Homeलाइफस्टाइलआंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए अपनाएं ये उपाय...

आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए अपनाएं ये उपाय…

आजकल की भागदौड़ और तनाव भरी जिंदगी का सीधा असर हमारी आंखों पर पड़ रहा है। व्यस्त लाइफस्टाइल के चलते आजकल के लोगों के पास ना तो समय पर खाना खाने का समय है और ना ही अपनी फिटनेस पर ध्यान देने का समय है। हद से ज्यादा फोन, कम्प्यूटर, टैबलेट और टीवी का इस्तेमाल करना हमारी आंखों के जल्दी खराब होने के सबसे बड़ा कारण है। यही वजह है कि आजकल युवाओं के साथ ही छोटे-छोटे बच्चे के भी चश्मे लगे हुए हैं। क्या आप जानते हैं कि बढ़ती उम्र के साथ हमारी आंखों के आसपास की मांसपेशियां ढीली पड़ने लगती हैं, जिसका सीधा असर हमारी आंख की नजर पर पड़ता है। देखा जाए तो आंखों की रोशनी का सीधा संबंध हमारे आहार और लाइफस्टाइल से है। आज हम आपको इस लेख में आंखों की रोशनी बढ़ाने के कुछ आसान और कारगार उपाय बता रहे हैं। साथ ही ये भी बता रहे हैं कि हमें ऐसा क्या नहीं करना चाहिए जिससे हमारी आंखें खराब होती हैं।

आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए क्या करें?

  • सुबह उठकर मुंह में पानी भरें और फिर ठण्डा पानी अपनी आंखों पर मारे। ध्यान रहे कि आंखों पर पानी मारते वक्त आंखें खुली हों। ऐसा करने से हमारी आंखों को बहुत फायदा मिलता है।
  • रोज सुबह हरी घास पर 15 से 20 मिनट तक नंगे पांव चलना चाहिए। घास पर ओस की नमी रहती है और नंगे पांव इस पर टहलने से आंखों की रोशनी बढ़ती है और तनाव से मुक्ति मिलती है।
  • पैरों के तलवे पर सरसों के तेल से मालिश करने में आंखों को गजब का फायदा मिलता है। साथ ही नहाने से पहले पैर के अंगूठे को सरसों के तेल में तर करने से भी आंखों को बहुत लाभ मिलता है।
  • पालक, हरी सब्जियां और पत्तेदार सब्जियां और पीले फल खाएं। विटामिन ए, विटामिन सी और विटामिन ई से भरपूर आहार हमारी आंखों के लिए बहुत अच्छे होते हैं।
  • रोजाना 1 कच्चा आंवला खाएं और ज्यादा से ज्यादा पानी पीएं।

    क्या ना करें

  • आजकल बालों को रंगने का ट्रेंड खूब चलन में है। भारी संख्या में लोग आजकल अपने बालों में कलर कर रहे हैं। जबकि ऐसा भूलकर भी नहीं करना चाहिए। कलर में कई ऐसे कैमिकल्स होते हैं जिनका सीधा असर हमारी आंखों पर पड़ता है।
  • कम्प्यूटर के आगे बिना चश्मा लगाए बैठने से हमारी आंखों को काफी नुकसान होता है। इसलिए जब भी सिस्टम पर बैठें हल्के ग्लास का चश्मा लगाएं।
  • रात के अंधेरे में कभी फोन का इस्तेमाल ना करें।
  • ज्यादा मिर्च मसाला, फास्टफूड और दूषित खाने से परहेज रखना चाहिए।
  • अगर कोई बात सोचने से आपके अंदर नकारात्मक विचार आते हैं या किसी चीज के बारे में सोचने से आपके सिर में दर्द होता है, तो उस पर कुछ दिनों के लिए विचार करना बंद कर दें।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular