Home खास ख़बर Unique case – Supreme Court issued notice itself … Learn why the Supreme Court got a notice: अनोखा मामला-सुप्रीम कोर्टने खुद को ही जारी किया नोटिस…जानेंक्यों सुप्रीम कोर्ट को मिला नोटिस

Unique case – Supreme Court issued notice itself … Learn why the Supreme Court got a notice: अनोखा मामला-सुप्रीम कोर्टने खुद को ही जारी किया नोटिस…जानेंक्यों सुप्रीम कोर्ट को मिला नोटिस

0 second read
0
13

सुप्रीम कोर्ट में कई मामले निर्णय के लिए आते हैं। देश की सर्वोच्च अदालत कई जटिल याचिकाओं पर भी सुनवाई कर उस पर निर्णय दे चुकी हैलेकिन सर्वोच्च न्यायाल में एक अनोखा मामला सामने आया है जिसमें शीार्ष अदालत ने खुद को ही नोटिस जारी किया है। यह नोटिस सर्वोच्च न्यायालय ने उत्‍तर प्रदेश के कुछ न्‍यायिक अधिकारियों द्वारा सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाकर खुद को हाई कोर्ट का जज न बनाए जाने पर सवाल उठाने के संबंध में जारी किया है। गौरतलब है कि अदालत उत्तर प्रदेश के कुछ न्यायिक अधिकारियों की याचिका पर सुनवाई कर रही थी। इस याचिका में चीफ जस्टिस आॅफ इंडिया के नेतृत्‍व वाले कॉलेजियम के जरिए उनके नामों की अनुशंसा इलाहाबाद हाई कोर्ट के लिए नहीं करने पर सवाल उठाए गए थे। सुनवाई के दौरान प्रधान न्‍यायाधीश शरद अरविंद बोबडे ने कहा कि ‘मैंने अपनी जिंदगी में किसी को सुप्रीम कोर्ट आकर यह कहते हुए नहीं देखा कि मुझे हाई कोर्ट का जज बना दो।’ हालांकि सुप्रीम कोर्ट की पीठ इस मामले की सुनवाई को तैयार हो गई और अपने ही सेक्रेटरी जनरल, केंद्र सरकार और अन्य लोगों को नोटिस जारी किया। उच्चतम न्यायालय नेअपनी टिप्पणी मे ंकहा कि यह अनुचित है कि कोई यह कहेकि वह उच्च न्यायालय का न्यायाधीश बनाया जाना चाहिए। पीठ ने कहा कि कोई भी यह कहकर उच्च न्यायालय का न्यायाधीश नहीं बन सकता कि वह बनना चाहता है। पीठ ने इस मामले में फिर से विचार के लिये दायर याचिका पर चार सप्ताह के भीतर जवाब मांगा है।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In खास ख़बर

Check Also

Skilling, reskilling and upskilling is the biggest need of the hour: PM: स्किलिंग, रिस्किलिंग और अपस्किलिंग समय की सबसे बड़ी जरूरत है: प्रधानमंत्री

स अवसर पर प्रधानमंत्री ने कहा कि मैसूर विश्वविद्यालय प्राचीन भारत की समृद्ध शिक्षा व्यवस्थ…