामिल होना चाहिए। शोध के अनुसार, स्वस्थ त्वचा के लिए प्रोटीन जरूरी है, और अमीनो एसिड लाइसिन और प्रोलाइन सीधे कोलेजन के निर्माण में शामिल होते हैं। विटामिन सी कोलेजन के निर्माण में मदद करता है और त्वचा को यूवी डैमेज से भी बचाता है। फैटी फिश में मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड त्वचा की कोमलता को बढ़ाने में मदद कर सकता है।

हमेशा हाइड्रेटेड रहें

अपनी त्वचा को हाइड्रेट रखने से उसे बेहतर दिखने में मदद मिल सकती है। जिन लोगों ने अपने रोज के पानी का सेवन बढ़ाया, उन्होंने त्वचा के हाइड्रेशन और कार्य में महत्वपूर्ण फायदा दिखाया। पर्याप्त पानी पीने से आपकी त्वचा की कोशिकाओं तक जरूरी पोषक तत्वों की आपूर्ति सुनिश्चित होगी, साथ ही आपकी त्वचा के लचीलेपन में सुधार होगा।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular