Home लाइफस्टाइल स्‍वाइन फ्लू से बचाव के लिए ऐसे करें रखरखाव…

स्‍वाइन फ्लू से बचाव के लिए ऐसे करें रखरखाव…

1 second read
0
921

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में स्वाइन फ्लू से मरने वालों की संख्या बढ़ती जा रही है। इस बीमारी की चपेट में शहर के आठ स्कूलों के नौ बच्चे भी आ गए हैं। अधिकारियों ने स्वाइन फ्लू से पीड़ित बच्चों के स्कूलों की जांच कराने का निर्देश दिया है। स्कूलों की जांच के लिए टीमें बनाई गई हैं। लखनऊ जिले के सीएमओ ने डीआईओएस को पत्र लिखकर बच्‍चों की सूची मांगी है।

इस बीच, ट्रॉमा सेंटर के क्रिटिकल केयर यूनिट में भर्ती एक महिला की भी सोमवार को मौत हो गई। अब तक राजधानी में स्वाइन लू से चार लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि जिले में यह संख्या आठ हो गई है। अब तक स्वाइन फ्लू के 178 मामले सामने आए हैं। इसमें चार मामले जनपद और चार राजधानी के हैं।

वहीं दिल्ली में स्वाइन फ्लू के 166 नए मामले दर्ज किए गए हैं। कुल मामलों की बात करें तो 30 जुलाई तक इनके 517 मामले आए हैं। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक चार व्‍यक्तियों को इस घातक वायरस ने अपनी चपेट में लिया है।

वहीं दिल्‍ली एनसीआर, नोएडा, गाजियाबाद, गुड़गांव के सरकारी और निजी अस्‍पतालों में स्‍वाइन फ्लू के नए मामले सामने आए हैं। हालांकि, विशेषज्ञों की मानें तो इस बीमारी को लेकर ज्‍यादा परेशान होने की जरूरत नहीं है। बल्कि इसके लिए बचाव करने की जरूरत है।

स्‍वाइन फ्लू में क्‍या करें न करें

1 खांसते या छीकतें समय मुंह पर हाथ या रूमाल रखें।
2 खाने से पहले साबुन से हाथ धोयें।
3 मास्क पहन कर ही मरीज के पास जायें।
4 साफ रूमाल में मुंह ढके रहें।
5 खूब पानी पियें व पोषण युक्त भोजन करें।
6 मरीज से कम से कम एक हाथ दूर रहें।
7 भीड़-भाड़ इलाकों में न जाये।
8 साफ-सफाई पर विशेष ध्यान रखें।

Load More Related Articles
Load More By admin
Load More In लाइफस्टाइल

Check Also

Roadmap to install air purifier towers in Delhi, no permanent solution to noise pollution – Supreme Court: दिल्ली में एयर प्यूरीफायर टावर लगाने का बने रोडमैंप, आॅड ईवन प्रदूषण का कोई स्थायी समाधान नहीं- सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट प्रदूषण पर बेहद सख्त है। सुप्रीम कोर्ट सुनवाई करते हुए कहा कि ने …