Home लाइफस्टाइल बारिश के मौसम में लेंगे यह आहार, तो नहीं होगी पेट संबंधी बीमारियां

बारिश के मौसम में लेंगे यह आहार, तो नहीं होगी पेट संबंधी बीमारियां

6 second read
0
576

बारिश के मौसम में सही से आहार नहीं लेने के कारण पेट संबंधी बीमारी होने की संभावना ज्यादा होती है। विशेषज्ञों का कहना है कि कोई भी अपने दैनिक आहार में परिवर्तन कर स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं को कम कर सकता है। इसलिये पेट संबंधी संक्रमण से बचने के लिए हम आपको यहां कुछ सुझाव दे रहे है….

1- भोजन में लहसुन, काली मिर्च, अदरक, हींग, जीरा पाउडर, हल्दी और धनिया को शामिल करें क्योंकि ये पाचन बढ़ाने में मदद करते हैं और प्रतिरक्षा में सुधार करते हैं।

2- बारिश के मौसम में उबला पानी पिएं क्योंकि पानी में रोगाणु मौजूद होते हैं। कम नमक वाला आहार लें और ज्यादा नमक वाले भोजन के सेवन से बचें क्योंकि ये ब्लड प्रेशर (उच्च रक्तचाप) बढ़ा सकते हैं, सूजन बढ़ा सकते हैं।

3- मांसाहारी खाने वोल लोग धीमी आंच पर सही से पका हल्के मीट या सूप का सेवन कर सकते हैं, लेकिन मछली और झींगा के सेवन के समय सावधानी बरतें। इस मौसम में हैवी करी के साथ ज्यादा मछली और मीट खाने से बचें।

4- आहार में गर्म दाल या सूप शामिल करें। हल्दी, लौंग, काली मिर्च और सौफ जैसे मसालों का खाना बनाने में इस्तेमाल करें।

5- मानसून के दौरान सूप का सेवन सूजन कम करता है और संक्रमण से लड़ने में मदद करता है।

6- कच्चे फलों और सब्जियों का सेवन करने से बचें, जैसे-स्प्राउट। इससे अपच और गैस की समस्या हो सकती है।

7- हल्दी न सिर्फ एक बढ़िया एंटीबायोटिक होता है, बल्कि सूजन भी कम करता है। यह वास्तव में पाचन तंत्र में सूजन कम करने में मददगार साबित होता है।

8- सौफ को खाना खाने के बाद लिया जा सकता है, यह भोजन पचाने में मदद करता है और गैस संबंधी समस्याओं की संभावना को कम करता है।

Load More Related Articles
Load More By admin
Load More In लाइफस्टाइल

Check Also

Roadmap to install air purifier towers in Delhi, no permanent solution to noise pollution – Supreme Court: दिल्ली में एयर प्यूरीफायर टावर लगाने का बने रोडमैंप, आॅड ईवन प्रदूषण का कोई स्थायी समाधान नहीं- सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट प्रदूषण पर बेहद सख्त है। सुप्रीम कोर्ट सुनवाई करते हुए कहा कि ने …