Home राज्य अन्य राज्य Rajasthan politics- Speaker of Rajasthan Legislative Assembly CP Joshi withdraws his petition from the Supreme Court: राजस्थान सियासत- राजस्थान विधानसभा के स्पीकर सीपी जोशी ने उच्चतम न्यायाल से वापस ली अपनी याचिका

Rajasthan politics- Speaker of Rajasthan Legislative Assembly CP Joshi withdraws his petition from the Supreme Court: राजस्थान सियासत- राजस्थान विधानसभा के स्पीकर सीपी जोशी ने उच्चतम न्यायाल से वापस ली अपनी याचिका

0 second read
0
21

राजस्थान की राजनीति में बदलाव का धटनाक्रम लगातार जारी है। एक के बाद एक नई धटनाएं सामने आ रहीं है। अब राजस्थान के विधानसभा स्पीकर ने सचिन पायलट ग्रुप की हाईकोर्ट में दायर याचिका के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में पहल की थी। लेकिन अब स्पीकर सीपी जोशी ने सुप्रीम कोर्ट मेंदायर अपनी याचिका वापस ले ली है। बता दें कि आज ही सुबह राजस्थान में राजभवन ने अशोक गहलोत के द्वारा राज्यपाल को दिए गए विधानसभा का सत्र बुलाने के प्रस्ताव को संसदीय कार्य विभाग को लौटा दिया गया। बता दें कि सचिन पायलट और उनके समर्थकों द्वारा राजस्थान हाई कोर्ट मे दायर याचिका में कोर्ट ने स्पीकर को सचिन पायलट और 18 अन्य कांग्रेसी विधायकों को जारी अयोग्यता के नोटिसों पर अपना फैसला टालने के लिए कहा था। सुप्रीम कोर्ट में सीपी जोशी का पक्ष रख रहे वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल ने कोर्ट को बताया कि राजस्थान हाई कोर्ट ने 24 जुलाई को एक नया आदेश पारित किया, जिसमें 10 वीं अनुसूची की व्याख्या सहित कई अन्य मुद्दे उठाए गए थे। सिब्बल ने कहा कि वे कानूनी विकल्पों की तलाश करेंगे। साथ ही यह भी कहा कि शुक्रवार के हाई कोर्ट के आदेश को चुनौती दी जा सकती है। बता दें कि आज सुबह ग्यारह बजे राजस्थान के पूर्व उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट के गुट की याचिका पर हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में दायर अर्जी पर सु नवाई होनी थी। विधानसभा स्पीकर सीपी जोशी ने शिकायत की थी कि हाई कोर्ट का आदेश उसके अधिकार क्षेत्र में नहीं आता है। उनकी याचिका पर आज तीन जजों की बेंच ने सुनवाई करनी थी। उससे पहले सीपी जोशी ने याचिका वापस ले ली।

Load More Related Articles
Load More By Aajsamaaj Network
Load More In अन्य राज्य

Check Also

Possible consideration for cancellation of suspension only after seeking apology for its conduct: अपने आचरण के लिए मांफी मांगने पर ही निलंबन रद्द किए जाने पर विचार संभव

नई दिल्ली। उच्च सदन की कार्यवाही का विपक्ष की पार्टियों नेबहिष्कार किया है। उच्च सदन में व…